एक नाबालिग संग रेप मामले में पुलिस एक साल बाद भी नहीं कर सकी कोई कार्रवाई

Share Button

मामला बिहार के सीएम नीतीश कुमार के गृह जिले नालंदा के सरमेरा थाना क्षेत्र की है। विगत 1 जून, 2018 को ही सरमेरा थाना के छोटी छरियारी गांव में एक नाबालिक बच्ची के साथ सोई अवस्था में उसके पड़ोसी युवक ने जबरन दुष्कर्म किया………..”

एक्सपर्ट मीडिया न्यूज नेटवर्क डेस्क। पुलिस की लापरवाह कार्यशैली सामाजिक तौर पर तब काफी गंभीर हो जाती है, जब वह एक बच्ची के साथ दुष्कर्म की प्रथमिकी दर्ज नहीं करती और जब पीड़ता न्यायालय की शरण में जाती है और न्यायालय की गंभीरता पर प्राथमिकी दर्ज करती भी है तो कोई कार्रवाई नहीं करती। पॉस्को एक्ट के तहत दर्ज प्राथमिकी के तरीके भी अनेक सवाल खड़े करते हैं। खासकर उस परिस्थिति में जब वारदात और न्यायालय के आदेश-निर्देश की जानकारी पुलिस तंत्र के हर स्तर पर हो।

नालंदा जिले के सरमेरा थाना क्षेत्र के छरियारी गांव में विगत 1 जून, 2018 को ही एक नाबालिक बच्ची के साथ सोई अवस्था में उसके पड़ोसी युवक ने जबरन दुष्कर्म किया

इसके बाद पीड़िता के परिजनों ने ग्रामीण गवाहों के साथ मामले की शिकायत दर्ज करने सरमेरा थाना पहुंचे। लेकिन तात्कालीन थानाध्यक्ष ने ऐसे गंभीर मामले पर कोई संज्ञान नहीं लिया और डांट-डपट कर महिला थाना जाने को कहा।

इसके बाद जब पीड़ता महिला थाना पहुंची तो वहां भी उसकी एक नहीं सुनी गई। परिजनों समेत भगा दिया गया। इसके बाद पीड़ित परिजनों ने तात्कालीन डीएसपी और एसपी से दुष्कर्मी के खिलाफ कार्रवाई की गुहार लगाई। डीएसपी-एसपी भी अगंभीर बने रहे।

इसके बाद पीड़ित परिजन बिहार शरीफ न्यायालय के मुख्य दंडाधिकारी के समक्ष फरियाद लगाई। न्यायालय ने इसे गंभीरता से लेते हुए पुलिस (एसपी) को इस मामले में तात्काल प्राथमिकी दर्ज कर कार्रवाई करने के आदेश जारी की।

इस आदेश के बाद तात्कालीन सरमेरा थानाध्यक्ष उदय कुमार सिंह ने घटना के 6 माह बाद 27 नवंबर,2018 को भादवि की धारा-376, सेक्शन-3 पोस्को अधिनियम के तहत प्राथमिकी कांड संख्या-133/18 दर्ज की और मामले का अनुसंधान कर्ता बिहार शरीफ महिला थाना के एसआई अंजु तिवारी को बनाया।

उसके बाद पीड़िता ने थानाध्यक्ष, अनुसंधानकर्ता और डीएसपी के समक्ष अपना बयान दर्ज कराया। हालांकि यहां एक बड़ा सबाल उठता है कि सरमेरा थाना में प्राथमिकी दर्ज करने और महिला थाना के एसआई को अनुसंधान कर्ता बनाने के पिछे का असली ‘खेल’ क्या है। मामले को महिला थाना में हीं पुलिस ने दर्ज क्यों नहीं कराया और हुआ भी तो अनुसंधानकर्ता ने अब तक कोई जमीनी जांच कार्रवाई क्यों नहीं की?

इधर माननीय न्यायालय बार-बार कार्रवाई रिपोर्ट की तलब कर रही है, लेकिन न पुलिस के वरीय अफसर की कुंभकर्णी नींद ही टूट रही हैं और न ही अनुसंधानकर्ता की सेहत पर कोई फर्क पड़ रहा है। यह केंचुल पीड़िता के साथ न्याय में सबसे बड़ी बाधा बनी हुई है।

इस संबंध में वर्तमान सरमेरा थानाध्यक्ष ने कहा कि इस मामले की उन्हें कोई जानकारी नहीं है। अगर मामला दर्ज भी हुआ होगा तो महिला थाना में ही हुआ होगा। वहां के अनुसंधानकर्ता के बारे में कुछ नहीं बता सकते। जबकि मामला सरमेरा थाना में ही दर्ज है।

इस मामले में बिहार शरीफ महिला थाना में पदस्थ अनुसंधानकर्ता अंजु तिवारी का पक्ष लिया लिया गया तो उनका तर्क काफी चौंकाने वाला है। तिवारी का कहना है कि उन्होंने कई बार आरोपी दुष्कर्मी को पकड़ने की कोशिश की, लेकिन वह कहीं फरार है और पीड़िता या उसके परिजनों ने मुलाकात करना छोड़ दिया है।

उधर, कहा जाता है कि आरोपी दुष्कर्मी की रसुख के सामने पुलिस शुरु से ही नतमस्तक है। पैसा-पैरवी ने पुलिस की आंखो पर चर्बी चढ़ा रखी है, जिसे पिघलाने की हिमाकत उसके आला हुकुमरान भी नहीं कर पा रहे !

पीड़िता ने वर्तमान एसपी को सौंपे आवेदन में सीधा आरोप लगाया है कि न्यायालय के निर्देश पर मामला दर्ज होने के बाद स्थानीय पुलिस कार्रवाई करने के बजाय पीड़िता और गवाहों को ही धमकाना शुरु कर दिया है। आरोपी और उसके परिजन मुकदमा न उठाने की स्थिति में जान से मारने की धमकी दे रहे हैं।

Share Button

Related News:

यूं साईबर ठगी का शिकार का शिकार हुआ नालंदा पुलिस का जवान, सुनिए ऑडियो
रंगदारों ने ऑटो को क्षतिग्रस्त कर चालक को पीटा
राजगीर में चल रहा है यूं पानी का खेला
मवेशी विवाद में 2 भाई को गोली मारी, हालत गंभीर, पटना रेफर
बड़ी दरगाह-खानकाह मुअज्जम में करीब 4.85 करोड़ खर्च से बनेगा मुसाफिर खाना
दहेज की रकम वापस मांगी तो दामाद ने ससुर की गोली मार कर दी हत्या
रग्बी खिलाड़ी श्वेता शाही का सांसद ने किया स्वागत
पुख्ता इंतजाम के बीच आज देर रात निकलेगी ताजिया जुलूस
दबंगों ने गृहणी के साथ मारपीट कर जेवर छीना, घर में घुसकर बहु से किया दुष्कर्म का प्रयास
महान स्वतंत्रता सेनानी बाबू वीर कुंवर सिंह की जयंती मनाई
नगरनौसा में इस तरह सम्पन्न हुआ लोकसभा चुनाव
नगर परिषद की विकास बैठक से गायब रहे मुख्य पार्षद
बैंक मैनेजर का निर्देश- न निकालें SBI के इन ATM  से पैसे
हिलसा थानाध्यक्ष को लगी कोर्ट की फटकार, इस दुष्कर्म मामले में तुरंत करें एफआईआर⚖
पूर्व मुखिया ने महिला को गोलियों से छलनी कर मौत के घाट उतारा, आक्रोशित ग्रामीणों ने किया सड़क जाम
मरकट्टा में वोट बहिष्कार बीच गिरियक में शांतिपूर्व रहा चुनाव
'मॉब लींचिंग के खिलाफ जागरुकता फैलाएगा अपहरण-दुष्कर्म मामले का दोषी किशोर'
डीएम की चेतावनी के बाद निजी स्कूल के छात्रों को मिली राहत
बिहार शरीफ-राजगीर फोरलेन का निर्माण कार्य जून तक पूरा करने का निर्देश
नालंदा को उमस भरी गर्मी से मिली बड़ी राहत
हिलसा के वयोवृद्ध पत्रकार सुरेश प्रसाद आर्य का निधन
बिफरे मांझी- यहां लॉ एंड ऑर्डर फेल, पुलिस हाजत में महादलित नेता की हत्या की उठाएंगे आवाज
आपसी विवाद में गोलीबारी, पुलिस टीम पर भी गोलीबारी, दिव्यांग बच्चा को लगी गोली
आपस में भिड़े दो जातीय गुट, जमकर हुई पत्थरबाजी-गोलीबारी, कई घायल, एक गंभीर,FIR दर्ज

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading...
Don`t copy text!
» बिहार शरीफ नगर निगम की खुली पोल, घरों में घुसे गंदे पानी, तालाब बने कई मोहल्ले   » नालंदा सांसद के रोपे पेड़ यूं चर गयी बकरी😳   » पुलिस को शराब की सूचना देने की शक में सुबेलाल की पीट-पीट कर हत्या   » प्रतिभा सम्मान समारोह में सम्मानित किए गए छात्र   » नालंदा में 2 लाख सक्रीय सदस्य बनाएगी तैलिक साहू समाज :रणविजय   » बोले नालंदा एसपी- ‘पैथोलॉजी के क्षेत्र में भी बड़े बदलाव की जरूरत’   » दहेज लोभी ससुराल वालों ने बेन की जूली को फांसी लगा मार डाला   » बिहार शरीफ जेल के सुरक्षाकर्मी पर बदमाशों का कातिलाना हमला, हवलदार को गोली मारने की धमकी   » एसयू कॉलेज में व्याप्त अनियमितता से नाराज छात्र संगठन का भड़का गुस्सा   » चचेरे भाई ने गोली मारी, हालत गंभीर, गांव वाले आपसी चंदा से करा रहे ईलाज