राहत के साथ आफत बनी आंधी-बारिश, कोबिल स्मृति द्वार की दिवार गिरने से मलवे में दबकर युवक की मौत एक घायल

“अचानक आई धूलभरी आंधी और मुसलाधार बारिश से लोगों को थोड़ी देर के लिये राहत जरूर मिली। लेकिन यह धूलभरी आंधी और मूसलाधार बारिश लोगों के लिए काल भी बनकर साबित हुई….”

बिहार शरीफ (नालंदा दर्पण)। अचानक आई तेज आंधी और बरसात से जहानाबाद-इस्लामपुर मुख्य मार्ग पर स्थित कोबिल तोरण द्वार भरभराकर 2 लोगों के ऊपर गिर गया। जिसके मलवे में दबने से एक राहगीर की मौत हो गई, जबकि दूसरा ठेला दुकानदार गंभीर रूप से जख्मी हो गया। जिसकी हालत गंभीर बताई जा रही है।

बताया जाता है कि राहगीर अपनी मोटरसाइकिल से अपने गांव खिजरसराय जा रहा था। इसी दौरान तेज आंधी को देखकर वह तोरण द्वार के नीचे खड़ा हो गया।

वक्त तेज हवा के कारण तोरण द्वार राहगीर के ऊपर गिर गया। जिससे राहगीर की मौके पर ही मौत हो गयी, जबकि दूसरा गोलगप्पा बेचने वाले ठेला दुकानदार गंभीर रूप से जख्मी हो गया।

तोरण द्वार गिरने से जहानाबाद एकंगरसराय मुख्य सड़क मार्ग जाम हो गया। घटना की सूचना मिलते ही पुलिस-प्रशासन मौके पर पहुंचकर घटना की जानकारी ले रहे हैं।

वहीं, परबलपुर बाजार में भी तेज आंधी और मूसलाधार बारिश से एक ट्रांसफार्मर दो बिजली का खंभा और दो तार का पेड़ सड़क पर गिर गया। जिससे बिहार शरीफ-परवलपुर मुख्य सड़क जाम हो गया और गाड़ियों की लंबी कतारें लग गयी।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here