घर में एक दाना नहीं था, लाचार महादलित बाप ने 3 मासूम के साथ जहर खाया, एक बच्चा की मौत | Nalanda Darpan

घर में एक दाना नहीं था, लाचार महादलित बाप ने 3 मासूम के साथ जहर खाया, एक बच्चा की मौत

Share Button

 नालंदा जिले के राजगीर नगर पंचायत क्षेत्र में गरीबी और सरकारी उपेक्षा के शिकार एक महादलित परिवार के मुखिया उमेश कंजर द्वारा अपने तीन बच्चों के साथ जहर खाकर अपनी जीवन लीला खत्म करने की कोशिश की है। ईलाज के दौरान एक बच्चे की मौत हो गई है। मुखिया की हालत गंभीर बताई जा रही है। अन्य दो बच्चों की हालत में सुधार बताया जा रहा है।

खबर है कि राजगीर थाना के सामने बीएसएनएल ऑफिस के पास करीब दो दशक से झुग्गी-झोपड़ी बनाकर रह रहे उमेश कजंर ने अपने अपने 3 बच्चों (सभी लड़का) को जहर खिलाने के उपरांत खुद भी खा ली। जिसकी भनक मिलते ही परिजनों एवं पड़ोसियों ने सबों को ईलाज के लिए राजगीर सदर अस्पताल ले गए। वहां ईलाज के दौरान एक बच्चा की मौत हो गई।

इसके बाद राजगीर सदर अस्पताल के चिकित्सक उमेश चन्द्रा ने अस्पताल में ईलाज करने से इन्कार कर दिया और उसे रेफर करने के बजाय अपने नीजि क्लीनिक में ले चलने को कहा। जहां समाचार लेखन तक ईलाज जारी है।

परिजनों, पड़ोसियों एवं जानकारों की माने तो उमेश कंजर लोढ़ी-सिलोटी कूटने का कार्य करता आ रहा है। इधर हाल के दिनों में उसका धंधा काफी मंदा हो गया था। उसे खाने के लाले पड़ गए थे। महादलित होने के बाबजूद उसे कोई सुविधा नहीं मिल रही थी।

इधर कुछ दिनों से उसके घर में खाने के लिए अनाज का एक दाना भी नहीं था। आस-पड़ोस से मांग-चांग कर अपने बच्चों के किसी तरह पेट की आग बुझा रहा था। लेकिन वह इस तरह कब तक जीवन यापन करता। अंततः उसने बच्चों समेत अपनी जीवन लीला खत्म करने की मंशा से जहर खा ली।

411

Related posts:

दशरथ मांझी शिक्षण संस्थान में पूर्व मुख्यमंत्री ने किया झंडोतोलन
बिहारशरीफ में ऐसे अस्पताल के डॉ. धरती के 'भगवान' हैं या 'यमराज'
नालंदा एसपी के बड़ा कारनामाः सरेंडर को यूं मनगढ़ंत कहानी बनाया
थरथरी से चोरी ट्रैक्टर चंडी में बरामद, 2 बाइक भी छोड़ भागे चोर
ई चंडी सीओ तो बड़ा नमूना निकला, बोला- ‘नदी में कोई घर बना ले, तेरा क्या जाता है’
राजगीर में HDFC का ATM तोड़ने का प्रयास
यूं साष्टांग पंचांग करते राजगीर पहुंचे संगते तेजी
संत रविदास की मूर्ति को लेकर गांव में तनाव, पुलिस कर रही कैंप
पेड़ से टकराई स्कूटी, सवार शिक्षक की मौत
नगरनौसा थानाध्यक्ष को शराब की तलाशी लेना पड़ा महंगा, एसपी से हुई झूठी शिकायत
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: @सर्वाधिकार सुरक्षित