बेन सीओ-ट्रेजरी अफसर की बड़ी लापरवाही, दशहरा में भी वेतन से बंचित ये चौकीदार

Share Button

हिन्दी सम्राट मुंशी प्रेमचंद ने अपनी प्रसिद्ध कहानी ‘नमक का दारोगा’ में लिखा था कि मासिक वेतन तो पूर्णमासी का चांद होता है……लेकिन जरा कल्पना कीजिए कि किसी चौकीदार को एक साल से वेतन ही न मिले तो उसका जीवन आमावस्या से भी कितनी भयावह होगी……………..”

एक्सपर्ट मीडिया न्यूज नेटवर्क। जी हां, हम बात कर रहे हैं सीएम नीतीश कुमार के गृह जिले नालंदा के बेन थाना के अधीन कार्यरत 3 चौकीदार की। इन्हें पिछले एक साल से वेतन नहीं मिला है और इस दशहरा जैसे पर्व के मौके पर भी वे वेतन से वंचित रह गए हैं। जबकि सीएम नीतीश कुमार ने खुद निर्देश दे रखी है कि दशहरा के पहले सभी कर्मचारियों का वेतन भुगतान कर दिया जाए।

चौकीदारों की ऐसी पीड़ा में बेन सीओ और उनके नाजिर की लापरवाही या कोई स्वार्थ साफ नजर आती है। एक तो उन्होंने एक साल तक चौकीदारों का वेतन प्रक्रिया बाधित रखी और जब इधर दशहरा के मौके पर वेतन भुगतान करवाने की बात आई तो उन्होंने आश्वासन के विपरित मानसिकता का परिचय देते हुए बिलंब से विपत्र भेजी।

इधर बिहार शरीफ (नालंदा) ट्रेजरी ऑफिसर ने यह कहते हुए वेतन भुगतान करने से इंकार कर दिया है कि छुट्टी हो जाने के कारण कार्यालय बंद है। हालांकि कल उन्होंने लिंक फेल होने का बहाना बनाया था।

चौकीदार संजय कुमार (8/1) बताता है कि उसके घर की माली हालत काफी खराब है। पूरा परिवार कर्जा में डूब चुका है। फीस जमा नहीं करने के कारण उसके बच्चे को स्कूल वाले निकाल चुके हैं। जी करता है कि आत्महत्या कर लें। ऐसी नौकरी ही किस काम की, जो जीवन को ही जलील कर दे।

कमोवेश यही दयनीय हालत चौकीदार शंभु कुमार (10/3) और चौकीदार उपेन्द्र कुमार (8/2) की है।

ऐसे में सवाल उठना लाजमि है कि पर्व-त्योहार और घर-परिवार सिर्फ बेन सीओ या ट्रेजरी अफसर सरीखे लोगों के लिए ही होती है। इनमें इतनी मानवता भी नहीं बची है कि उनकी जेहन में निरीह चौकीदार की पीड़ा घुसे।   

Share Button

Related News:

कारगिल शहीदों का शौर्य नहीं भूलना असंभव :ब्रिगेडियर विरेंद्र सिंह
जहां पहली बार वर्ष 1983 में हुआ ईवीएम का प्रयोग, गुमनामी में खो गया गौरवशाली अतीत वाला वह चंडी  
यूं चिढ़ियाए जदयू सांसद आरसीपी सिंह- 'वोट मांगने नहीं आए, मांगते भी नहीं, दें या न दें' !
भाजपा में भूचालः कौशलेन्द्र कुमार, श्याम भारती सरीखे 7 वरीय नेताओं को पार्टी से निकाला
घायल युवक की मौत के बाद सड़क जाम, 4.20 लाख मुआवजे के बाद हटे लोग
राजगीर के गांव में विषाक्त श्राद्ध भोजन खाने से 70 से अधिक लोग बीमार
एक्सपर्ट मीडिया न्यूज नेटवर्क के कर्तव्य को अब आपके दायित्व की जरुरत.....✍
कोर्ट मैरेज के बाद यूं भाई के पचड़े में फंसी दुल्हन, पुलिस की कार्यशैली भ्रामक
सरमेरा में युवक को मां-भाई के सामने गोलियों से भूना, मौके पर मौत
समाज हित में जो बात करेगा, समाज उसी को मतदान करेगाः श्रवण कुमार
खुद कानून तोड़ दूसरों का काट रहे हैं चालान, अवैध वसूली अलग
बाइक सवार दो कारोबारी सगे भाई को ट्रक ने रौंदा, मौके पर मौत
पर्यावरण जागरूकता अभियान को लेकर चिंतन शिविर का आयोजन
बैंक परिसर से छात्रा की साइकिल चोरी, सीसीटीवी कैमरा में यूं कैद हुआ चोर
ट्रैक्टर से भीषण टक्कर के बाद 150 मीटर बिना चालक चलती रही यात्री बस, बड़ा हादसा टला
नव विवाहिता की हत्या, पति-सास पर लगा आरोप, 45 दिन पहले हुई थी शादी
हुलास की पीट-पीट कर हत्या के बाद महादलित परिवारों में दहशत का माहौल
जब नालंदा की जमीं चंडी में पहली बार उतरा रामगढ़ महाराज का हेलिकॉप्टर!
नगरनौसा बवालः उधर दूसरे गुट ने एसटीएसी थाना में यूं किया छेड़खानी का केस🤔
120 करोड़ की योजना से बिहार शरीफ को जल जमाव से मिलेगी निजात : सौरभ जोरवाल
क्या कहती है जदयू नेता की थाना के टॉयलट में टंगी शव की यह तस्वीर, आत्म हत्या?
दहेज लोभी ससुराल वालों ने बेन की जूली को फांसी लगा मार डाला
लोग सूचना देते-देते थक गए, लेकिन न SDO वोट दिला पाए और न DM
खाई में पलटी अनियंत्रित ट्रैक्टर, चालक और किसान की मौत

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading...

You may have missed

Don`t copy text!
» भगवती जागरण में पहुंचे सांसद-मंत्री-विधायक, रात भर झूमते रहे श्रोता   » ..डीएम साहब, जरा देख लीजिए आशा कार्यकर्ताओं की झोंटी-झोटौव्वल और लात-घुसे   » ससुराल लाकर युवक को यूं बेरहमी से काट कर मार डाला !   » ‘बबुनी रेप कांड’ को लेकर फूटा जनाक्रोश, नीतीश कुमार मुर्दाबाद के नारों से गूंजा राजगीर   » ‘बबुनी’ बचाओ आंदोलन के निशाने पर पुलिस-प्रशासन और राज्य महिला आयोग   » हिलसा पुलिस ने दिनदहाड़े लूटपाट करते लोडेड पिस्तौल लिये एक लुटेरा को दबोचा   » 4व्हीलर न मिला तो ससुराल वालों ने 5 साल बाद रुबी को गला दबाकर मार डाला!   » ट्रैक्टर से भीषण टक्कर के बाद 150 मीटर बिना चालक चलती रही यात्री बस, बड़ा हादसा टला   » सीएम नीतीश के गृह जिले में ही उनके पुतले में लगी ‘बबुनी’ की आग   » नर्तकियों के अश्लील ठुमके के दीवाने हुए जदयू विधान पार्षद हीरा बिंद