एडवांस डेरी प्रोजेक्ट के लिए नाबार्ड उपलब्ध कराएगी अनुदानित ऋण

एक्सपर्ट मीडिया न्यूज नेटवर्क। नालंदा जिला में डेयरी के क्षेत्र में अपार संभावनाएं हैं। जिला गव्य विकास पदाधिकारी के कार्यालय के माध्यम से छोटे-छोटे डेयरी प्रोजेक्ट के लिए अनुदान पर आधारित योजनाओं का क्रियान्वयन किया जा रहा है।

इस क्षेत्र में एडवांस डेरी प्रोजेक्ट की भी असीम संभावना है। इसके तहत मिल्क प्रोसेसिंग यूनिट, मिल्क चिलिंग यूनिट आदि की स्थापना की जा सकती है।

इसके लिए नाबार्ड द्वारा सामान्य वर्ग के लोगों को 25% अनुदान तथा अनुसूचित जाति जनजाति वर्ग के लोगों को 33% अनुदान दिया जाएगा।

आज के डीएलसीसी की बैठक में जिला पदाधिकारी ने एडवांस डेयरी प्रोजेक्ट की स्थापना करने के इच्छुक लोगों को जागरूक करने का निर्देश जिला गव्य विकास पदाधिकारी तथा डीपीएम जीविका को दिया।

ऐसे इच्छुक अधिक से अधिक लोगों से प्रोजेक्ट के लिए प्रस्ताव प्राप्त करने के लिए दोनों अधिकारियों को निर्देश दिया गया। प्रत्येक प्रखंड में कम से कम एक व्यक्ति के माध्यम से पायलट प्रोजेक्ट के रूप में इसके लिए पहल करने का निर्देश दिया गया।

कृषि क्षेत्र की सहयोगी गतिविधियों के क्षेत्र में अधिक से अधिक लोगों को रोजगार का अवसर उपलब्ध कराने के लिए उपलब्ध योजनाओं के प्रचार-प्रसार के लिए आरसेटी नूरसराय में सभी पदाधिकारियों एवं इच्छुक व्यक्तियों के लिए एक दिवसीय उन्मुखीकरण कार्यशाला का आयोजन अगले सप्ताह किया जायेगा।

जिला पदाधिकारी ने जिला गव्य विकास पदाधिकारी, डीपीएम जीविका सहित अन्य पदाधिकारियों को अधिक से अधिक इच्छुक लोगों को इस कार्यशाला में शामिल करने का निर्देश दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here