बौद्ध धर्मालंबी मंगोलियन राष्ट्रपति ने किया नालंदा खंडहर का अवलोकन

Share Button

एक दशक बाद किसी मंगोलियन राष्ट्रपति का भारत दौरा हुआ है।  दोनों देश के बीच 2500 सौ साल से घनिष्ठ संबंध रहे हैं।  राष्ट्रपति बौद्ध धर्म को मानने वाले हैं…………”

नालंदा दर्पण (दीपक विश्वकर्मा)। मंगोलिया  के राष्ट्रपति खल्तमागीन बत्तुल्गा अपने 70 सदस्यीय टीम के साथ नालंदा पहुंचे, जहाँ उन्होंने  प्राचीन नालंदा विश्वविद्यालय के भग्नावशेष का अवलोकन किया। इस मौके पर बिहार के ग्रामीण विकास मंत्री श्रवण कुमार ने उनका स्वागत किया।

राष्ट्रपति के आगमन को लेकर जिला प्रशासन द्वारा सुरक्षा के व्यापक इंतजाम किये गए थे। राष्ट्पति करीब एक घंटे तक पूरे खंडहर का भर्मण कर यहां के गौरवशाली इतिहास के बारे में जानकारी ली। 

मंगोलिया में भारत के राजदूत एमपी सिंह ने बताया कि राष्ट्पति के  साथ 70 लोगों का शिष्टमंडल है, जिनमें मंगोलिया के 40 बिजनेसमैन है।

उन्होंने बताया कि 10 साल बाद किसी मंगोलियन राष्ट्रपति का भारत दौरा हुआ है।  हमारे और मंगोलिया के बीच 2500 सौ साल  से घनिष्ठ संबंध रहे हैं।  राष्ट्रपति बौद्ध धर्म को मानने वाले हैं और यहां आकर उन्हें काफी अच्छा लगा और उन्होंने महाबोधी टेंपल बोधगया और उसके बाद उन्होंने नालंदा का भ्रमण किया है।

ग्रामीण विकास मंत्री श्रवण कुमार ने कहा कि बौद्ध धर्म से जुड़े हुए जो चीजें हैं, उसे आज दुनिया में अपनाने की जरूरत है। ताकि शांति प्रेम आपस में मिल्लत भाईचारा पैदा हो सकें और जो बौद्ध धर्म है, उस सब को जोड़ता है। सभी लोगो में प्रेम पैदा करता है। भाईचारा पैदा करता है।

खंडहर भर्मण के बाद राष्ट्पति नालंदा म्यूजियम गए और नालंदा खंडहर से खुदाई में मिले बुध्द मूर्तियों और अवशेषों को देखा।  मंगोलिया के राष्ट्पति के साथ 40 बड़े बिजनेस मैन का भारत आगमन यह भारत और मंगोलिया के बीच व्यापारिक रिश्तो को और मजबूत करने की दिशा में बड़ा कदम माना जा रहा है।

Share Button

Related News:

मुखिया पति ने यूं हाथ तोड़ अपनी गर्दन बचाने का किया प्रयास
नीतीश सरकार के इस तानाशाही रवैया से त्रस्त संवेदकों ने दी काम बंद करने की चेतावनी
नूरसराय थाना के जमादार पवन कुमार को बाइक समेत ट्रक ने कुचला, मौत
प्रेमिका के चक्कर में पत्नी को जिंदा जला कर मार डाला!
बिहार थाना के चालक पुत्र के दोनों आंख में सरेआम गोली मारी, मौत
चिक्सौरा में दिनदहाड़े सरेराह गोली मार कर युवक की हत्या
डीएलसीसी की बैठक में डीएम ने बैंकों को सीडी रेशियो को बढ़ाने समेत दिए कई अहम निर्देश
बाप नबंरी-बेटा दस नबंरी, खुल गई सारी पोल पट्टी, फर्जी शिक्षक भी निकला
मनरेगा में लाखों का फर्जीवाड़ा, विरोध में नगरनौसा थाना का घेराव!
पेयजल समस्या को लेकर ग्रामीणों ने 3 घंटा रखा इस्लामपुर-पटना मुख्य सड़क जाम
बेखौफ बदमाशों ने युवक को सरेआम गोली मारी, हालत गंभीर,पटना रेफर
बेन के छोटी आट में ताड़ी को लेकर गोलीबारी, एक अधेड़ की पीट-पीट कर हत्या
ट्रक ने ऑटो को ठोका, फलदान देकर लौट रहे एक की मौत, 4 जख्मी
नशीला कोल्ड ड्रिक्स पिलाकर नाबालिग से दुष्कर्म, पुलिस के हवाले आरोपी
पहली बारिश में ही यूं भरभरा गया बिहार शरीफ नगर निगम की 15 लखिया सड़क
नवादा में लू का कहर जारी, अब तक 17 की मौत, दर्जनों आक्रांत, नालंदा विम्स में हुई 6 मौतें
ऐतिहासिक बेशवक गांव के इस सरकारी अस्पताल को खुद ईलाज की जरुरत
बाप को गोली मारने जा रहा बेटा हथियार समेत धराया
सांसद-विधायक कभी झांकने नहीं आया गांव, लोगों ने किया वोट वहिष्कार
फिर बौराई पुलिस, सेवानिवृत शिक्षक को शराब कारोबारी बना हाजत में किया बंद
बदमाशों ने यूं मारपीट कर राहगीर से हजारों की संपति लूटी
जज मानवेन्द्र मिश्रा का आदेश- ‘नगर आयुक्त की निगरानी में सामाजिक अभियान चलाए दोषी किशोर’
शादी में गए दो बच्चों को किया हाजत में बंद, पुलिस जबरन बना रहा चोर  
जलवायु परिवर्तन पर तीन दिवसीय राज्यस्तरीय सेमिनार का आयोजन

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading...

You may have missed

Don`t copy text!
» OMG ! राज्य सूचना आयुक्त के 25 हजारी दंड के बाबजूद DPO-DEO ने नहीं दी सूचना   » हिलसा में 20 लाखिया वकालतखाना का शिलान्यास   » चंडी थाना की सुरक्षा ऐसी कि आरोपी वितंतु रुम से भाग गया, भनक तलाश रही पुलिस   » सरमेरा नाबागिल रेप कांडः 18 माह बाद भी थेथर बनी है नालंदा महिला थाना पुलिस   » बोले जिला जज श्याम किशोर झा- ‘न्याय श्रृंखला के अहम कड़ी होते हैं वकील’   » डीजीपी ने सोनपुर मेला-2019 में एसपी समेत इन पुलिस अफसर-कर्मियों को किया सम्मानित   » सोनपुर मेला-2019 में नालंदा एसपी समेत ये पुलिस अफसर-कर्मी होंगे सम्मानित     » शराब माफिया ‘बल्लुआ’उर्फ‘पल्लुआ’ समेत 3 लोगों को मिली 10 साल की सजा   » गल्ला व्यवसायी के साथ लूट, विरोध करने पर तोड़ा जबड़ा   » गरीब-बच्चों की सेवा में ही जगत का कल्याण : ई.रविशंकर