कोर्ट मैरेज के बाद यूं भाई के पचड़े में फंसी दुल्हन, पुलिस की कार्यशैली भ्रामक

Share Button

बिहार शरीफ (नालंदा दर्पण)। बेन थाना क्षेत्र के रामा बिगहा गांव निवासी एक युवती और दीपनगर थाना के चक दिलावर गांव निवासी एक युवक ने हिलसा कोर्ट में विगत 11 मई को कानूनन शादी कर ली है।

कोर्ट में दाखिल शपथ पत्र के अनुसार 19 वर्षीय युवती और 24 वर्षीय युवक ने इसके पूर्व मां जगदम्बा मंदिर करौटा, पटना में बिना किसी दबाव के हिन्दू रीति रिवाज से विधिवत शादी भी की है।

इस शादी के 11 दिन बाद 22 मई को युवती के भाई ने बेन थाना में अपनी बहन की उम्र महज 13 साल बताते हुए एक लिखित शिकायत कर डाली कि एक युवक एवं उसके माता-पिता ने शादी की नियत से 11 मई को ही भगा ले गया।

बेन पुलिस ने उसी आधार पर भादवि की धारा-366(ए),341 के तहत थाना कांड संख्या-74/22.05.19 दर्ज कर कार्रवाई में जुट गई।

उधर, शादीशुदा दोनों युवक-युवती एक साथ रह रहे थे। इसी बीच उसे पुलिस केस होने की जानकारी मिली तो वे भूमिगत हो गए। इधर बेन पुलिस ने दबाव बनाने के लिए युवक की बहन को उठा हाजत में बंद कर दिया। इस दबाव पर युवक ने अपनी पत्नी को पुलिस के हवाले कर दिया।

इसके बाद बेन पुलिस ने शादीशुदा युवती को बिहार शरीफ स्थित महिला थाना के हवाले कर दिया।

हालांकि इस बाबत जब महिला थानाध्यक्ष सीमा कुमारी से जानकारी चाही तो महोदया कहना था कि वे इस मामले के बारे में वह कुछ नहीं जानती है। बेन थानाध्यक्ष ने युवती को यहां लाकर रखा है। वह ही बता सकती है कि मामला क्या है और यहां लाकर क्यों रखी है। वेशक महिला थानाध्यक्ष का ऐसा जबाव चौंकाने वाले हैं।

इधर, बेन थानाध्यक्ष पिंकी प्रसाद का कहना है कि शादीशुदा युवती नाबालिग है और आठवीं के स्कूल नामांकण के अनुसार उसकी उम्र महज 14 साल है।

हालांकि युवती देखने से ऐसा प्रतीत नहीं होती है कि उसकी उम्र महज 14 साल ही हो। युवक के अनुसार शादी के समय युवती ने अपनी उम्र 19 साल बताई है।

एक्सपर्ट मीडिया न्यूज नेटवर्क को 12.18 मिनट की एक ऑडियो क्लिप उपलब्ध कराई गई है। उस ऑडियो को सुनने के बाद एक नई कहानी उभरकर सामने आती है। इस ऑडियो में युवती के भाई और युवक की मां के साथ एक दूसरे को आपसी रिश्तेदार स्वीकार कर हुई बातचीत बताई जा रही है।

ऑडियो से साफ स्पष्ट है कि युवती के घर वालों की चाह पर उसकी शादी कहीं अन्यत्र होने वाली थी। इसके लिए लेन-देन भी हो चुका था। इस बीच युवती घर से खुद भागकर युवक से पहले मंदिर और फिर कोर्ट में शादी रचा ली।

इसके बाद युवती के भाई ने युवक के परिवार पर अन्य परिवार को दिए गए दान-दहेज की मांग की जाने लगी। युवक के परिवार वालों द्वारा इसमें असमर्थता प्रकट किए जाने पर उसने घटना के 11 दिन बाद बेन थाना में शिकायत दर्ज कर दी।

युवती की भाई की शातिरपन इस बात में झलकती है कि एक तरफ जहां वह अपनी बहन को ढूंढ लाने के लिए पुलिस का सहारा ले रहा था, वहीं दूसरी तरफ युवक और उसके परिजनों पर एक लाख रुपए देने का भी दबाव बना रहा था, जो उसने अपनी बहन की शादी कहीं अन्यत्र किए जाने हेतु शायद दिया था।

बहरहाल, युवती को नाबालिग बताने वाली बेन पुलिस उसे कोर्ट में अभी तक हाजिर नहीं की है। जबकि युवती ने कल सुबह करीब आठ बजे ही पुलिस के समक्ष सरेंडर किया था। हालांकि समाचार प्रेषण तक सूचना मिली है कि बेन पुलिस युवती की मेडिकल कराने के लिए बिहार शरीफ महिला थाना से सदर अस्पताल ले जाने की तैयारी में है।

Share Button

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading...

You may have missed

Don`t copy text!
» हार्स ट्रेडिंग के बीच बिहार शरीफ उप महापौर के खिलाफ आज अविश्वास प्रस्ताव की संभावना   » हिलसा के बजरंग बली ने ली अंतिम सांस   » छिटपुट बारिश में ही इस्लामपुर नगर बन गया यूं नरक   » बेउर जेल से पुलिस को दारु पिला हुआ फरार, फिर नालंदा से आकर रांची में कर डाला ‘निर्भया कांड’   » बिहार शरीफ अस्पताल में देखिए पुलिस की मौजूदगी में हुई कैसी बड़ी नौटंकी   » बिहार शरीफ नहीं जनाब, यहां सिर्फ लुटेरे अफसर-ठेकेदार बन रहे हैं स्मार्ट   » यूं साईबर ठगी का शिकार का शिकार हुआ नालंदा पुलिस का जवान, सुनिए ऑडियो   » 50 हजार की रिश्वत लेते सहयोगी समेत निगरानी के हत्थे चढ़ा रहुई का सर्वेयर अमीन   » हटिया एक्सप्रेस से कटकर एक अज्ञात अधेड़ की मौत   » बेन में सर्प दंश से एक महिला की मौत