25 हजार के सिक्के लेकर पहुंचे बसपा प्रत्याशी, नजारत को गिनने में छूटे पसीने

Share Button

बिहारशरीफ (नालंदा दर्पण)। नालंदा लोकसभा सीट के लिए नामांकन दाखिल करने की प्रक्रिया शुरू हो चुकी है। नामांकन पत्र दाखिल करने को लेकर नामांकन पर्चा खरीदने में विभिन्न राजनीतिक दलों के प्रत्याशी लगें हुए हैं ।

बुधवार को नालंदा लोकसभा से बसपा के टिकट पर चुनाव लड़ने की तैयारी में जुटे उम्मीदवार शशि कुमार अपने नामांकन पर्चा खरीदने पहुँचे हुए थे। हर कोई पर्चा खरीदने पहुँचता है, लेकिन शशि कुमार समाहरणालय में आकर्षण का केंद्र बने रहे ।

बसपा प्रत्याशी शशि कुमार जमानत की राशि जमा करने के लिए एक दो एवं 5  रुपए का सिक्का लेकर समाहरणालय के नजारत (निर्वाचन शाखा) में पहुंच गए। झोले में रखें सिक्के समाहरणालय के कर्मचारियों के लिए कौतूहल बन गया।

25000 रुपए की जमानत राशि के रूप में लाए गए सिक्कों को गिनने में नजारत शाखा के कर्मचारियों को इस गर्मी में और पसीने छूट गए। सिक्के की खनक पूरे समाहरणालय में सुनाई पड़ रही थी।

पूरा सिक्के का मिलान करने में 2 घंटे से अधिक घंटे का समय लगा। जमानत की राशि में 25 हज़ार रुपैया जमा करना है, इसके लिए प्रत्याशी ने सिक्का जमा कराया।

सिक्का जमा करने के पीछे उन्होंने तर्क दिया की सिक्कों पर अघोषित प्रतिबंध है। दुकानदार से लेकर बैंक तक भारतीय मुद्रा को लेने में आनाकानी करते है। जिससे  भारतीय मुद्रा का अपमान होता है।

बसपा प्रत्याशी शशि का कहना है कि उन्होंने लोगो से चंदा करने का काम किया और लोगो ने आशीर्वाद स्वरूप सिक्का प्रदान किया। जिसे आज नामांकन का पर्चा खरीदने के काम आ गया।

हालांकि नामांकन का पर्चा के लिए सिक्का मिलने के बाद अधिकारियों के भी पसीने छूट गए। लेकिन वे भी भारतीय मुद्रा को लेने से इन्कार नहीं कर सकते थे। मजबूरन उन्हें यह पैसा लेना पड़ा।

बुधवार तक 24 लोगों ने नामांकन पत्र खरीदा है। नामांकन पत्र दाखिल करने की आखिरी तिथि 29 अप्रैल है।

Share Button

Related News:

मैरा बरीठ में पानी को लेकर त्राहिमाम, रहा न कोई देखनहारा
तीना चालक हत्याकांड में 3 अज्ञात के साथ होटल मालिक पिता-पुत्र पर प्राथमिकी !
पुलिस ने एक अवैध छड़ कारोबारी को दबोच फिर की खानापूर्ति
गंगा स्नान करने जा रही महिला को बस ने कुचला, मौत, बाइक चालक गंभीर,हिलसा-फतुहा मार्ग जाम
नगरनौसा में भाजपा ने चलाया सघन सदस्यता अभियान
वोटिंग खत्म के साथ ही बदमाशों का बोलबाला
जिला जज ने बिहार शरीफ पर्यवेक्षण गृह निरीक्षण के दौरान जल जमाव पर जताई चिंता
4व्हीलर न मिला तो ससुराल वालों ने 5 साल बाद रुबी को गला दबाकर मार डाला!
चंडी थाना की सुरक्षा ऐसी कि आरोपी वितंतु रुम से भाग गया, भनक तलाश रही पुलिस
मुंडन कराने देवघर जा रही टाटा मैजिक गढ्ढे में पलटी, महिला-बच्चे समेत 10 जख्मी, 3 रेफर
बिहार:गरीबों को टरकाते हैं हिलसा अनुमंडल के पदाधिकारी
550वां प्रकाश पर्व पर 27-29 दिसंबर को होगी ये विशेष व्यवस्था
चुनावी रंजिश में घर पर की रोड़ेबाजी, गोलीबारी और मारपीट, आधा दर्जन घायल, तनाव
नदी में डूबने से सपेरा पुत्र की मौत, सरकारी मुआवजा की मांग
शासन की हस्तक्षेप से उपद्रवियों की मंशा पर फिरा पानी
डी.एम.का जनता दरबार या मजाक?खुद डी.एम.संजय कुमार अग्रवाल ही घुमावदार नज़र आता है!
नालन्दा:शैक्षणिक चेतना का प्रमुख पर्यटन स्थल
छठ घाट में डूबने से बालक की मौत, प्रशासन ने दिए 4.20 लाख
आईसीडीएस की बैठक में खुली आंगनबाड़ी केन्द्रों की पोल, दर्जन भर सीडीपीओ नपे
दो बड़े सरकारी आयोजन, लेकिन देखिए सड़क निर्माण का हाल
बेन ईलाके में इस बार त्रिकोणीय मुकाबले में फंसे राजग प्रत्याशी
मुआवजा को लेकर लोगों ने घंटो NH 30A जाम कर की खुली गुंडई, पुलिस बनी रही मूकदर्शक
डीजीपी के आश्वासन के बाद पत्रकार मुकेश का आमरण अनशन खत्म, एसपी ने पिलाया जूस
बिफरे मांझी- यहां लॉ एंड ऑर्डर फेल, पुलिस हाजत में महादलित नेता की हत्या की उठाएंगे आवाज

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading...

You may have missed

Don`t copy text!
» पुलिस ने पकड़ी 3 वाहन समेत शराब की बड़ी खेप, लेकिन कारोबारी फरार   » 550वां प्रकाश पर्व पर 27-29 दिसंबर को होगी ये विशेष व्यवस्था   » नेहरू युवा केंद्र द्वारा पंडितपुर में फुटबॉल प्रतियोगिता, उदय क्लब ने आजाद युवा को 2-0 से हराया   » इसलामपुर में 35 कार्टून अंग्रेजी शराब बरामद, ट्रैक्टर टेलर व ट्वेटा वाहन जप्त, 2 धराए   » नंदकिशोर महिला इंटर कॉलेज में 6.06 लाख की गबन का FIR दर्ज   » स्कूली बच्चों के भोजन में मृत बिच्छू ! लापरवाही या साजिश? जांच का विषय   » निगरानी डीएसपी ने थरथरी प्रखंड आवास सहायक को 10 हजार घूस लेते रंगे हाथ यूं दबोचा   » राजगीर नगर पंचायतः पूर्व पार्षद की शिकायत पर प्रधानमंत्री कार्यालय ने मुख्य सचिव से मांगी जांच रिपोर्ट   » कोर्ट के आदेश की अवहेलना- ‘लापरवाह जेलर हाजिर हो’   » पर्यवेक्षण गृह नहीं, पाठशाला !