“हिलसा पश्चिमी बाईपास निर्माण के दौरान खोरमपुर के खंडा में विष्णु की प्रतिमा निकालने के बाद ग्रामीण महिलाओं ने पूजा एवं भक्ति भाव में जुटे गए। गांव के लोगों ने वही मंदिर बनाने की जिद पर अड़े हैं। स्थानीय प्रशासन ने समझा-बुझाकर प्रतिमा को हिलसा थाना ले गई….”  

एक्सपर्ट मीडिया न्यूज नेटवर्क (धर्मेंद्र)। पिछले कई साल से लगातार हिलसा वासियों के द्वारा हिलसा बाजार में लगातार सड़क जाम से जूझ रहे लोगों ने बाईपास रोड की मांग की थी।

इस बाईपास मांग को लेकर कई बार धरना-प्रदर्शन व भूख हड़ताल भी किया गया। जिसके बाद राज्य सरकार की नींद खुली और राज्य सरकार के निर्देश पर करोड़ों रुपए की लागत से हिलसा पश्चिमी बाईपास निर्माण कराने का निर्देश जारी किया गया।

जिसके बाद हिलसा बाईपास निर्माण कार्य जोर-शोर से शुरू हुआ। बाईपास निर्माण कार्य के दौरान उस वक्त अचानक ग्रामीणों में खलबली मच गई, जब अचानक सड़क निर्माण कार्य कर रहे खेतों में भगवान विष्णु की अति प्राचीन मूर्ति दिखाई दी।

ग्रामीण ने बताया कि जब कामगारों के द्वारा निर्माण कार्य चल रहा था, उसी दौरान एक काला पत्थर जैसा भगवान विष्णु की मूर्ति दिखाई दिया। ग्रामीणों ने इसे दैवीय शक्ति मानते हुए प्रतिमा को बाहर निकालकर वहीं पर स्थापित कर पूजा पाठ करना शुरू कर दिया।

यह खबर धीरे धीरे आस-पास के गांव में भी आग की तरह फैल गई। जिसके बाद ग्रामीणों का हुजूम सड़क निर्माण स्थल पर उमड़ पड़ा और एक-एक करके सभी ग्रामीणों ने पूजा-अर्चना करना शुरू कर दिया।

पुलिस को सूचना मिलते ही मौके पर पहुंचकर मूर्ति को देखा और जांच भी की।फिलहाल इसकी सूचना पुरातत्व विभाग को दिया गया।

अंतर्राष्ट्रीय बाजार में इसकी कीमत करोंड़ो रुपये की बताई जा रही है क्योंकि खुदाई के दौरान निकली मूर्ति पुरापाषाण काल की बताई जा रही है।

देखिए वीडियोः भगवान विष्णु की मिली प्राचीन प्रतिमा के बाद का आलम……..

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here