“इस स्कूल हॉस्टल में आग पर काबू पाने की कोई प्रारंभिक व्यवस्था नहीं देखी गई। आग लगने के बाद हॉस्टल में रहने वाले बच्चों एंव आसपास के लोग इधर-उधर भटकते रहे….”

एक्सपर्ट मीडिया न्यूज नेटवर्क (धर्मेंन्द्र)। नालंदा जिले के हिलसा नगर के शिवपुरी मोहल्ला स्थित एक निजी स्कूल के हॉस्टल में आग लग जाने से दो मासूम बच्चे गंभीर रुप से झुलस गए हैं, वहीं कईयों को गंभीर चोटें आई है। यह आग रविवार की देर संध्या खाना बनाने के दौरान लगी है।

कहा जाता है कि स्कूल हॉस्टल की दूसरी मंजिल पर बने रसोई घर में गैस सिलिंडर से खाना बनाया जा रहा था। तभी अचानक लिकेज हो जाने के कारण गैस की आग पूरे रसोई घर में फैल गयी।

रसोई घर में मौजूद बच्चे व अन्य लोग जबतक बाहर निकलते तबतक आग की लपटें तेज हो गयी। हॉस्टल में रहने वाले बच्चों के बीच भगदड़ मच गया। जान बचाने के लिए बच्चे इधर-उधर भागने लगे। इस दौरान कई बच्चे चोटिल भी हुए।

इससे पहले आग की चपेट में आने से हॉस्टल संचालक शशि कुमार का तीन वर्षीय पुत्र केशव कुमार तथा हॉस्टल का छात्र संजीत कुमार बुरी तरह से जख्मी हो गया। मौके पर पहुंचे दमकल कर्मी किसी प्रकार आग पर काबू पाए तो आसपास के लोगों ने राहत की सांस ली।

आग की चपेट में आने से बुरी तरह जख्मी होने के बाद भी संजीत ने हिम्मत नहीं हारी। आग बुझाने के लिए पहुंचे दमकल कर्मियों का न केवल साथ दिया, बल्कि लौ कम होते ही गैस सिलिंडर को छत से नीचे भी फेंक दिया।

बता दें कि जिस स्कूल हॉस्टल में आग लगी है, वहां आग पर काबू पाने की कोई व्यवस्था नहीं देखी गई। आग लगने के बाद हॉस्टल में रहने वाले बच्चों के साथ-साथ आसपास के लोग इधर-उधर भटकते रहे, लेकिन किसी के पास आग पर काबू पाने का कोई उपकरण नहीं था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here