पानी को लेकर हंगामा, सड़क जाम, विधायक नकारा, नगर निगम-जिला प्रशासन वेपरवाह

“जहां एक ओर पानी की समस्या से पूरे सूबे में हाहाकार मचा हुआ है। इस जल संकट से नालंदा जिला भी अछूता नहीं है…”

बिहार शरीफ (एक्सपर्ट मीडिया न्यूज नेटवर्क)। नालंदा जिले शहरी और ग्रामीण क्षेत्र के कई ऐसे इलाके हैं ,जहां पानी का जलस्तर काफी नीचे चला गया है। जिससे जल संकट का खतरा लोगों के ऊपर मंडराने लगा है।

चाहे रोजाना की तरह दिनचर्या की बात हो या फिर किसानों के पटवन की बात हो ,दोनों सूरत में लोगों की पानी की जरूरत होती है। ऐसी सूरत में अगर लोगों को पानी ना मिले तो गुस्सा होना लाजमी है।

बिहार थाना क्षेत्र इलाके के महलपर वार्ड नंबर 33 में दर्जनों ग्रामीणों ने हाथों में बर्तन लेकर सड़क पर उतरकर हंगामा किया व थोड़ी देर के लिए सड़क भी जाम किया।

स्थानीय लोगों ने बताया कि स्थानीय विधायक डॉ. सुनील के द्वारा दोरंगी नीति अपनाते हुए हमेशा लोगो के साथ भेदभाव किया गया है, क्योंकि वार्ड नंबर 33 के सड़क किनारे रह रहे लोगों को पानी की पूर्ति होती है।

लेकिन गली में रहने वालों के साथ पानी की समस्या हमेशा बनी रहती है। क्योंकि गली में जलापूर्ति योजना का पाइप लाइन नहीं बिछाया गया है।

इन लोगो ने इसकी लिखित शिकायत डीएम और नगर निगम से की वाबजूद स्थानीय प्रशासन के तरफ से कोई ठोस पहल नही की गई है।

स्थानीय लोगों ने इस जल संकट को लेकर इसका ठीकरा सीधा स्थानीय विधायक डॉक्टर सुनील के ऊपर फोड़ा है।

स्थानीय लोगों ने बताया कि चुनाव के समय भोली-भाली जनता के सामने विधायक के द्वारा पानी की समस्या को लेकर वादे तो कर दिए जाते हैं लेकिन चुनाव के बाद यह सभी बातें यह समस्या हवा-हवाई हो जाती है।

हालांकि इस जलसंकट को लेकर राज्य सरकार काफी गंभीर दिख रही है और जलसंकट से निपटने के लिए अधिकारियों के साथ बैठक भी की जा रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here