हैदराबाद-रांची में रेपकांड के खिलाफ हिलसा में माले का नागरिक मार्च

विगत छः माह के अंदर देश मे 24112 बलत्कार व यौन हिंसा की मामले दर्ज हुए हैं। हर दिन बलत्कार व हिंसा की 132 घटनाएं सरकारी आंकड़े के मुताबिक हो रही है, जबकि वास्तविक में सरकारी आंकड़े से ज्यादा घटना हो रही हैं। हैदराबाद में महिला डॉक्टर के साथ हुई घटना ने पूरे देश को झकझोर कर रख दिया है…….”

नालंदा दर्पण (चुन्नु चन्द्रवंशी)। हैदराबाद के महिला डॉक्टर के साथ सामूहिक दुष्कर्म के बाद जिंदा जलाकर हत्या करने और राँची में कानून की पढ़ाई करने बाली आदिवासी छात्रा के साथ सामूहिक बलात्कार कांड के खिलाफ मंगलवार को भाकपा माले के द्वारा हिलसा में नागरिक मार्च का आयोजन किया गया।

नागरिक मार्च माले कार्यालय से निकलकर काली स्थान,वरुण तल,सिनेमा मोड़ होते योगीपुर मोड़ के पास पहुंचा, जहाँ मार्च सभा में तब्दील हो गयी।

सभा को संबोधित करते हुए माले के जिला सचिव कामरेड सुरेंद्र राम ने हैदराबाद महिला डॉक्टर की बलत्कार के बाद नृशंस हत्या और राँची में आदिवासी छात्रा के साथ सामूहिक बलात्कार की घटना पर कड़ी निंदा करते हुए आरोपियों को फाँसी देने की मांग करते हुए भाजपा के केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि भाजपा के द्वारा बेटी पढ़ाओ- बेटी बचाओ की नारा देने बाली ये संधी सरकार बलात्कारियों के पक्ष में खुलकर खड़ी होती रही है।

नेताओं ने बलत्कार व यौन हिंसा की सामुदायिक व्याख्या पर रोक लगाने एवं देश में महिलाओं की सुरक्षा की गारंटी करने के साथ साथ हैदराबाद व रांची की घटना में संलिप्त आरोपियों को कड़ी से कड़ी सजा देने की मांग की।

इस मौके पर खेग्रामस के जिलाध्यक्ष प्रमोद यादव, जयप्रकाश पासवान, प्रो. शैलेस यादव, शिवशंकर प्रसाद, मुन्नीलाल यादव, अशोक पासवान, इंदल विंद, संजय पासवान, राजेश रविदास, रामप्रवेश केवट आदि कार्यकर्ता मौजूद थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here