चंडी में स्वर्ण व्यवसायी से पिस्तौल की नोक पर 2 लाख की सरेराह लूट

नालंदा दर्पण। चंडी थाना ईलाके से एक बड़ी खबर आ रही है। बोधीबिगहा-लोदीपुर गांव के बीच रामघाट-रामपुर मार्ग पर बदमाशों ने एक बड़ी लूट की वारदात को अंजाम दिया है।

कहा जाता है कि कुछ देर पहले शाम करीब सवा सात बजे रामघाट-महमदपुर बाजार के स्वर्ण व्यवसायी अजित कुमार अपनी बाइक से रोज की तरह अपना रामपुर गांव लौट रहा था कि पहले से घात लगाए अपाची-पल्सर सवार  बदमाशों ने पिस्तौल की नोक पर एक लाख रुपए नगद समेत करीब दो लाख रुपए मूल्य के जेवरात आदि लूट कर आराम से चलते बने।

हमारे नगरनौसा संवाददाता के अनुसार प्रखंड अंतर्गत चंडी थाना क्षेत्र के रामघाट-रामपुर लिंक पथ के बोधी बिगहा गांव के पास दुकान बंद कर घर जा रहे स्वर्ण व्यवसायी से दो बाइक पर सवार सात बदमाश ने पिस्टल भिड़ाकर लगभग एक लाख नगद सहित दो लाख रुपया का समान लूट लिया।

रामपुर निवासी व स्वर्ण व्यवसायी अजित कुमार…….

चंडी थाना क्षेत्र के बोधी बिगहा गांव के पास धर लूट की घटना सुनकर नगरनौसा थाना की गश्ती पुलिस रामघाट बाजार पहुंच पीड़िता से घटना की जनकारी ली।

रामपुर निवासी व स्वर्ण व्यवसायी अजित कुमार का रामघाट- महमदपुर गांव में नव दुर्गा ज्वेलर्स नमक दुकान है। प्रतिदिन की तरह दुकान बंद कर बाइक से अपने घर रामपुर जा रहा था।

आज शाम करीब सवा सात बजे जैसे ही बोधी बिगहा गांव के पास आगे पहुंचा कि पहले से घात लगाए दो मोटरसाइकिल पर सवार सात अपराधियों ने उसे घेर लिया और बैग छिनने लगे। इतने में एक बदमाश ने अजीत के सिर पर पिस्टल भिड़ा दिया।

उसके बाद एक बदमाश ने हमसे बैग छीन लिया। बैग में दुकान का चाभी, एक लाख नगद, 55 ग्राम सोने का जेवर सहित लगभग दो लाख का समान थे। उसे लूटने के बाद अपराधी नगरनौसा की ओर भाग गया। इसकी सूचना ग्रामीणों को दिया।

ग्रामीणों ने इसकी सूचना नगरनौसा थाना व चंडी थाना को दिया। समाचार लिखे जाने तक नगरनौसा व चंडी थाना घटना स्थल पर पहुंचकर बदमाशों को दबोचने के बजाय एक घंटा से स्थाल का अभी जायजा ही ले रहा है।

बता दें कि इस मार्ग पर पुलिस लूट-छिनतई की घटना को लेकर कभी गंभीर नहीं रहा है। पिछली बार ठीक इसी तरह से लोदीपुर निवासी एक सेवा निवृत शिक्षिका से अपाची सवार बदमाशों ने चंडी पंजाब नेशनल बैंक से पैसा निकाल घर वापस लौटने के क्रम में दिनदहाड़े एक बड़ी राशि छीन कर फरार हो गए थे। इस संबंध में सारे लोकेशन बताने के बाद भी 3 थाना की पुलिस हाथ पर हाथ धरे बैठी रही और अंत में मामले को जमीन विवाद से जोड़ कर उस लूट की वारदात को रफा-दफा कर दिया।

इसके बाद भी एक सेवानिवृत सरकारी कर्मचारी का घर बुरी तरह से लूट लिया गया। पुलिस ने कोई ठोस कार्रवाई नहीं की। पीड़ित परिवार लुटेरों से आज भी काफी सहमा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here