हिलसा में गरजे तेजस्वी- स्वार्थहित में जनहित को भूल जाते हैं ‘पलटू चाचा’

“बिहार में शराबबंदी कानून बड़े माफियाओं और कारोबारियों के लिए कमाई का सबसे बड़ा जरिया बन गया है। शराबबंदी कानून लागू होने के बाद बिहार में शराब तो बंद नहीं हुआ लेकिन हजारों गरीब जरुर जेल के अंदर बंद हो गया…”

नालंदा दर्पण (धर्मेंद्र)। लोकसभा चुनावी मैदान में किस्मत आजमा रहे हम के प्रत्याशी अशोक कुमार आजाद के पक्ष में मंगलवार को प्रचार करने हिलसा पहुंचे प्रतिपक्ष के नेता तेजस्वी यादव के निशाने पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार रहे।

चुनावी सभा को संबोधित करते हुए प्रतिपक्ष के नेता ने कहा कि राजद के राष्ट्रीय अध्यक्ष लालू यादव को एक साजिश के तहत फंसाया गया और पूरे परिवार को तरह-तरह से तंग किया जा रहा है। इसकी पुष्टि पिछले दिनों मुख्यमंत्री  के उस वयान से होता है, जिसमें कहा गया कि अब लालू जी जेल से निकलने वाले नहीं।

नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि नियोजित शिक्षकों की मांग पूरी नहीं करके मुख्यमंत्री ने अच्छा नहीं किया। हमारी सरकार बनी तो हम नियोजित शिक्षकों को उनका बाजिव हक जरुर देंगे।

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री श्री कुमार को पलटू चाचा की संज्ञा देते हुए कहा कि ये स्वार्थहित में जनहित को भूल जाते हैं। महागठबंधन से नाता तोड़ पलटू चाचा का एनडीए में होना इसका जीता-जागता उदाहरण है।

उन्होंने ऐसे स्वार्थियों को सबक सिखाने के लिए एकजुट होकर महागठबंधन प्रत्याशी के पक्ष में वोट करने का आवाह्न किया।

इस मौके पर हिलसा के विधायक अत्रीमुनी उर्फ शक्ति सिंह यादव एवं सोनपुर के विधायक रामानुज, हम के प्रत्याशी अशोक कुमार आजाद, विनोद यादव, प्रमोद सिंह, नवल यादव आदि मौजूद थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here