बिहार शरीफ (नालंदा दर्पण)। ‘बिहार में बहार है। क्योंकि यहां सुशासन की सरकार है। सीएम नीतीश कुमार हैं….’ नालंदा जिला मुख्यालय बिहार शरीफ नगर अवस्थित एक मात्र महिला थाना में कमोवेश यही आलम दिख रहा  है।

यहां रात 10 बजे से सुबह करीब 8 बजे तक गे़ट बंद कर दिया जाता है। उसमें ताला जड़ दिया जाता है। यह सब रोजाना की बात बताई जाती है। जबकि इस थाना में आधा दर्जन महिला समेत दर्जन भर पुलिस अफसर-कर्मी कार्यरत हैं।

इस समाचार में प्रस्तुत तस्वीर आज सुबह ठीक 7.45 बजे ली गई है। कोई कहता हैं कि ताला बंद कर ड्यूटी पर तैनात अफसर-कर्मी अंदर आराम फरमा रहे हैं। तो कोई बताता है कि रोज ताला जड़ रात 10 बजे से सुबह 8 बजे तक तैनात अफसर-कर्मी थाना भवन से दूर अपने आवास में आराम फरमाते हैं।  

आज किसी ने महिला थाना में रात्रि तालाबंदी की फोटो स्थानीय पुलिस-प्रशासन-मीडिया ग्रुप में डाल दी। फिर क्या था। वह तस्वीर बड़ी तेजी से वायरल हो गया। उस ग्रुप में एसपी भी बतौर एडमिन बताए जाते हैं।

हालांकि यह दीगर बात है कि कुछेक अन्य थानेदारों के बीच-बचाव के कारण उस फोटो को 28 मिनट के ठीक पहले डिलिट ऑल कर दिया गया।

हालांकि विश्वस्त सूत्र बताते हैं कि एसपी नीलेश कुमार के संज्ञान पर डीएसपी हेड्वार्टर अजय कुमार महिला थाना पहुंच कर इस मामले की जांच कर कर रहे हैं।

इसके पूर्व महिला थाना प्रभारी सीमा कुमारी ने बताया कि वह अवकाश पर हैं और उन्हें कोई जानकारी नहीं है। अभी इंचार्ज एसआई अंजू तिवारी हैं, वहीं कुछ बता सकती हैं।

अंजू तिवारी ने बताया कि ऐसी कोई बात नहीं है। अभिषेक को कंफ्यूजन हो गया है। जब उनसे पूछा गया कि अभिषेक कौन हैं तो उन्होंने मोबाईल डिस्कनेक्ट कर दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here