“ट्रैक्टर चालक अपनी रफ्तार और गाना बजाना नहीं छोड़ रहे हैं। गाना बजा कर चलने वाला चालक का ध्यान सड़क पर नहीं गाने पर रहता है। जिससे अक्सर ऐसी घटनाएं होती रहती है….”

नालंदा दर्पण (रंजीत)। बेन थाना के मुरगावां गांव के पास एक स्कूली छात्र को एक अनियंत्रित टैक्टर ने रौंद डाला, जिससे उसकी घटनास्थल पर ही मौत ह गई। इस हादसे के बाद लोगों में काफी आक्रोश देखा जा रहा है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार कृपा गंज निवासी अनिल सिंह का 11 वर्षीय पुत्र शुभम कुमार रोज की तरह 4-5 साथियों के साथ अपने गांव से पढ़ने मुरगावां स्कूल जा रहा था कि परवलपुर से मुरगावां की ओर तीव्र गति से आ रहे ट्रैक्टर ने उसे रौंद डाला, जिससे मौके पर छात्र की मौत हो गई। दो भाईयों में सबसे बड़ा मृतक छठवीं वर्ग का छात्र था।

इस घटना की सूचना बेन थाना पुलिस को दी। जिसके बाद थानाध्यक्ष पिंकी प्रसाद  घटनास्थल पर पहुंची और शव को अपने कब्जे में लेकर थाने चली आई। उधर धक्का मारकर ट्रैक्टर चालक मौके से फरार हो गया।

इधर एक मासूम छात्र की दर्दनाक मौत को लेकर लोगों में काफी गुस्सा है। परिजनों का रो रो कर बुरा हाल है। मां अपने पुत्र को खोज रही है।

शुभम के परिजन ने बताया कि यह नहीं सोचा होगा कि उसका पुत्र स्कूल जाएगा और वापस कभी नहीं लौटेगा। शुभम के पिता एक किसान है, जो किसी तरह जीविकोपार्जन कर बच्चों को पढ़ा रहे थे।

सुबह में मृतक की मां ने स्नान कराकर टिफिन में खाना देकर शुभम को खुशीपूर्वक स्कूल भेजा था, लेकिन उस मां के लिए आज का दिन ऐसा मनहूस दिन निकला कि उसके लाल को लील गया।

विगत दिनों मैंजरा गांव में एक ट्रैक्टर ने सवारी भरी टेंपो को ठोकर मारा था। उस हादसे में 5 लोग घायल हो गए थे। उनमें एक की इलाज के दौरान मौत हो गई थी। फिर भी ट्रैक्टर चालक अपनी रफ्तार और गाना बजाना नहीं छोड़ा है।

गाना बजा कर चलने वाला चालक का ध्यान सड़क पर नहीं गाने पर रहता है। जिससे अक्सर ऐसी घटनाएं होती रहती है। मैंजरा में ही विगत दिनों एक ट्रैक्टर अपने आप पलट गया था। फिर भी चालक सुधारने का नाम नहीं ले रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here