पीएम-सीएम के भरोसे के बाबजूद महाप्रबंधक ने नीरा कर्मियों को हटाया

नालंदा दर्पण डेस्क। केन्द्र व राज्य सरकार की घोषणा के बाबजूद हाजीपुर एवं बिहार शरीफ अवस्थित नीरा परियोजना में आपूर्ति मानवबल को हटा दिया गया है।

बिहार स्टेट मिल्क को-ऑपरेटिव फेडरेशन लिमिटेड के महाप्रबंधक ने नालंदा एवं हाजीपुर परियोजना पदाधिकारी को भेजे ई-मेल आदेश में लिखा है कि कोविड-19 के कारण पूरे भारत वर्ष में लॉकडाउन चल रहा है। इस परिस्थिति में नीरा का उत्पादन बंद है।

फलतः नीरा की आपूर्ति बिहार शरीफ एवं हाजीपुर के संयत्रों को उपलब्ध नहीं हो पा रहा है। जिसके कारण उक्त दोनों संयत्रों में नीरा के विद्मान कार्य नहीं हो पा रहा है।

अतः अनुबंध की कंडिका- में निहित शर्तों के आलोक में उपलब्ध सभी मानव बल को 30 अप्रैल,2020 के उपरांत कार्य विमुक्त कर दिया जाए।

बिहार स्टेट मिल्क को-ऑपरेटिव फेडरेशन लिमिटेड के महाप्रबंधक के इस आदेश के बाद नीरा परियोजना के सभी अनुबंधकर्मियों में मातम छा गया है।

वहीं पीएम नरेन्द्र मोदी एवं सीएम नीतीश कुमार का आम जनों का वह भरोसा टूट गया है, जैसा कि लॉकडाउन में किसी के भी रोजगार से बंचित नहीं होने देने की घोषणा की थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here