अवैध कार्यों में असहयोग करना पड़ा महंगा, अध्यक्ष पद से हटाई गईं उर्मिला

राजगीर (नालंदा दर्पण)। राजगीर नगर पंचायत के अध्यक्ष उर्मिला चौधरी को आखिर सोमवार को नगर अध्यक्ष पद से अविश्वास प्रस्ताव पारित कराकर हटा दिया गया। लॉकडॉउन में शुरू हुआ अविश्वास अनलॉक होते ही बोर्ड द्वारा पारित कर अध्यक्ष उर्मिला देवी की छुट्टी कर दी गयी।

कोरोना काल मे लौकडॉन में नगर पंचायत के कुल  आठ वार्ड पार्षद पंकज कुमार,रमेश राजवंशी, मीरा कुमारी, सुवेन्द्र राजवंशी ,सावित्री देवी, रुक्मिणी देवी, मीणा देवी एवं उमेश रजक ने अविश्वास प्रस्ताव लाकर विभिन्न आरोप अध्यक्ष उर्मिला देवी पर लगाया गया था।

अविश्वास पर चर्चा के लिए एक बार 15 अप्रैल की तारीख भी तय हुई थी, लेकिन लॉकडॉउन बढ़ जाने के कारण अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा स्थगित कर दी गयी थी।

सोमवार को नगर पंचायत कार्यालय में विशेष बैठक नगर उपाध्यक्ष पिंकी देवी की अध्यक्षता में सम्पन्न हुई, जिसमें उपस्थित सभी 14 वार्ड पार्षदों ने सर्वसम्मति से अविश्वास प्रस्ताव के पक्ष में वोटिंग कर अध्यक्ष उर्मिला देवी को पद से हटा दिया।

इस विशेष बैठक से अध्यक्ष उर्मिला देवी, वार्ड पार्षद अंजलि कुमारी, श्रवण कुमार एवं मीना देवी अनुपस्थित रही।

  • पद से हटने के बाद उर्मिला देवी सह जदयू नेत्री ने बताया कि नगर उपाध्यक्ष पिंकी देवी के पति द्वारा अवैध बिल भुगतान का हमेशा दबाब बनाया जाता था।
  • नगर के कार्यपालक पदाधिकारी प्रथमा पुष्पांकर को राजगीर से स्थानांतरित करने का पत्र लेटर पैड पर लिखकर देने का दबाब बनाया जा रहा था।
  • वर्षो से नगर पंचायत कार्यालय में कार्यरत रहे कुल 9 कर्मियों को हटाकर नए लोगों की बहाली के दबाब बनाया जा रहा था।

जब कार्यालय और राजगीर वासियों के हित में ऐसा करने से मना किया तो सभी लोग मिलकर मुझे साजिश के तहत हटाने का कार्य किये हैं।

उर्मिला देवी ने यह भी कहा कि उपाध्यक्ष पति के निर्देश पर बोर्ड को प्रभाव में लेकर पिछले दो वर्ष में सगे सम्बन्धियो की अवैध नियुक्ति नगर पंचायत में की गई और अवैध तरीके से वेतन भुगतान के साथ,नगर के कोष को लूटने का अंजाम दिया जा रहा है,जिसका खिलाफ करने की सजा मुझे साजिश के तहत पद से हटाया गया।

उर्मिला देवी के अध्यक्ष पद से हटते ही राजगीर में राजनीतिक चर्चा का बाजार गर्म है। क्योंकि अब अध्यक्ष पद अनुसूचित महिला आरक्षित सीट के लिए दो ही विकल्प है- मार्क्सवादी नगर से रुक्मिणी देवी और अजातशत्रु नगर से मुन्नी देवी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here