समस्याग्रस्त नगर में चल रहा मेयर-उप मेयर की घिनौनी राजनीति

Share Button

आज बिहारशरीफ नगर निगम डिप्टी मेयर विहीन हो चुका है। मेयर की कुर्सी भी डांवाडोल है। पार्षदों के जिम्मे वाले विकास के सारे कार्य अधूरे पड़े हैं। वहीं इस मामले से जुड़े नए किस्से भी रोज नए उभर कर सामने आ रहे हैं…”

एक्सपर्ट मीडिया न्यूज नेटवर्क। अमुमन शांत और खामोश रहने वाला बिहार शरीफ नगर निगम आज राजनीति का अखाड़ा बन चुका है। एक के बाद एक अविश्वास प्रस्ताव लाए जाने से पूरे नगर निगम की स्थिति असमान्य बनी है।

उपमेयर फूल कुमारी के अविश्वास प्रस्ताव के समय झारखंड में मस्ती मनाते कई वार्ड पार्षदों का वीडियो भी सामने आए थे। हालांकि वीडियो की सत्यता की पुष्टि नहीं होने के कारण यह मामला सुर्खियों में नहीं आ सका।

मेयर के अविश्वास प्रस्ताव तथा उपमेयर के चुनाव को लेकर फिर उसी प्रकार की स्थिति बनी है। चुनाव में अपनी भूमिका से बचने के लिए कई वार्ड पार्षदों के पलायन की खबरें सामने आ रही है।

बातें तो यह भी आ रही है कि उन्हें बड़ी रकम देकर स्वास्थ्य लाभ के लिए झारखंड भेजा गया है। इस पूरे खेल का मास्टर माइंड आखिर कौन है।  इसकी चर्चा भी जोरों पर है।

कभी एकजुट रहने वाली वार्ड पार्षदों की टोली आज कई खेमों में बंटी नजर आ रही है। कुछ उपमेयर के खिलाफ मोर्चा संभाले हैं तो कुछ निरपेक्ष रहकर सारा तमाशा देखना चाह रहे हैं।

वहीं मेयर के खिलाफ भी कई लोग खड़े दिखाई पड़ रहे हैं। सबसे बड़ी बात तो यह है कि जिन 16 वार्ड पार्षदों ने मेयर के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाया है। उन्हें ही मेयर की कुर्सी का रक्षक माना जा रहा है।

मेयर पर अविश्वास प्रस्ताव आने के बाद विशेष बैठक बुलाने के लिए निष्पक्ष व्यक्ति का चुनाव किया जाता है…

विशेष बैठक बुलाने का आदेश मेयर निर्गत करती है। जिनके आदेश के आलोक में नगर आयुक्त विशेष बैठक बुलाते हैं। लेकिन जब मेयर तथा उपमेयर दोनों के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाया जा चुका हो तो वैसी स्थिति में वार्ड पार्षद मिलकर एक निष्पक्ष वार्ड पार्षद का चुनाव करते हैं जिन्हें बैठक बुलाने का अधिकार दिया जाता है।

ऐसे में चुप्पी साधे पार्षद अहम किरदार निभा सकते हैं। 22 को जहां मेयर के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाया जाएगा, वहीं 24 को उपमेयर का चुनाव है। ऐसे में मेयर अपनी कुर्सी बचाने की फिराक में हैं तो उपमेयर फूल कुमारी पुन: अपनी बादशाहत दुबारा कायम करने की जोर लगा रही हैं।

इस खेल में पूरी शतरंजी चाल चली जा रही है। कई वार्ड पार्षदों की आवाज गुम है। वे कई दिनों से नगर निगम के दफ्तर में नहीं दिख पा रहे। ये चुप्पा पार्षद ही अहम किरदार साबित हो सकते हैं।

शह और मात के इस खेल में पूर्व विधायक इंजीनियर सुनील की अहम भूमिका माना जा रहा है। अविश्वास प्रस्ताव का यह खेल नगर निगम तक ही सीमित नहीं रह गया है।

इस खेल में इंजीनियर सुनील की भूमिका इस चुनाव में बड़ी हो सकती है। वे ताज उन्हें पहनाना चाहते हैं, जो उनके वोट बैंक को सुदृढ़ कर सकें। इसके लिए उन्होंने जोड़-तोड़ की राजनीति आरंभ कर दी है।

उपमेयर के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाने वाले वार्ड पार्षदः संजय कुमार वर्मा , अमरनाथ कुमार , प्रमोद कुमार , नारायण यादव , रमेश कुमार , नेहा शर्मा , राज मेहराज प्रसाद , रजनी रानी , प्रद्युम्न कुमार , उषा कुमारी , मो. असलम , सविता देवी , नीलम कुमारी , मो. वकील खां , अमीर खुसरो , मो. जमील अख्तर , मो. अशरफ , मेहरू निशां , शाहदा खातून , रोखसार , गजाला प्रवीण , शर्मिली प्रवीण , गुलशन आरा , नुसरत रहमान , शमां खानम , रीना महतो , नीरज कुमार , आरती देवी

मेयर के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लान वाले वार्ड पार्षदः प्रद्युम्न कुमार , रंजय कुमार , नीलम गुप्ता , नारायण यादव , दिलीप कुमार , सविता देवी, राजमेहरा प्रसाद , रीना महतो , रमेश कुमार उर्फ नीरजभान , नेहा शर्मा , अमरनाथ कुमार , मो. वकील खां , अमीर खुशरू , शमा खानम , अशरफ अली खां , गजाला प्रवीन

हालांकि मेयर के अविश्वास प्रस्ताव की विशेष बैठक की तिथि पर अभी जिच कायम है….

बिहार नगरपालिका अधिनियम 2007 की धारा 25 (4) का सब सेक्शन 2 में स्पष्ट लिखा गया है कि अविश्वास प्रस्ताव लाए जाने के 7 दिनों के अंदर नगर निगम की विशेष बैठक की सूचना निर्गत की जाएगी। वहीं सूचना निर्गत की तिथि से 15 दिनों के अंदर इस विशेष बैठक का आयोजन किया जाएगा।

मतलब इस विशेष बैठक के लिए अधिकतम 22 दिनों का समय लग सकता है। वहीं कम से कम आठ दिनों के अंदर ऐसी बैठक बुलाई जानी चाहिए। हालांकि एक्ट में बैठक बुलाने की न्यूनतम समय की व्याख्या नहीं है।

मेयर के अविश्वास प्रस्ताव को लेकर मात्र पांच दिनों के अंदर ही बैठक बुलाई जा रही है। इस संदर्भ में कानूनविदों का कहना है कि यह सब कुछ मेयर के उपर निर्भर करता है। मेयर के खिलाफ लाए गए अविश्वास प्रस्ताव को भी मेयर के नाम से भेजा जाता है।

Share Button

Related News:

चंडीः शराब चुलाने से मना किया तो मार दी गोली, हालत गंभीर, पटना रेफर
राहत के साथ आफत बनी आंधी-बारिश, कोबिल स्मृति द्वार की दिवार गिरने से मलवे में दबकर युवक की मौत एक घा...
कारगिल शहीदों का शौर्य नहीं भूलना असंभव :ब्रिगेडियर विरेंद्र सिंह
माधोपुर तीमुहानी डिवाइडर से टकराई पिकअप,3 की मौके पर मौत, 7 जख्मी, गंभीर हालत में 3 पटना रेफर
बिहार शरीफ नकली कॉस्टमेटिक का अड्डा, छापामारी में 50 लाख के 1800 प्रो़डक्ट बरामद
वेना थाना क्षेत्र में मिली लाश पटना से किडनैप प्रॉपर्टी डीलर की निकली
डीएम से मुखिया की धांधली की शिकायत के बदले शिवलाल मोची को मिल रही अंजाम भुगतने की धमकी
बुजुर्ग को गोली मारी, अस्पताल में भर्ती, रहुई थानेदार ने नहीं ली थी विवाद का संज्ञान
जदयू प्रत्याशी के दबाव में जिला भाजपा अध्यक्ष ने लिया फैसला :राजेश सिंह
बिहार शरीफ बाजार समिति की नारकीयता-बदहाली की समझिए जड़
बिहार शरीफ नहीं जनाब, यहां सिर्फ लुटेरे अफसर-ठेकेदार बन रहे हैं स्मार्ट
टैक्टर ने 3 स्कूली बच्ची को रौंदा, 1 की मौत, 2 की हालत गंभीर, आक्रोशितों ने थाना को घेरा, पुलिस को द...
सत्ता के ईशारे पर नाचती रही है बिहारशरीफ नगर निगम की सियासत
नगरनौसा थाना की हाजत में अधेड़ की मौत, फांसी लगाई या पिटाई से हुई मौत?
अस्थावां में हुई भारी गोलीबारी में 2 जख्मी, गोखुलपुर में भाई को भाई ने मारी गोली
अपराधी बेलगाम, राजगीर में ठेकेदार की चाकू गोदकर हत्या
सीएम के नालंदा में जल्लाद राजः पीट-पीट कर पूर्व पंच की हत्या
ठनका की चपेट से एक बच्ची की मौत, 5 बच्चे घायल, 2 की हालत गंभीर
डीएम ने बाल सुधार गृह में पकड़ी भारी गड़बड़ी, अधीक्षक तलब, सुरक्षा गार्ड व अन्य कर्मी को हटाने के नि...
गड्ढे में डूबने से 2 सगी बहन की मौत
मैरेज एनवर्सरी के बहाने चली नगर निगम की सियासत, बधाई देने पहुंचे पूर्व विधायक
इस्लामपुर उप डाकघर में हालात बेकाबू, दशहत में कर्मी, पुलिस वेवश, प्रशासन बेफिक्र
नीतीश की सभा में जदयू कार्यकर्ता-पुलिस के बीच हुई झड़प
35 प्रत्याशी मैदान में, एक का नामांकन रद्द, 3 इवीएम की पड़ेगी जरुरत

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading...
Don`t copy text!
» मुखियाओं का अल्टीमेटमः कार्रवाई वापस लें हिलसा एसडीओ, अन्यथा काम बंद   » राज्यपाल फागू चौहान ने राजगीर का यूं किया भ्रमण   » ऐसे ऐतिहासिक धरोहर बचाने की जगह ‘इमेज बिल्डिंग’ में जुटा है नीतीश-तंत्र !   » पुलिस ने मॉब लीचिंग से विक्षिप्त महिला की बचाई जान   » लच्छु बिगहा रेलवे स्टेशन हत्याकांड में 7 नामजद और 3-4 अज्ञात पर एफआईआर   » नालंदा में जल्लाद राजः करायपरसुराय में नाबालिग युवती की गोली मारकर हत्या   » हिलसा कोर्ट जा रहे अधेड़ की लच्छु बिगहा रेलवे स्टेशन पर गोली मारकर हत्या, एक महिला को भी लगी गोली   » नगरनौसा बवालः उधर दूसरे गुट ने एसटीएसी थाना में यूं किया छेड़खानी का केस🤔   » सड़क जाम, आगजनी, पुलिस पिटाई मामले में 50 नामजद एवं 100-150 अज्ञात पर प्राथमिकी दर्ज   » आपस में भिड़े दो जातीय गुट, जमकर हुई पत्थरबाजी-गोलीबारी, कई घायल, एक गंभीर,FIR दर्ज