सड़क जाम, आगजनी, पुलिस पिटाई मामले में 50 नामजद एवं 100-150 अज्ञात पर प्राथमिकी दर्ज

नगरनौसा (एक्सपर्ट मीडिया न्यूज नेटवर्क)। नालंदा जिले के नगरनौसा थाना क्षेत्र के राष्ट्रीय उच्च मार्ग 30ए पर  प्रेमन बिगहा मोड़ के पास गुरुवार के दिन लड़की अपहरण होने के 12 घंटे से अधिक समय बीत जाने के बाद भी लड़की बरामद नही होने से आक्रोशित सैकड़ों ग्रामीणों ने मुख्य मार्ग को जाम कर  आगजनी करते हुए जमकर बवाल काटा था। मौके पर पहुंची पुलिस की जमकर पिटाई भी की थी।

नगरनौसा थाना पुलिस ने इस मामले में 52 लोगों के खिलाफ नामजद एवं 100 से 150 अज्ञात लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की है।

बता दें कि बीते कल नगरनौसा पुलिस अपना धैर्य का परिचय देते हुए जबाबी कार्रवाई नहीं किया। आक्रोशित महिलाओं द्वारा पुलिस को भद्दी भद्दी गालियां दिया जा रहा था। ग्रामीण कुछ भी समझने को तैयार नहीं थे।

ग्रामीणों द्वारा यहां तक कि पुलिस पर पैसा लेकर काम नहीं करने का भी आरोप लगाया गया। इधर नगरनौसा पुलिस लड़की को बरामद करने को लेकर लगातार छापेमारी कर रहा था।

नगरनौसा पुलिस सूचना के आलोक में लड़की को फतुहा से बरामद किया। लड़की बरामद होने के बाद लड़की द्वारा परिजन से बात करने के बाद भी परिजनों द्वारा सड़क जाम नहीं हटाने को तैयार हो रहे थे। परिजनों द्वारा जब तक लड़की नहीं देखेंगे तब तक जाम नहीं हाटाने पर अड़े हुए थे।

इधर घटना की जानकारी मिलते ही हिलसा के निवर्तमान डीएसपी मुतफिक अहमद ,चंडी थाना अध्यक्ष चंचल कुमार ,चंडी सर्किल इंस्पेक्टर अशोक कुमार घटनास्थल पर पहुंचे थे। वे सब आक्रोशित ग्रामीणों को समझा रहे थे। लेकिन आक्रोशित लोग किसी भी परस्थितियों में समझने को तैयार नहीं हो रहे थे। ग्रामीणों द्वारा लगातार प्रशासन पर आरोपों की बौछार लगाया जा रहा है।

इधर 5 घंटा सड़क जाम रहने से नेशनल हाईवे पर दोनों ओर वाहनों की लंबी लाइन लग गई। जिससे आम लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ा था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here