अन्य
    अन्य

      ‘कोरोना’ की चपेट में नालंदा-राजगीर

      दुनिया भर में फैले कोरोना वायरस का कुप्रभाव बिहार में अंतरराष्ट्रीय पर्यटन का आंकड़ा गिरा है। यहां इस वायरस का इतना असर हुआ कि पिछले चार महीनों में विदेशी पर्यटकों की संख्या घटकर आधी से भी कम हो गई है

      नालंदा दर्पण डेस्क।  कोरोना के चलते दुनिया भर में जान गंवाने लोगों की संख्या 3 हजार पार पहुंच गई है। अकेले चीन में ही 2912 की मौत हो चुकी है। चीन से बाहर कई देशों में कोरोना वायरस के कई मामलों की पुष्टि हुई है।

      RAJGIR 1इधर राजगीर और नालंदा खंडहर समेत कई दर्शनीय स्थल पर जहां विदेशी पर्यटकों की भीड़ जमा रहती थी, वहां अभी सन्नाटा सा पसरा हुआ है

      पर्यटन विभाग के अनुसार, पिछले साल नवंबर में देशी पर्यटकों की संख्या 62 हजार थी वहीं विदेशी पर्यटकों की संख्या 6500 थी। दिसंबर में 5 हजार विदेशी पर्यटक आए।

      जनवरी में महज 4 हजार विदेशी पर्यटक नालंदा आए, वहीं फरवरी में विदेशी सैलानियों की संख्या घटकर महज 3 हजार रह गई है। सैलानियों की घटती संख्या के पीछे कोरोना वायरस वजह मानी जा रही है।

      अंतरराष्ट्रीय पर्यटन स्थल राजगीर के कुंडपर, विश्व शांति स्तूप, सोनभंडार, जरासंध अखाड़ा ,मनियार मठ कुंडलपुर ,नालंदा खंडहर, समेत अन्य कई दर्शनीय स्थल है जो देशी विदेशी सैलानियों से पटे रहते थे लेकिन अभी सैलानियों की आगमन स्थिति काफी नगण्य हो गई है।

      यहां अभी सिर्फ थाईलैंड, वर्मा श्रीलंका देश से ही कुछ विदेशी पर्यटक आ रहे हैं और अधिकांश सभी देशों से पर्यटकों की आना लगभग कम हो गया है।RAJGIR 2

      LEAVE A REPLY

      Please enter your comment!
      Please enter your name here

      This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

      Related News