जब नालंदा की जमीं चंडी में पहली बार उतरा रामगढ़ महाराज का हेलिकॉप्टर!

“स्व. कामख्या नारायण सिंह के बारे में कहा जाता है कि उन्होंने अपना हेलिकॉप्टर भारत-चीन युद्ध के समय सरकार को उपयोग करने के लिए दे दी थी। उनके पास तीन हेलिकॉप्टर थे………. “

एक्सपर्ट मीडिया न्यूज नेटवर्क डेस्क।  नालंदा के चंडी प्रखंड के इतिहास में पहली बार कोई हेलिकॉप्टर 52 साल पहले  1967 में उतरा था। पहले बिहार और अब झारखंड के रामगढ़ राज परिवार के कामाख्या नारायण सिंह का हेलिकॉप्टर चंडी के डाकबंगला में सर्वप्रथम उतरा था।

1967 में लोकसभा और बिहार विधानसभा का चुनाव साथ हो रहा था। यह आखिरी चुनाव था, जब देश में 1952 से 1967 तक लोकसभा और विधानसभा के चुनाव साथ हुआ करता था।

तब चंडी की अधिकांश जनता को उडनखटोले का दर्शन हुआ था। उस हेलिकॉप्टर पर रामगढ नरेश कामख्या नारायण सिंह के साथ बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री महामाया प्रसाद सिन्हा भी थे।

चंडी  की ह्रदय स्थली बापू हाईस्कूल मैदान का अपना एक राजनीतिक और गौरवशाली इतिहास रहा है। यह मैदान आजादी की लड़ाई का गवाह रहा है। यहां कभी आजादी के दीवाने आजादी की लड़ाई लड़ने के लिए एकत्र होते थे।

चंडी प्रखंड के गोखुलपुर निवासी बिंदेश्वरी सिंह इसी मैदान से 15 अगस्त 1942 को थाना पर रोडेबाजी कर दी थी। जबाब में पुलिस पुलिस की गोलीबारी में वे वही शहीद हो गए थे।

इस मैदान पर जेपी आंदोलन के दौरान कई नेताओं का आना जाना लगा रहता था। फरवरी 1967 में इसी मैदान पर रामगढ़ के महाराज कामख्या नारायण सिंह  अपने हेलिकॉप्टर से चंडी पहुँचे थे।

यह पहला अवसर था, जब चंडी में कोई हेलिकॉप्टर उतरा था। उनके साथ बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री महामाया प्रसाद सिन्हा भी थे। जिनकी सरकार 1967 में बनी थी।

कहा जाता है कि चंडी प्रखंड की अधिकांश जनता उस समय हेलिकॉप्टर से अनभिज्ञ थी। वे जहाज के बारे में देख -सुन रखा था।

लोगों के बीच यह खबर दूर-दूर तक फैल गई कि चंडी प्रखंड में जहाज उतरने वाला है। इस जहाज उतरने की खबर प्रखंड में आग की तरह फैल गई थी।

1967  में जब लोकसभा और विधानसभा का चुनाव एक साथ हो रहा था, तब बाढ़ लोकसभा और चंडी विधानसभा  चुनाव के दौरान बिहार के दिग्गज नेता महामाया प्रसाद सिन्हा अपने उम्मीदवार के पक्ष में चुनाव प्रचार के लिए आएं हुए थे।

उस समय हेलिकॉप्टर उतरने की व्यवस्था चंडी थाना से सटे डाकबंगला परिसर में की गई थी। महामाया प्रसाद रामगढ़ के महाराज कामख्या नारायण सिंह के हेलिकॉप्टर से चंडी आने वाले थे।

उस हेलिकॉप्टर पर स्वयं कामख्या नारायण सिंह भी थे। उस समय रामगढ राज परिवार पहला ऐसा राजनीतिक घराना था जो चुनाव प्रचार के लिए अपना निजी हेलिकॉप्टर रखे हुए थे।

हेलिकॉप्टर देखने को लेकर लोगों का हुजूम उमड़ पड़ा था। उस समय चंडी की जनता के लिए वह किसी रोमांच से कम नहीं था। हेलिकॉप्टर उतरने की सूचना पर चारों दिशाओं से लोगों की भीड़ चंडी मैदान की तरफ भाग रही थी।

डाकबंगला परिसर से लेकर चंडी मैदान तक लोगों का जनसैलाब देखने को मिल रहा था। लोगों को नेताओं से ज्यादा हेलिकॉप्टर देखने की ललक थी। यह चंडी के इतिहास में यह पहला मौका था, जब कोई हेलिकॉप्टर चंडी में उतरा था।

1967के बाद दस साल बाद  1977 में दूसरा मौका था, जब चंडी मैदान में हेलिकॉप्टर उतरा था। उस हेलिकॉप्टर से तब जगजीवन राम, कर्नाटक के पूर्व सीएम बीएस येदुरप्पा,  पूर्व कानून मंत्री शांति भूषण और दक्षिण के नेता जिगिंलिय्पा भी थे।

उसके बाद से फिर तो चंडी मैदान पर हर चुनाव के दौरान हेलिकॉप्टर उतरने का सिलसिला ही शुरू हो गया।

लेकिन वर्ष 2019 का लोकसभा चुनाव  चंडी के लिए ‘अछूत’ माना गया। यहाँ किसी भी राजनीतिक दल का कोई भी नेता न चुनाव प्रचार के लिए पहुँचा और न ही कोई हेलिकॉप्टर आकाश में मंडराया।

कहने को तो चंडी 1952 से ही विधानसभा क्षेत्र रहा है। लेकिन दस साल पहले इस ऐतिहासिक और राजनीतिक विरासत वाले विधानसभा क्षेत्र को विलोपित कर दिया गया, जो अब हरनौत विधानसभा का अंश माना जाता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Read More

24 घंटे के अंदर विभिन्न हादसों में 10 की मौत, परिजनों की चित्कार से गूंजता रहा सदर अस्पताल

बिहार शरीफ (नालंदा दर्पण)। बीते 24 घंटे के दौरान अलग-अलग थाना इलाके में हुई विभिन्न घटनाओं में दस लोगों की जान चली गई। बिहार...

इस बार सभी 7 विधानसभा क्षेत्र का बिहार शरीफ के इन 2 स्थलों पर होगी मतगणना

बिहार शरीफ (नालंदा दर्पण)।  बिहार विधान सभा आम निर्वाचन 2020 के अवसर पर कोविड-19 के संक्रमण के प्रसार को रोकने के लिए सोशल डिस्टेंसिंग...

Recent News

24 घंटे के अंदर विभिन्न हादसों में 10 की मौत, परिजनों की चित्कार से गूंजता रहा सदर अस्पताल

बिहार शरीफ (नालंदा दर्पण)। बीते 24 घंटे के दौरान अलग-अलग थाना इलाके में हुई विभिन्न घटनाओं में दस लोगों की जान चली गई। बिहार...

इस बार सभी 7 विधानसभा क्षेत्र का बिहार शरीफ के इन 2 स्थलों पर होगी मतगणना

बिहार शरीफ (नालंदा दर्पण)।  बिहार विधान सभा आम निर्वाचन 2020 के अवसर पर कोविड-19 के संक्रमण के प्रसार को रोकने के लिए सोशल डिस्टेंसिंग...

विधानसभा चुनाव को लेकर जिला दंडाधिकारी का इन 8 लोगों पर सीसीए लगाने के आदेश

नालंदा दर्पण (बिहार शरीफ)। बिहार विधानसभा निर्वाचन 2020 को लेकर विधि व्यवस्था बनाए रखने हेतु चिन्हित असामाजिक तत्वों के विरुद्ध लगातार निरोधात्मक कार्रवाई की...

Popular News

पांच कर्मियों के कोरोना पोजेटिव की पुष्टि के बाद चंडी प्रखंड कार्यालय सील

"एक डाटा ऑपरेटर कोरोना पोजेटिव सुनते ही पदाधिकारी के समक्ष ही बेहोश हो गया। किसी तरह उस डाटा ऑपरेटर को होश में लाया गया... नालंदा...

20 प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी और 23 हेडमास्टरों पर लटकी कार्रवाई की तलवार

बिहारशरीफ (नालन्दा दर्पण)। नालन्दा जिला में 20 प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी औऱ 23 स्कूलों के हेडमास्टरों पर कार्रवाई की तलवार लटक रही है। शिक्षा विभाग...

एनएच-30ए प्रेमनबिगहा मोड़ के पास धर्मपुर गांव के मुन्ना की गोली मारकर हत्या

नगरनौसा (नालंदा दर्पण)। नगरनौसा थाना क्षेत्र के राष्ट्रीय उच्य पथ संख्या 30A दनियावां-बिहार शरीफ मुख्य मार्ग के प्रेमन बिगहा मोड़ के पास शुक्रवार के...
Don`t copy text!