अदद पैक्स मेंबर बनने के लिए यूं भटक रहे किसान, उधर अफसर बने हैं लापरवाह

Share Button

“पैक्स अध्यक्ष से जबाब मिलता है कि ऑनलाइन फॉर्म से उन्हें कोई लेना देना नहीं है। प्रखंड सहकारिता पदाधिकारी का तीन माह से एक ही जबाब है कि सबका फॉर्म प्रोसेस में है। जिला सहकारिता पदाधिकारी भी इस बारे में संतोषजनक जवाब नहीं दे रहे हैं…..”

नालंदा दर्पण। नगरनौसा प्रखंड के खजुरा पैक्स के अध्यक्ष एवं प्रखंड सहकारिता पदाधिकारी पर पैक्स में नाम जोड़ने को लेकर टाल मटोल करने का आरोप लगाते हुए ग्रामीणों ने डीएम को पत्र लिखकर यथोचित कार्रवाई करने का आग्रह किया है।

अपने लिखे पत्र में ग्रामीणों ने कहा है कि उनलोगों ने सरकार के आदेश के आलोक में पैक्स अध्यक्ष बनने के लिए अपने स्तर से अपना फॉर्म ऑनलाइन 15 मार्च तक कर दिया था। अब जबकि 15 जून आ चुका है। वे लोग पैक्स के सदस्य बने या नहीं बने, इसकी कोई जनकारी न पैक्स अध्यक्ष को न प्रखंड सहकारिता पदाधिकारी और न ही जिला सहकारिता पदाधिकारी दे रहे हैं।

पैक्स अध्यक्ष के यहाँ जाने पर जबाब मिलता है कि ऑनलाइन फॉर्म से उन्हें कोई लेना देना नहीं है। वे लोग प्रखंड सहकारिता पदाधिकारी के यहाँ जाकर पता करें। प्रखंड सहकारिता पदाधिकारी का तीन माह से कमोवेश एक ही जबाब है कि सबका फॉर्म प्रोसेस में है। परंतु तीन माह बाद भी किस हाल में है। नाम जुटेगा या नहीं इसकी जनकारी नही मिल रही है। जिला सहकारिता पदाधिकारी भी इस बारे में संतोषजनक जवाब नहीं दे रहे हैं।

पैक्स अध्यक्षों द्वारा पैक्स का सदस्य बनाने में नही लिया जा रहा अभिरुचिः  नवंबर में होने वाले पैक्स चुनाव को लेकर सरगर्मी बढ़ने लगी है। पांच वर्षो तक सरकारी व्यवस्था का आनंद ले चुके पैक्स अध्यक्ष अभी से अपनी गोटी सेट करने में जुट गये हैं।

पैक्स की मतदाता सूची में नये नाम जोड़ने का जिम्मा पैक्स अध्यक्षों को ही दिया गया है। इनकी मर्जी से ही नाम जुड़ना संभव है। पैक्स अध्यक्ष अपने लोगों का नाम मतदाता सूची में जोड़ रहे हैं। इसके पीछे की मंशा है अगले चुनाव में पुन: जीत हासिल करना।

सूत्रों की मानें तो एक-एक पैक्स अध्यक्ष अपने गुट के सैकड़ों लोगों का नाम मतदाता सूची में जोड़ चुके है। अन्य किसान व ग्रामीण को मतदाता सूची में नाम जोड़वाने के लिए दर दर भटक रहे हैं। मतदाता सूची में आखिर किसका नाम जुड़ा इसका पता किसी को नहीं है।

विदित हो की नवंबर माह में संभावित होने वाले पैक्स चुनाव को लेकर  पैक्स की मतदाता सूची की प्रकाशन का कार्यक्रम  जून के दूसरे सप्ताह में किया जाना है। लेक़िन अभी तक अधिकांश ऑनलाइन आवेदन का निष्पादन नही किया गया। जिससे मतदाता सूची में नाम जुड़वाने के लिए ऑनलाइन किए गए आवेदन का नाम मतदाता सूची में नही जुड़ा है।

इस प्रक्रिया में पैक्स अध्यक्षों ने खूब मनमानी की है। अन्य चुनावों के लिए मतदाता सूची तैयार करने की जवाबदेही सरकारी कर्मियों पर होती है। इसके लिए बीएलओ की तैनाती की गई है। जो निर्वाचन आयोग के निर्देश के अनुरूप काम करते है।

पैक्स मतदाता सूची के लिए ऐसी व्यवस्था क्यों नहीं की गई यह अहम सवाल है। पैक्स अध्यक्ष गैर सरकारी और गैर जिम्मेदार है। इन्हें मतदाता सूची में गैर लोगों का नाम शामिल करना घाटे का सौदा समझ में आ रहा है।

लोगों का कहना है कि जिस तरह सरकार व्यवस्था के तहत पैक्स का चुनाव हो रहा है उसी तरह मतदाता सूची बनाने का काम हो। यह प्रारम्भिक प्रक्रिया है। जब यहीं ठीक नहीं होगी तो पूरी व्यवस्था सवालों के घेरे में आ जायेगी। अभी तक ऐसा ही दिख रहा है। पैक्स चुनाव में सिर्फ खास लोगों की भागीदारी हो और आम लोग वंचित रह जाय यह उचित नहीं।

पूर्व में ग्रामीणों व किसानों की बड़ी शिकायत रहती थी कि उनके पंचायत पैक्स अध्यक्ष द्वारा उन्हें पैक्स सदस्य नहीं बनाया जा रहा है। कई लोगों की शिकायत रहती थी कि पैक्स अध्यक्ष द्वारा उनका आवेदन ही नहीं लिया जा रहा है।

इस मामले में विभाग भी मजबूर नजर आता था तथा संबंधित  पैक्स अध्यक्षों की मनमानी के सामने किसी की कुछ नहीं चलती थी।

किसानों को नहीं मिल रहा ऑनलाइन प्रक्रिया का लाभः पैक्स मतदाता सूची में नाम जोड़वाने के लिए भटक रहे किसानों को भी ऑनलाइन प्रक्रिया का लाभ नहीं मिल रहा। विभाग द्वारा ग्रामीण और किसान पैक्स सदस्य बनने के लिए ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया शुरू किया था।

नियम के अनुसार जब कोई आवेदक सदस्य बनने के लिए ऑनलाइन आवेदन देता है  तो उसपर 15 दिनों के भीतर कार्रवाई होना निश्चित है। यदि पैक्स अध्यक्ष द्वारा आवेदक को सदस्य नहीं बनाया जाता है तो उसका वाजिब कारण बताना होगा।

यदि कारण नहीं बताया जाता है अथवा आवेदन पर कोई कार्रवाई नहीं होती है, तो विभाग द्वारा आवेदक को संबंधित पंचायत का पैक्स सदस्य बना दिया जायेगा।

नगरनौसा प्रखंड में अबतक इन-इन पंचायतों में पैक्स मतदाता सूची में नाम जोड़ने को लेकर किया गया ऑनलाइन आवेदनः

अरियावां-188

खजुरा-1442

कछियावां-437

दामोदरपुर बलधा-37

नगरनौसा-50

कैला-557

गोराईपुर-50

भुतहाखार-112

रामपुर-208

Share Button

Related News:

ऐसी भैंस चरनी बच्ची की अकाल मौत से सरकारी तंत्र पर भी उठा सवाल
देखिए बेन थानेदार की हिमाकत, निर्वाची पदाधिकारी के सामने बिना वारंट पैक्स अभ्यर्थी को किया यूं अरेस्...
जल जीवन हरियाली मानव श्रृंखला का वहिष्कार करेगी सरपंच संघ
सारे थाना क्षेत्र में किसान को गोली मारी, हालत गंभीर
सरकारी अस्पताल से नवजात  की चोरी के बाद हंगामा, आगजनी, सड़क जाम
‘जल जीवन हरियाली’ के नाम पर भूमिहीन गरीबों को उजाड़ने को लेकर माले का रोष प्रदर्शन
रंगीला बीघा के पइन में 30 बोरा मांस मिलने से सनसनी
खुले में शौच करने के दौरान युवक की तालाब में डूबने से मौत
लहेरी थाना पुलिस की गुंडई, 3 दिनों से युवक की हाजत में निर्मम पिटाई जारी
कतरीसराय पुलिस ने 2 महिला समेत 4 हत्यारोपी को पकड़ भेजा जेल
प्रार्थना समय शिक्षिका बना रही थी वीडियो, दो शिक्षकों के बीच जमकर हुई मारपीट, ग्रामीणों ने स्कूल में...
महिला ने की जहर खाकर आत्महत्या, परिजन ने लगाया हत्या का आरोप
वायरल इस वीडियो ने खोल दी पूर्व मुखिया-नालंदा थाना पुलिस गठजोड़ की पोल
बेन के बाद मानपुर में हत्या, शराब बेचने से मना करने पर पुजारी की पीट-पीट कर हत्या
नंदकिशोर महिला इंटर कॉलेज में 6.06 लाख की गबन का FIR दर्ज
चंडी प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र सरथा होगा शिफ्ट, लोगों में भारी आक्रोश
नूरसराय थाना के जमादार पवन कुमार को बाइक समेत ट्रक ने कुचला, मौत
ठेका मजदूर की मारपीट के बाद गला दबाकर हत्या
प्रेमिका के चक्कर में पत्नी को जिंदा जला कर मार डाला!
अब कानून की धज्जियां उड़ाने वाले बिहार थाना इंस्पेक्टर दीपक कुमार का नपना तय
गांवों में पानी के लिए हाहाकार, डीएम से लगाई त्राहिमाम गुहार
बिहार शरीफ सदर अस्पताल की हड़ताल खत्म, विधायक की जगह सांसद ने मांगी माफी
वोट वहिष्कार के बीच बूथ निरीक्षण करने पहुंची बीडीओ पर विफरे ग्रामीण
सुरेन्द्र के हत्यारों को दबोच कड़ी सजा देने की मांग को लेकर माले का प्रदर्शन

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading...
Don`t copy text!
» आखिर झंडोतोलन के बाद यूं शोक की मुद्रा में क्यों हैं हरिनारायण बाबू!   » एक बाइक पर सवार 3 युवकों को अज्ञात वाहन ने कुचला, दर्दनाक मौत     » NRC के विरोध में नालंदा में मानव श्रृंखला का निर्माण   » रालोसपा ने नगरनौसा में शिक्षा-बेरोजगार को लेकर बनाई मानव कतार   » भाजपा नेता के पोस्टर विवाद में यूं फंसा लहेरी थाना का दारोगा   » महिला सरपंच ने यूं डकारे 2.27 लाख रुपये, एसडीओ कोर्ट में नीलामवाद दायर   » ‘गुंडा मुखिया’ के गांव में हिलसा डीएसपी की बड़ी कार्रवाई, शराब निर्माण कारोबार का बड़ा उद्भेदन   » बैंक मैनेजर को दिनदहाड़े सड़क पर गोली मारी, लूटे 80 हजार   » राजगीर-बिहारशरीफ मुख्य मार्ग पर हथियार के बल हाथ-पैर बांध पैसे समेत रिनॉल्ट कार की लूट   » घने कुहासे में यूं भिड़े 3 वाहन, 2 जख्मी, हालत गंभीर