जदयू प्रत्याशी के दबाव में जिला भाजपा अध्यक्ष ने लिया फैसला :राजेश सिंह

Share Button

नालंदा दर्पण (रंजीत)। बेन भाजपा अध्यक्ष को नालंदा लोकसभा क्षेत्र के जदयू प्रत्याशी कौशलेंद्र कुमार का विरोध करना महंगा पड़ा है। पार्टी से निष्कासन की सूचना मिलते हीं वे आग बबूला हो उठे हैं।

उन्होंने दूरभाष पर बताया कि बीजेपी अपनी स्वार्थ  और निजी जात की पार्टी है। जो बिना कारण  पूछे पार्टी से निष्कासित करने का निर्णय लिया। जबकि राजग गठबंधन का कार्यालय के उद्घाटन के समय कार्यालय में पार्टी के समर्थन में थे। फिर क्या औचित्य बना कि उन्हें पार्टी से निष्कासित किया गया।

उन्होंने अपने निष्कासन का पुरजोर विरोध करते कहा कि बड़ी मछली छोटे मछली को खा जाता है। यह कहावत चरितार्थ हो रहा है। जब सांसद महोदय जीत कर चले जाते है, उसके बाद भाजपा कार्यकर्ताओं की पूछ 5 वर्ष तक नही किया जाता है।

श्री सिंह ने कहा कि उस समय जिला भाजपा के वरीय पदाधिकारी कहां रहते है। क्यों नही सांसद को पार्टी से निकाला जाता है। इस तरह की कार्रवाई समूचे पार्टी को आहत करने वाली है। इसका वे मुंहतोड़ जबाव देंगे।

Share Button
READ  चुनावी रंजिशः पोलिंग एजेंट बने जदयू नेता और उनकी पत्नी को बदमाशों ने पीटा, पैसे-आभूषण भी छीने  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading...

You may have missed

Don`t copy text!
» हार्स ट्रेडिंग के बीच बिहार शरीफ उप महापौर के खिलाफ आज अविश्वास प्रस्ताव की संभावना   » हिलसा के बजरंग बली ने ली अंतिम सांस   » छिटपुट बारिश में ही इस्लामपुर नगर बन गया यूं नरक   » बेउर जेल से पुलिस को दारु पिला हुआ फरार, फिर नालंदा से आकर रांची में कर डाला ‘निर्भया कांड’   » बिहार शरीफ अस्पताल में देखिए पुलिस की मौजूदगी में हुई कैसी बड़ी नौटंकी   » बिहार शरीफ नहीं जनाब, यहां सिर्फ लुटेरे अफसर-ठेकेदार बन रहे हैं स्मार्ट   » यूं साईबर ठगी का शिकार का शिकार हुआ नालंदा पुलिस का जवान, सुनिए ऑडियो   » 50 हजार की रिश्वत लेते सहयोगी समेत निगरानी के हत्थे चढ़ा रहुई का सर्वेयर अमीन   » हटिया एक्सप्रेस से कटकर एक अज्ञात अधेड़ की मौत   » बेन में सर्प दंश से एक महिला की मौत