हर्षोल्लास के बीच मन रहा रमजान का अंत ‘ईद-उल-फितर’

Share Button

बिहारशरीफ (ऋषिकेश)। ईद की लेकर सुबह से ही शहर के सभी ईदगाहों में मुसलमान भाईयों की खासा भीड़ देखी गयी। इसको लेकर प्रशासन के तरफ से सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किया गया है।

ईद मुस्लमानों का एक महत्वपूर्ण त्योहार है। मुसलमानों के बारह महीनों में एक महीने का नाम रमजान है। रमजान का महीना बड़ा ही पवित्र माना जाता है।

इस्लाम धर्म में पवित्र रमजान के पूरे महीने रोजे अर्थात् उपवास रखने के बाद नया चांद देखने के अवसर पर ईद-उल-फितर का त्योहार मनाया जाता है।

यह रोजा तोडने के त्योहार के रूप में भी लोकप्रिय है। यह त्योहार रमजान के अंत में मनाया जाता है। मुस्लिम धर्मावलंबियों के लिए यह अवसर भोज और आनंद का होता है।

फितर शब्द अरबी के ‘फतर’ शब्द से बना। जिसका अर्थ होता है टूटना। फितर शब्द का एक अन्य अर्थ भी होता है जो फितरह शब्द से निकलता है। जिसका अर्थ होता है भीख।

अन्य इस्लामी त्योहारों की तरह रमजान एक दिन विशेष पर नहीं आता है। यह इस्लामी केलेंडर का नौवां महीना होता है। इस प्रकार यह पूरा माह ही त्योहारों की तरह होता है।

इबादत या प्रार्थना, भोजन और मेल-मिलाप इस त्योहार की प्रमुख विशेषता है । इस दिन की रस्मों में सुबह सबसे पहले नहाना, नए कपड़े पहनना,सुगंधित इत्र लगाना, ईदगाह जाने से पहले खजूर खाना आदि मुख्य है।

आमतौर पर पुरुष सफेद कपड़े पहनते है। सफेद रंग पवित्रता और सादगी का प्रतीक है। इस पवित्र दिन पर बड़ी संख्या में मुस्लिम अनुयायी सुबह जल्दी उठकर ईदगाह, जो ईद की विशेष प्रार्थना के लिए एक बड़ा खुला मैदान होता है, में इबादत ओर नमाज अदा करने के लिए इकट्ठे होते हैं।

नमाज से पहले सभी अनुयायी कुरान में लिखे अनुसार, गरीबों को अनाज की नियत मात्रा दान देने की रस्म निभाते हैं। जिसे फितर देना कहा जाता है। फितर या एक धर्मार्थ उपहार है, जो रोजा तोडने के उपलब्ध में दी जाती है।

Share Button

Related News:

वेना थाना क्षेत्र में मिली लाश पटना से किडनैप प्रॉपर्टी डीलर की निकली
शादी नहीं होने से बौखलाए युवक ने माँ-बेटी को कैंची से गोदा, युवक की भी धुनाई, तीनों पटना रेफर
राजगीर पुलिस का हैरान कर देने वाली घटिया कारनामा हुआ उजागर
10 सशस्त्र बदमाशों ने सपरिवार बंधक बना व्यवसायी के घर से 10 लाख की संपत्ति लूटी
नालंदा जिला लोक शिकायत पदाधिकारी और सहायक खनन निदेशक को 1-1 हजार का अर्थदंड, वेतन से होगी राशि वसूली
ग्रामीण विकास मंत्री के क्षेत्र में औचक निरीक्षण कागजी, सीएम सात निश्चय योजना की खुली पोल !
'मॉब लींचिंग के खिलाफ जागरुकता फैलाएगा अपहरण-दुष्कर्म मामले का दोषी किशोर'
अपने घर-जिले नालंदा में फैले कुशासन को लेकर "सुशासन बाबू " ने अपनाये कड़े तेवर
सीएम के नालंदा में जहरीली शराब पीने से मौत के बाद हंगामा  
जिला निर्वाचन पदाधिकारी ने ईवीएम कोषांग का किया निरीक्षण
एडीजे उपेन्द्र कुमार की अदालत ने 'थेथर थानेदार' को वार्निंग के साथ किया तलब
बिजली चोरी को लेकर आइसक्रीम फैक्ट्री के मालिक पर 1.92 लाख जुर्माना
बोले इसलामपुर सीओ- मानवाधिकार नेम प्लेट लगी वाहनों की होगी जांच
नगरनौसा थाना की हाजत में अधेड़ की मौत, फांसी लगाई या पिटाई से हुई मौत?
पानी-बिजली को लेकर आगजनी, सड़क जाम, हद कर रखा है बिजली जेई
नगरनौसा के बडीहा मस्जिद के इमाम को ट्रक ने रौंदा, मौत, 2 जख्मी
बेन हलके में जदयू-हम के बीच कांटे की टक्कर के आसार !         
वार्ड सदस्य की मनमानी से अधर में लटका सीएम सात निश्चय की कार्य
बिना करंट तार जोड़े फाईलों में चकाचक हो गया राजगीर!
तीज-त्योहार के मौके पर महिलाओं से यूं चहके बाजार
नाबालिग युवती के साथ पूर्व वार्ड पार्षद के शिक्षक भाई ने किया रेप, धराया
कमजोरों पर यूं अत्याचार जारी, चंद्रवंशी समाज ने जताई चिंता
बदमाशों ने यूं मारपीट कर राहगीर से हजारों की संपति लूटी
BDO को कार्यालय में घुसकर पीटा, बोले SDO- होगी कड़ी कार्रवाई  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading...

You may have missed

Don`t copy text!
» पुलिस ने पकड़ी 3 वाहन समेत शराब की बड़ी खेप, लेकिन कारोबारी फरार   » 550वां प्रकाश पर्व पर 27-29 दिसंबर को होगी ये विशेष व्यवस्था   » नेहरू युवा केंद्र द्वारा पंडितपुर में फुटबॉल प्रतियोगिता, उदय क्लब ने आजाद युवा को 2-0 से हराया   » इसलामपुर में 35 कार्टून अंग्रेजी शराब बरामद, ट्रैक्टर टेलर व ट्वेटा वाहन जप्त, 2 धराए   » नंदकिशोर महिला इंटर कॉलेज में 6.06 लाख की गबन का FIR दर्ज   » स्कूली बच्चों के भोजन में मृत बिच्छू ! लापरवाही या साजिश? जांच का विषय   » निगरानी डीएसपी ने थरथरी प्रखंड आवास सहायक को 10 हजार घूस लेते रंगे हाथ यूं दबोचा   » राजगीर नगर पंचायतः पूर्व पार्षद की शिकायत पर प्रधानमंत्री कार्यालय ने मुख्य सचिव से मांगी जांच रिपोर्ट   » कोर्ट के आदेश की अवहेलना- ‘लापरवाह जेलर हाजिर हो’   » पर्यवेक्षण गृह नहीं, पाठशाला !