अंधेरगर्दीः बिना प्रावधान कर दिया गया इन प्रखंड संसाधन कर्मियों का ट्रांसफर

Share Button

“सरकारी बाबूओं को अपने ही विभाग के नियमावली प्रावधान की जानकारी नहीं है। इस बात का खुलासा तब हुआ, जब नालंदा जिला प्रारंभिक शिक्षा एवं सर्व शिक्षा अभियान कार्यक्रम पदाधिकारी द्वारा जिला पदाधिकारी के निर्देशानुसार प्रखंड संसाधन केंद्रों में कार्यरत सभी लेखापाल सह डाटा इंट्री ऑपरेटर का स्थानांतरण दूसरे प्रखंड में कर दिया गया…..”

नालंदा दर्पण।  जिला पदाधिकारी,नालंदा के निर्देशानुसार जिला कार्यक्रम पदाधिकारी प्रारंभिक शिक्षा एवं सर्व शिक्षा अभियान नालंदा के ज्ञापांक एसएसए/973 दिनांक 7 जून के आलोक में विभिन्न प्रखंड संसाधन केंद्रों में कार्यरत सभी लेखापाल सह डाटा इंट्री ऑपरेटर का स्थानांतरण दूसरे प्रखंड में कर दिया गया है।

जबकि राज्य परियोजना निदेशक पटना बिहार के पत्रांक 8891 दिनांक 11/12/2010 के आलोक में एवं अधिसूचना संख्या MGT/404/10-11/8891 कार्यकारणी समिति की दिनांक 18/11/2010 को सम्पन्न 65वीं बैठक में वीईपी सेवा नियमावली 2010 के आलोक में पारा संख्या-42 में स्थानांतरण नियमावली में अंकित है कि प्रखंड संसाधन केंद्र में कार्यरत सहायक लेखापाल सह डाटा इंट्री ऑपरेटर का स्थानांतरण का प्रावधान नहीं है।

विभिन्न जिला में प्राप्त सूचना के अधिकार में भी यह अंकित है कि सहायक लेखापाल सह डाटा इंट्री ऑपरेटर का स्थानांतरण नहीं किया जा सकता हैं। फिर भी जिला पदाधिकारी, नालंदा के द्वारा जिला शिक्षा पदाधिकारी से कार्यरत सहायक लेखापाल सह डाटा इंट्री ऑपरेटर की सूची स्थानांतरण हेतु मांगी गई थी।

उसमें कार्यालय समग्र शिक्षा अभियान नालंदा में कार्यरत अपर जिला कार्यक्रम पदाधिकारी एवं स्थापना नालंदा के द्वारा वीईपी सेवा नियमावली 2010 का उल्लेख नहीं किया गया एवं नियमावली की छायाप्रति संलग्न कर जिला पदाधिकारी को नहीं दिया गया। न ही उन्हें इस बिंदु से अगवत कराया गया।

प्रभावित कर्मियों का आरोप है कि जिला पदाधिकारी, नालंदा को दिग्भ्रमित कर स्थानांतरण कराया गया है एवं हमेशा उन लोगों को मानसिक तौर से नियम विरुद्ध प्रताड़ित किया जाता रहा है। उन लोगों का स्थानांतरण अन्यंत्र जगह हो जाने के कारण वित्तीय वर्ष 18-19 का विद्यालय में सभी प्रकार के भेजी गई अग्रिम राशि का समायोजन समय पर संभव नहीं हो पाएगा।

इस संबंध में जिला कार्यक्रम पदाधिकारी एसएसए नालंदा के पत्रांक एसएसए/1014 दिनांक 14/06/2019 को दिनांक 25/06/2019 तक अग्रिम राशि का समायोजन करने का आदेश सभी सहायक लेखापालो को दिया गया है।

पूर्व जिला पदाधिकारी पलका साहनी के द्वारा सन् 2015 में स्थानांतरण सूची की मांग की गई थी। तत्कालीन शिक्षा पदाधिकारी देवशील सूची में स्थानांतरण संबंधित सूची के साथ वीईपी नियमावली का उल्लेख करते हुए उन्हें इस बिंदु से अवगत कराने के उपरांत जिला अधिकारी नालंदा के द्वारा स्थानांतरित नहीं किया गया।

अतएव सहायक लेखापाल सह डाटा इंट्री ऑपरेटर का स्थानांतरण संबंधी नियमावली का उल्लेख करते हुए जिला पदाधिकारी, नालंदा एवं जिला शिक्षा पदाधिकारी नालंदा को इस आशय की सूचना देने की कृपा करना चाहे जिस से हम लोग का स्थानांतरण स्थगित किया जा सके।

Share Button

Related News:

इन 3 महत्वपूर्ण आयोजनों को लेकर डीएम ने की मैराथन बैठक, दिए अहम निर्देश
इस्लामपुर में दीवारों पर यूं चिपकाए गए हिलसा SDO के आदेश की प्रतियां
बदचलनी का आरोप लगा पत्नी को घर से यूं बाहर निकाला, समाज बना नकारा
चुनावी रंजिश में घर पर की रोड़ेबाजी, गोलीबारी और मारपीट, आधा दर्जन घायल, तनाव
बिहार शरीफ जेल के सुरक्षाकर्मी पर बदमाशों का कातिलाना हमला, हवलदार को गोली मारने की धमकी
करंट से किसान की मौत, बिना पुलिस-प्रशासन के परिजन ने कराया पोस्टमार्टम!
इधर वाहन चेकिंग में मशगूल थी पुलिस, उधर चंद कदम दूर लूट रहा था आनंद
प्रखंड कार्यालय में यूं जमी है जदयू नेता की शिक्षिका पत्नी,विभाग लापरवाह
डीएसपी ने इस्लामपुर थाना का औचक निरीक्षण कर दिए कई निर्देश
सीडीपीओ की दलील, वाहन बिना पैदल जाए आंगनवाड़ी केंद्र!
पुलिस ने एक अवैध छड़ कारोबारी को दबोच फिर की खानापूर्ति
सीएम के जेबार में जदयू दलित प्रकोष्ठ अध्यक्ष की पिटाई, पत्नी संग छेड़खानी, सपरिवार घर छोड़ा
बूथ पर दो लोगों की झड़प में भागलपुर का पुलिस ASI जख्मी
बकरीद मिलन समारोह बनी साम्प्रदायिक सौहार्द की मिशाल
डीएम ने की मानवाधिकार, लोकायुक्त, सेवांत लाभ से संबंधित मामलों की समीक्षा
राजगीर के विकास में नगर पंचायत ही बन रही बड़ी बाधा
ऑटो-बाइक की टक्कर में 2 अधिवक्ता समेत 6 घायल, 4 की हालत गंभीर 
खाई में पलटी अनियंत्रित ट्रैक्टर, चालक और किसान की मौत
मनरेगा में लाखों का फर्जीवाड़ा, विरोध में नगरनौसा थाना का घेराव!
डीजीपी के आश्वासन के बाद पत्रकार मुकेश का आमरण अनशन खत्म, एसपी ने पिलाया जूस
बुजुर्ग को गोली मारी, अस्पताल में भर्ती, रहुई थानेदार ने नहीं ली थी विवाद का संज्ञान
शाम अंधेरे महिलाओं को घर में घुसकर पीटना राजगीर पुलिस को महंगा पड़ा
बाप नबंरी-बेटा दस नबंरी, खुल गई सारी पोल पट्टी, फर्जी शिक्षक भी निकला
मॉब लिचिंग के हत्थे चढा विक्षिप्त युवक, पुलिस ने बचाई जान

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading...

You may have missed

Don`t copy text!
» भगवती जागरण में पहुंचे सांसद-मंत्री-विधायक, रात भर झूमते रहे श्रोता   » ..डीएम साहब, जरा देख लीजिए आशा कार्यकर्ताओं की झोंटी-झोटौव्वल और लात-घुसे   » ससुराल लाकर युवक को यूं बेरहमी से काट कर मार डाला !   » ‘बबुनी रेप कांड’ को लेकर फूटा जनाक्रोश, नीतीश कुमार मुर्दाबाद के नारों से गूंजा राजगीर   » ‘बबुनी’ बचाओ आंदोलन के निशाने पर पुलिस-प्रशासन और राज्य महिला आयोग   » हिलसा पुलिस ने दिनदहाड़े लूटपाट करते लोडेड पिस्तौल लिये एक लुटेरा को दबोचा   » 4व्हीलर न मिला तो ससुराल वालों ने 5 साल बाद रुबी को गला दबाकर मार डाला!   » ट्रैक्टर से भीषण टक्कर के बाद 150 मीटर बिना चालक चलती रही यात्री बस, बड़ा हादसा टला   » सीएम नीतीश के गृह जिले में ही उनके पुतले में लगी ‘बबुनी’ की आग   » नर्तकियों के अश्लील ठुमके के दीवाने हुए जदयू विधान पार्षद हीरा बिंद