अन्य
    अन्य

      पटना निगरानी ने मिठाई दुकान से 10 हजार की मिठाई खाते इसलामपुर अंचलकर्मी को पकड़ा

      विगत विगत 11दिसम्बर 2019 को ब्रह्गावां-भोलाबिगहा सड़क मार्ग पर मोटरसाइकिल दुर्घटना में मौत हो गई थी….”

      इसलामपुर (नालंदा दर्पण)। निगरानी विभाग की छापेमारी टीम ने डीएसपी विमलेंदु कुमार वर्मा के नेतृत्व में आज मंगलवार को अंचल कार्यालय के सामने एक मिष्ठान दुकान से बतौर नजराना दस हजार रुपये घूस लेते निलंबित अंचल कर्मचारी चक्रधारी प्रसाद को रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया।

      ISLAMPUR CRUPTION NALANDA 1

      प्राप्त समाचार के अनुसार निगरानी टीम को स्थानीय थाना क्षेत्र के बलबापर गांव निवासी संजय सिंह के पुत्र चन्दन कुमार से उसने भाई रितेश कुमार की सड़क दुर्धटना में मौत के बाद राज्य सरकार द्वारा आपदा प्रबंधन कोष से मिलने वाली चार लाख रुपये का चेक देने के एवज में तीस हजार रुपये की घूस की मांग मांगा जा रहा था।

      निगरानी विभाग की टीम ने उसी घूस की प्रथम क़िस्त के रूप में दस हजार रुपये घूस की नकद राशि लेते निलंबित अंचल कर्मचारी को रंगे हाथों गिरफ्तार कर अपने साथ पटना लेकर चली गई।

      निगरानी टीम ने बताया कि गिरफ्तार कर्मचारी इससे पूर्व शिलाव अंचल कार्यालय में नाजिर के पद पर रहते हुए किसी आरोप में निलंबित था कि इसी बीच इस्लामपुर अंचल कार्यालय में वडावावु का सारा काम मे सहयोग करता था और इसी का स्वयं का आर्थिक लाभ के लिए कार्यालय के काम के एवज में चंदन कुमार से दस हजार रुपये नकद राशि लेते रंगे हाथों निगरानी विभाग की टीम ने धर दबोचा।

      निगरानी ने बताया कि चंदन कुमार के भाई रीतेश कुमार की विगत 11 दिसम्बर 2019 को ब्रह्गावां-भोलाबिगहा सड़क मार्ग पर मोटरसाइकिल दुर्घटना में मौत हो गई थी। रीतेश कुमार की मौत के बाद आपदा प्रबंधन कोष से चार लाख रुपये देने के एवज में दस हजार रुपये घूस लेते निलंबित कर्मचारी को गिरफ्तार कर पटना लेकर चली गई।

      निगरानी टीम में पुलिस निरीक्षक नागेंद्र कुमार इशवर प्रसाद आदि शामिल थे ।

      LEAVE A REPLY

      Please enter your comment!
      Please enter your name here

      This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

      Related News