अन्य
    Thursday, July 18, 2024
    अन्य

      प्रदेश आलाकमान पर उबले कांग्रेसी, हरनौत-नालंदा-राजगीर का प्रत्याशी मंजूर नहीं, सबको हराएंगे

      प्रदेश के जदयू के बड़े नेताओं के इशारे इशारे पर सदानंद सिंह, मदन मोहन झा, शक्ति सिंह गोहिल ने अपने निजी स्वार्थ के कारण स्क्रीनिंग कमिटी के पैनल को बदलवा कर मोटी रकम लेकर कमजोर प्रत्याशी को टिकट देने का कार्य किया है। ताकि जदयू प्रत्याशी की जीत आसानी से हो जाए..

      बिहारशरीफ (संजय कुमार)। नालंदा जिला कांग्रेस कमेटी में बाहरी प्रत्याशी को उम्मीदवार बनाए जाने के मामले में पार्टी नेता असहज महसूस कर रहे हैं। तथा ऐसे उम्मीदवारों को हराने का निर्णय लिया है।

      nalanda congresनालंदा में महागठबंधन की ओर से राजद ने चार सीटों पर चुनाव लड़ने का फैसला किया था, वहीं कांग्रेस ने तीन सीटों पर। यहां राजद ने बहुत पहले ही उम्मीदवारों के नामों की घोषणा कर दी थी। लेकिन कांग्रेस नामांकन करने की तिथि खत्म होने के एक दिन पूर्व अपने तीनों प्रत्याशी के नामों की घोषणा की।

      कार्यकर्ताओं में उमंग था की इस बार पार्टी के समर्पित लोगों को टिकट मिलेगा तथा उन्हें विधानसभा चुनाव लड़ने का मौका मिलेगा। परंतु हुआ उल्टा। बाहरी प्रत्याशी को टिकट दे दिया गया। जिन्हें नालंदा का क, ख, ग का भी ज्ञान नहीं था। इसी बात को लेकर नालंदा में जिला कांग्रेस के नेताओं द्वारा विरोध हो रहा है।

      बिहार प्रदेश किसान प्रकोष्ठ के उपाध्यक्ष एवं प्रदेश प्रतिनिधि राजीव कुमार मुन्ना की मानें तो स्क्रीनिंग कमेटी द्वारा जो पैनल बनाया गया था, उसमें हरनौत विधानसभा क्षेत्र से सुनील कुमार अधिवक्ता, अनिल कुमार पूर्व विधायक, बाल्मीकि यादव, अरुण कुमार का नाम था।

      इसी प्रकार राजगीर विधानसभा क्षेत्र के लिए श्याम राजबंशी, राजेंद्र चौधरी, कृष्णा दास, मुन्नी देवी पासवान का नाम था।

      नालंदा विधानसभा क्षेत्र हेतु कौशलेन्द्र कुमार उर्फ छोटे मुखिया, अखिलेश कुशवाहा, अजीत कुमार, अनिल कुमार का नाम था।

      श्री मुन्ना का आरोप है कि प्रदेश के जदयू के बड़े नेताओं के इशारे पर सदानंद सिंह, मदन मोहन झा, शक्ति सिंह गोहिल ने अपने निजी स्वार्थ के कारण स्क्रीनिंग कमिटी के पैनल को बदलवा मोटी रकम लेकर कमजोर प्रत्याशी को टिकट देने का कार्य किया है। ताकि जदयू प्रत्याशी की जीत आसानी से हो जाए।

      कांग्रेस के वरीय नेता नवीन कुमार ने कहा कि नालंदा विधानसभा क्षेत्र से गुंजन पटेल को टिकट दिया गया है। जिनका घर मसौढ़ी है। इसी प्रकार हरनौत विधानसभा क्षेत्र से कुंदन गुप्ता को प्रत्याशी बनाया गया है। जिनका घर लखीसराय है।

      श्री मुन्ना के अनुसार राजगीर विधानसभा से ऐसे प्रत्याशी को टिकट दिया गया है। जिसने माननीय राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी को गाली देने का कार्य किया है।

      महिला सेवा दल संगठन नालंदा के श्रीमती शिवरानी ने कहा कि यहां समर्पित कार्यकर्ताओं की हत्या करने वाले दलालों से बिहार कांग्रेस को मुक्त कराया जाय। पार्टी की लुटिया डूबाने वाले नेताओं पर सख्त से सख्त कार्रवाई हो।

      संजय महाराज ने प्रदेश के कांग्रेसी नेताओं ने ने निजी हित हेतु जदयू प्रत्याशी के खिलाफ कमजोर उम्मीदवार दिया गया। ताकि जदयू प्रत्याशी आसानी से जीत जाएं। एनडीए प्रत्याशी को हराने के लिए हम लोग एकजुट होकर प्रचार करेंगे तथा कांग्रेस पार्टी के ङमी उम्मीदवार को हराएंगे।

      संबंधित खबर

      error: Content is protected !!