नांलदा दर्पण। बेन थाना क्षेत्र के मुरगावां गांव निवासी लाल बिहारी केवट का पुत्र गोलू कुमार उम्र 14 वर्ष जो 29 अप्रैल को घर के नजदीक ही किसी वाहन पर चढ़कर अन्यत्र चला गया था। जब पुत्र शाम तक घर नही लौटा तो परिजनों ने काफी खोजबीन किया। नही मिलने  इसकी सूचना तुरंत बेन थाने को दी।

थानाध्यक्ष पिंकी प्रसाद ने बताया कि इस लड़का की खोज में पुलिस बल को लगाया गया है, लेकिन बुधवार को घर वालों ने थाने में सूचना दी कि मेरा बेटा दिल्ली चला गया है, जहां उसके पिता लाल बिहारी केवट काम करते थे।

जब बेटा का लापता होने की खबर पिता को मिला तो पिता ने दिल्ली पहुंचने वाली सभी ट्रेनों का इंतजार कर पुत्र की खोज में लग गए, उतना ही में बुधवार को दिल्ली पहुचने वाली ट्रेन जब प्लेटफार्म पर रुकी तो टकटकी लगाए  पिता ने लापता पुत्र को उतरते देखा।

फिर  उसे अपने कब्जे में लिया और इसकी सूचना घरवालों को दी। फिर घर वालों ने अपने पुत्र का मिल जाने की खबर स्थानीय थाने को दिया। परिवार वाले का रो रो कर बुरा हाल था, अब घरों में खुशी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here