आपसी वर्चस्व की जंग में गोलियों की तड़तड़ाहट से गूंज उठा हरनौत का तीरा गांव, दहशत | Nalanda Darpan

आपसी वर्चस्व की जंग में गोलियों की तड़तड़ाहट से गूंज उठा हरनौत का तीरा गांव, दहशत

Share Button

“..तभी वर्तमान मुखिया के समर्थक अचानक आकर मारपीट व गोली चलाने लगे। जिसमें राणा उदय सिंह, अभिषेक कुमार, जैकी कुमार घायल हो गए…”

नालंदा दर्पण। बीते रविवार की रात करीब दस बजे हरनौत थाना के चेरो के तीरा गांव गोलियों की तड़तड़ाहट से पूरा गांव गूंज उठा। ग्रामीण लोग दहशत के मारे अपने अपने घरों नें ही दुबके रहे। यहां नेहुसा पंचायत में उपचुनाव के बाद दो पक्षों में आपसी तनातनी बरकरार है।

ग्रामीणों की मानें तो इस गोलीबारी में कम से कम सौ राउंड से अधिक गोली चली है। हालांकि इस घटना में किसी को गोली लगने की सूचना नहीं है।

ग्रामीण राणा उदय सिंह बताते हैं कि मतदान शांतिपूर्ण ढंग से हुई है। देर रात में राणा उदय सिंह के समर्थक दालान में एक ही साथ  बैठकर चुनाव को लेकर चर्चा कर रहे थे।

तभी वर्तमान मुखिया के समर्थक अचानक आकर मारपीट व गोली चलाने लगे। जिसमें राणा उदय सिंह, अभिषेक कुमार, जैकी कुमार घायल हो गए।

उन्होंने बताया कि वर्चस्व की लड़ाई में गोलीबारी का अंजाम दी गई है। घटना की सूचना मिलते ही चेरो ओपी पुलिस दल बल के साथ मौके पर पहुंची।

थानाध्यक्ष पवन कुमार ने बताया कि चुनाव शांतिपूर्ण ढंग से सम्पन्न हो गई थी। दोनों पक्षों के उमीदवार मैदान में थे। आपसी रंजिश या वर्चस्व को लेकर वर्तमान मुखिया प्रेम प्रकाश सिंह उर्फ घनश्याम मुखिया के समर्थकों की ओर से गोली चलाई गई है।

प्राथिमिकी दर्ज कर आरोपियों की धर पकड़ के लिये छापेमारी जारी है। घटना में तीन लोग घायल हुए हैं।

उन्होंने बताया कि घटनास्थल से पुलिस के द्वारा 3.15 बोर का सोलह खाली गोली का खोंखा बरामद किया गया। साथ ही किसान भवन कार्यालय से 3.15 का तीन जिंदा कारतूस भी बरामद की गई है।

घटना के बाद ग्रामीणों में काफी दहशत है। ग्रामीणों के मुताबिक किसी बड़ी घटना होने का भी संकेत करते हैं। वर्तमान मुखिया पर आरोप लगाते हुए ग्रामीण धर्मेंद्र सिंह, हरेंद्र सिंह आदि ने बताया कि वर्तमान मुखिया के द्वारा दर्जनों घर का रास्ता जबरदस्ती बंद कर दी गई है। जिसके कारण ये लोग दूसरे के घर से होकर आना जाना करते हैं।

उन्होंने कहा कि सभी सरकारी भवन सामुदायिक भवन, किसान प्रशिक्षण भवन ,किसान भवन को निजी प्रयोग के लिये कब्जा कर रखें हैं, जिससे आम जनता त्रस्त है।

157
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: @सर्वाधिकार सुरक्षित