संसाधन की है कमी, इसलिए पत्रकार उत्पीड़क थानेदार पर कार्रवाई करने में असक्षम हैं एसपी !

Share Button

बिहार शरीफ (नालंदा दर्पण)। सीएम नीतीश कुमार के गृह जिले नालंदा के पुलिस कप्तान नीलेश कुमार के पास संसाधन का घोर अभाव है। वे चाहकर भी किसी थानेदार के खिलाफ कोई कार्रवाई करने में अक्षम हैं। चाहे वह कितना भी लापरवाह और निकम्मा साबित क्यों न हो। जी हां, ये हम नहीं कहते। ऐसी बात खुद एसपी ने पत्रकारों से कही है।  

खबर है कि हरनौत थाना पुलिस के द्वारा एक पत्रकार के साथ की गई बदसलूकी एवं अमानवीय व्यवहार पर थानेदार की लापरवाही पर सीधी कार्रवाई करने की मांग को लेकर पत्रकार-बुद्धिजीवी कल सुबह 8 बजे से ही आमरण अनशन पर बैठे हैं।

अनशनकारी पत्रकार उत्पीड़न में मूल रुप से शामिल थानेदार को वहां से हटाने की मांग पर डटे हैं। इधर इस मामले को लेकर एसपी के बारे में जिस तरह की बातों सामने आई है, वह कम शर्मसार करने वाली नहीं है।

पीड़ित पत्रकार मुकेश कुमार ने बताया कि उन्हें एसपी नीलेश कुमार ने फोन किया है। एसपी का कहना है कि इस मामले में थानेदार लापरवाह और दोषी है, लेकिन वे उस पर कार्रवाई नहीं कर सकते, क्योंकि उनके पास संसाधन की कमी है। वे सप्ताह-दस दिन बाद कोई एक्शन लेगें।

हालांकि, पीड़ित पत्रकार ने पुलिस को लेकर तरह-तरह की आशंका प्रकट करते हुए दो टूक कहा कि अनशन स्थल से या तो उनकी अर्थी उठेगी या थानेदार का बोरिया विस्तर बंधेगा।

उधर नेशनल जर्नलिस्ट एशोसिएशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष राकेश कुमार गुप्ता ने भी कहा कि इस पत्रकार उत्पीड़न मामले में एसपी संसाधनों की कमी बता कर फिलहाल थानेदार के खिलाफ कोई कार्रवाई करने में असक्षम बता रहे हैं।

इधर, जिले के कुछ पत्रकार-संगठन पुलिस-प्रशासन में अपना प्रभाव जमाने की मंशा में जुट गए हैं। वे पीड़ित पत्रकार से एसपी के मौखिक आश्वासन पर अनशन तोड़ने के लिए तरह-तरह के दबाव बनाने में लगे हैं।

बता दें कि बीते मंगलवार की रात बीच बाजार स्थित श्री राम जानकी पुरानी ठाकुरवाड़ी में तेरह दिवसीय आत्म कल्याण विश्व शांति शिव शक्ति महायज्ञ का आयोजन किया गया है,जो 22 मई से एक जून तक चलेगा।

कार्यक्रम को लेकर आयोजन समिति के द्वारा चंडी मोड़ के समीप मेला का भी आयोजन किया गया है। जिसमें वृन्दावन से आये रास मंडली के द्वारा रासलीला दिखाया जा रहा है। साथ ही कई प्रकार के झूला का भी आयोजन किया गया है।

दैनिक हिंदुस्तान के पीड़ित पत्रकार मुकेश कुमार ने बताया कि मंगलवार के रात आयोजन समिति के सहायता केंद्र पर लगी कुर्सी पर बैठकर मेला पर नजर रखे हुए थे। इसी दौरान मेला ड्यूटी में लगे पांच पुलिसकर्मियों के द्वारा वहाँ आकर जबरन डंडा दिखाते हुए उठने को कहा गया।

पीड़ित पत्रकार के द्वारा परिचय बताने के बावजूद भी पुलिसकर्मियों ने कालर पकड़ते हुए मारपीट करने का कोशिश की। संयोग से मेला आयोजक के द्वारा आकर बीच बचाव करने के बाद पुलिसकर्मी वहाँ से हटे। घटना की जानकारी तुरंत ही थानाध्यक्ष सहित वरीय पुलिस पदाधिकारी को भी दी गई।

बावजूद घटना के दस घंटा बीत जाने के बाद भी पीड़ित का सूझबूझ लेना मुनासिब नहीं समझा। जिससे नाराज पत्रकार मुकेश कुमार थाना के समीप धरना पर बैठ गए। जिसकी जानकारी अन्य पत्रकारों व बुद्धिजीवियों को मिली। वे भी पीड़ित पत्रकार के समर्थन में अनिश्चित कालीन आमरण अनशन पर बैठ गए। जो कि 33 घंटे बाद समाचार प्रेषण तक जारी है।

Share Button

Related News:

रग्बी खिलाड़ी श्वेता शाही का सांसद ने किया स्वागत
छीः गोली लगी युवक को स्ट्रेचर तक न मिला, ये है सीएम के हरनौत का रेफरल अस्पताल
वार्ड सदस्य की मनमानी से अधर में लटका सीएम सात निश्चय की कार्य
ससुराल वालों ने दहेज की खातिर विवाहिता को मार डाला!
'शिक्षालय' के छात्रों के बीच बांटे गए शिक्षण व खेल-कूद सामग्री
सारे थाना क्षेत्र में किसान को गोली मारी, हालत गंभीर
कहता है मुखिया-पंचायत सचिव- ‘पहले कमीशन दो, फिर कटेगा चेक,उपर तक देना पड़ता है कमीशन’
शाम अंधेरे महिलाओं को घर में घुसकर पीटना राजगीर पुलिस को महंगा पड़ा
ट्रक की टक्कर से बाइक सवार 2 युवक की मौत, मातम में बदली शादी
जिलाधिकारी सह निर्वाचन पदाधिकारी ने सामग्री कोषांग का किया निरीक्षण 
बिहार शरीफ में 1000 कुत्ते, निकला टेंडर, होगी नशबंदी !
मुखिया पति ने यूं हाथ तोड़ अपनी गर्दन बचाने का किया प्रयास
ओवर टेक के चक्कर में खाई में पलटी बस, दो दर्जन जख्मी, कई गंभीर
बिहार शरीफ में बेलगाम बदमाश, कोर्ट जा रहे वकील को दिनदहाड़े पीटा
25 हजार के सिक्के लेकर पहुंचे बसपा प्रत्याशी, नजारत को गिनने में छूटे पसीने
नगर पंचायत कार्यालय में दस्तावेजों के साथ छेड़छाड़, पुलिस हस्तक्षेप से बची कुछ फाइल
कमजोरों पर यूं अत्याचार जारी, चंद्रवंशी समाज ने जताई चिंता
ऐसी भैंस चरनी बच्ची की अकाल मौत से सरकारी तंत्र पर भी उठा सवाल
राशन-किरासन बंद होने से आक्रोशित ग्रामीणों ने प्रखंड कार्यालय को घेरा
नीतीश की सभा में जदयू कार्यकर्ता-पुलिस के बीच हुई झड़प
मॉब लींचिंग जारी, अब बच्चा चोर बोल बिजली पोल से यूं बांध बुजुर्ग की बेरहम पिटाई
पुलिस दरिंदगी के शिकार दलित जदयू नेता को श्रद्धांजलि देने सैदपुरा पहुंचे नीतीश
छेड़खानी को लेकर दो गांव में संग्राम, पथराव, फायरिंग, लाठी चार्ज, एक जवान समेत कई घायल
बाबा मणिराम अखाड़ा पर 7 दिवसीय लगोंट मेला शुरू

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading...
Don`t copy text!
» बिहार शरीफ नगर निगम की खुली पोल, घरों में घुसे गंदे पानी, तालाब बने कई मोहल्ले   » नालंदा सांसद के रोपे पेड़ यूं चर गयी बकरी😳   » पुलिस को शराब की सूचना देने की शक में सुबेलाल की पीट-पीट कर हत्या   » प्रतिभा सम्मान समारोह में सम्मानित किए गए छात्र   » नालंदा में 2 लाख सक्रीय सदस्य बनाएगी तैलिक साहू समाज :रणविजय   » बोले नालंदा एसपी- ‘पैथोलॉजी के क्षेत्र में भी बड़े बदलाव की जरूरत’   » दहेज लोभी ससुराल वालों ने बेन की जूली को फांसी लगा मार डाला   » बिहार शरीफ जेल के सुरक्षाकर्मी पर बदमाशों का कातिलाना हमला, हवलदार को गोली मारने की धमकी   » एसयू कॉलेज में व्याप्त अनियमितता से नाराज छात्र संगठन का भड़का गुस्सा   » चचेरे भाई ने गोली मारी, हालत गंभीर, गांव वाले आपसी चंदा से करा रहे ईलाज