भगवती जागरण में पहुंचे सांसद-मंत्री-विधायक, रात भर झूमते रहे श्रोता

विगत 15 वर्षों से शरद पूर्णिमा के अवसर पर हिलसा के सूर्य मंदिर परिसर में भगवती जागरण का आयोजन किया जाता रहा है…….”

नालन्दा दर्पण (चुन्नु चन्द्रवंशी)। शरद पूर्णिमा के अवसर पर हिलसा शहर सूर्य मंदिर परिसर में आयोजित जय माता दी भगवती जागरण कार्यक्रम का विधिवत उद्घाटन बिहार सरकार के सूचना एवं जनसंपर्क मंत्री नीरज कुमार, नालंदा के सांसद कौशलेंद्र कुमार एव इस्लामपुर विधायक चंद्रसेन प्रसाद ने संयुक्त रूप से रीबन काटकर किया।

इसके पहले शहर के ऐतिहासिक महाकाली मन्दिर में मंत्री ने विधिवत पूजा अर्चना के बाद पैदल चलकर माता भगवती के सजा दरवार में हाजरी लगाने पहुंचे।

इस दौरान मंत्री नीरज कुमार ने अपने सम्बोधन में कहा कि नालंदा ज्ञान की भूमि है यहाँ के सभी युवा साक्षर हो। नालंदा के युवाओं का विश्व मे अपनी एक अलग पहचान से जानी जाती है। माता रानी इन पर कृपा बनाये रखने की कामना की।

उन्होंने वैसे लोगो से विनती करते हुए कहा कि आज जिस तरह सौहार्द के नाम पर लोगो को लड़ाने का काम किया जा रहा सभी लोगों से निवेदन है कि आपसी भाईचारा सामाजिक समरसता बनाये रखने और और मां बेटी माता पिता का सम्मान करने की अपील की।

उन्होंने वर्तमान समय मे हो रहे जलवायु परिवर्तन पर गहरी चिंता व्यक्त करते हुए कहा कि आज जलवायु परिवर्तन के कारण हमारे मौसम का मिजाज बदलता जा रहा है ऐसे परिवेश में हमें जागरुक होकर पेड़ लगाना होगा।

वही नालंदा के सांसद कौशलेंद्र कुमार ने भी हो रहे जलवायु परिवर्तन पर गहरी चिंता जताते हुए पर्यावरण को देश दुनिया के लिए बड़ी समस्या बताया।

उन्होंने पर्यावरण को संतुलित करने के लिए लोगो से अपने अपने जीवन मे आने बाले पीढ़ी के लिए कम से कम एक पेड़ जरूर लगाने एव उसकी सुरक्षा करने की अपील की। इस दौरान देश के विभिन्न क्षेत्रों से आए कलाकारों ने एक से बढ़कर एक भक्ति गीत व नृत्य की प्रस्तुति दिया, जहाँ माता के भक्तों ने पूरी रात जमकर लुफ्त उठाते हुए पूरी रात झूमते रहा एव शहर भक्तिमय हो गया।

इस मौके पर जय माता दी भक्ति जागरण के आयोजक सह युवा वार्ड पार्षद विजय कुमार विजेता, जदयू प्रखण्ड अध्यक्ष शैलेन्द्र कुमार, ललित कुमार, प्रफुल पटेल, विनोद प्रसाद,भरत शर्मा, जितेंद्र कुमार,मनीष कुमार, धनन्जय कुमार, विकाश कुमार, रूपेश पटेल, चन्दन कुमार, राजमोहन प्रसाद, संजीत कुमार, के अलावे जागरण समिति के सदस्य गण मौजूद थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here