इस्लामपुर में रेलवे सिग्नल से जिस युवक का लटका हुआ मिला था शव, उसकी पोस्टमार्टम रिपोर्ट में गड़बड़ी की आशंका

बिहार शरीफ (नालन्दा दर्पण)। नालंदा जिला के इस्लामपुर थाना क्षेत्र में रेलवे सिग्नल की सीढ़ी पर एक युवक का शव लटका हुआ मिला। इसके बाद इलाके में हड़कंप मच गया।

युवक की पहचान थरथरी थाना के पेंदापुर गांव निवासी अमरेश यादव के पुत्र ललन कुमार (22 वर्ष) के रूप में हुई। मृतक अपने पूरे परिवार के साथ अपने ननिहाल इस्लामपुर के वीराबिगहा में ही रह रहा था।

लाश मिलने के बाद से परिजनों खासकर गर्भवती पत्नी मंजू देवी का रो-रोकर बुरा हाल है। मृतक का एक तीन वर्षीय पुत्र भी है। इस घटना के बाद परिजनों ने युवक की हत्या करने की आशंका जताई है।

मृतक के बड़े भाई गजेंद्र यादव ने बताया कि उसके पिता अमरेश यादव और मौसा विनय यादव के बीच ननिहाल वीराबिगहा में 35 डिसमिल जमीन को लेकर विवाद चल रहा है। इस विवाद में रविवार को नापी भी हुई थी।

वहीं, नापी के दौरान ही मौसेरे भाई ने मेरे भाई को जान से मारने की धमकी थी और बीती रात मौसेरे भाई ने गमछे से गला दबाकर मेरे भाई की हत्या कर दी। शव को रेलवे सिग्नल की सीढ़ी पर लटका दिया है।

इसके अलावे परिजनों ने पोस्टमार्टम रिपोर्ट को लेकर गड़बड़ी करने की आशंका जताई है। साथ ही प्रशासन से ये मांग की कि इसका पोस्टमार्टम मेडिकल बोर्ड का गठन कर करवाया जाए, ताकि कोई गड़बड़ी ना हो और हम लोगों को सही इंसाफ मिले। अपनी मांगो को लेकर परिजन शव को लेकर अस्पताल में इंतजार कर रहे हैं।

घटना की सूचना मिलते ही पुलिस घटनास्थल पर पहुंचकर शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। पुलिस मामले की तफ्तीश में जुट गई है। इस मामले में फिलहाल अभी तक किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है।

वहीं, इस्लामपुर पुलिस ने कहा कि पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट आने के बाद ही पता चल पाएगा कि यह हत्या है या आत्महत्या। उसके बाद ही आगे की कार्यवाई की जाएगी।

इस्लामपुर में एक और लाश बरामदः उधर एक अन्य समचार के अनुसार इस्लामपुर थाना पुलिस ने सोमवार को नगर के पक्की तालाब के समीप सड़क किनारे से एक युवक का शव बरामद किया है।

मृतक इसलामपुर थाना क्षेत्र के भागवतपुर गाँव निवासी जमुना सिंह का पुत्र विनोद प्रसाद है।

घटना के संबंध में मृतक के भाई गणेश प्रसाद ने बताया कि मृतक विनोद प्रसाद गुजरात के बलसाड जिला अन्तर्गत वापी में प्राइवेट कपड़ा उद्योग में काम करता था। वहां से रविवार को घर लौटा था कि ग्रामीणों एवं परिजनों ने कोरोना जाँच कराने की सलाह दी।

घटना के संबंध मे थानाध्यक्ष शरद कुमार रंजन ने बताया कि मृतक के पैकेट में रखे आधार कार्ड से उसकी पहचान की गई।

पुलिस ने मृतक के शव को बिहारशरीफ़ सदर अस्पताल में पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही मृतक की मौत का कारण स्पष्ट हो सकेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here