इस्लामपुर उप डाकघर में हालात बेकाबू, दशहत में कर्मी, पुलिस वेवश, प्रशासन बेफिक्र

नालंदा दर्पण। इस्लामपुर प्रखंड मुख्यालय स्थित उप डाकघर में कथित प्रधानमंत्री योजना  बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ योजना के फर्जी फार्म निबंधित जमा करने वालों की दो दिन पहले से उमड़ी भीड़ आज बेकाबू दिख रही है। जहां एक तरफ वहां कार्यरत डाककर्मी भीड़ के आगे काफी दहशत में दिख रहे हैं, वहीं स्थानीय पुलिस-प्रशासन की कार्यशैली व संवेदनशीलता पर सवाल खड़े हो गए हैं।

आज 1 मई को भी य़हां सुबह से ही बेटी पढ़ाओ बेटी बचाओ की फर्जी फार्म जमा करने की भीड़ लग गई और पोस्ट ऑफिस खुलते ही अफरातफरी मच गई।

डाकपाल के लाख समझाने एवं मना करने के बाबजूद लोग हर हाल में अपनी फार्म निबंधित कराने पर उतारु है। यहां भीड़ के कारण कॉउंटर पर लगे शीशे  क्षतिग्रस्त हो गए हैं।

पोस्टमास्टर संजय कुमार ने बताया कि फार्म जमा करने वालों की वेकाबू भीड़ को मद्देनजर स्थानीय थाना पुलिस से कल की भांति आज भी सुरक्षा इंतजाम की मांग की गई है। कल यहां एक ग्रामीण आरक्षी को दिया गया था और आज भी वहीं व्यवस्था की गई है। 

श्री कुमार का कहना है कि वे निबंधित फार्म जमा लेने को वाध्य हैं। दो लाख रुपए इस योजना का लाभ 8 से 32 वर्ष की महिला को मिलेगा। लेकिन  कब तक इस योजना का फार्म जमा लेना है। 

इसका अंतिम तिथि के बारे में विभाग के द्वारा जानकारी नहीं दिया गया है। इस मौके पर डाककर्मी सुनीता कुमारी, अरुण कुमार, विभुती कुमार, कामता राम,नगीना पंडित,आदि लोग मौजुद थे।

उधर इस्लामपुर थानाध्यक्ष शरद कुमार रंजन ने बताया कि उन्हें उप डाकघर कर्मियों की ओर से सुरक्षा की लिखित मांग की गई है और उन्होंने यथासंभव सुरक्षा उपलब्ध करा दिया है। आगे जहां लागू आदर्श चुनाव संहिता और इस तरह की अफरातफरी की बात है तो सीओ-बीडीओ यदि साथ रहेंगे तो ही कुछ किया जा सकता है, क्योंकि पुलिस को भीड़ किस रुप में लेती है, जानते ही हैं।

इधर बीडीओ राजेश प्रियदर्शी पायरट ने कहा कि यह सब कोई फर्जीबाड़ा कर रहा है। सरकार की ऐसी कोई योजना नहीं चल रही है। विशेष वे पता कर आगे कुछ बता सकते हैं।

वहीं सीओ नलीन विनोद पुष्पराज ने कहा कि अभी वे हाई कोर्ट आए हुए हैं और उन्हें इस मामले की कोई जानकारी नहीं है। थानाध्यक्ष से संपर्क कर जानकारी लेते हैं।   

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here