अन्य

    सोहसराय स्वर्ण व्यवसायी हत्याकांड का खुलासा, एक बदमाश पटना के फुलवारीशरीफ से धराया

    नालंदा दर्पण डेस्क। नालंदा पुलिस ने सोहसराय स्वर्ण व्यवसायी हत्याकांड को सुलझा लेने का दावा किया है। पुलिस ने पटना से इस वारदात में संलिप्त एक आरोपी को हथियार समेत दबोचा है। जिसने पुलिस के समक्ष स्वीकार किया है कि वे लोग लूटपाट के लिए आये थे। लाखों के गहने भी लूटे थे। विरोध करने पर व्यवसायी को गोली मार दी।

    खबरों के मुताबिक सोहसराय थानान्तर्गत बड़ी पहाड़ी-मगध कॉलोनी निवासी सुमन कुमार चिंटू को बदमाशों ने उनके दुकान में ही गोली मार दी थी।

    सदर डीएसपी डॉ. शिब्ली नोमानी के अनुसार गिरफ्तार आरोपी पटना जिला के फुलवारीशरीफ थाना क्षेत्र स्थित खगौल रोड निवासी सुरेन्द्र प्रसाद का पुत्र अमित कुमार है। उसके पास से एक देसी कट्टा, दो कारतूस, मोबाइल व कार बरामद की गयी है।

    डीएसपी के अनुसार एसपी के निर्देश पर कांड के उद्भेदन के लिए उनके नेतृत्व में टी का गठन किया गया था। तकनीकी अनुसंधान के बाद पुलिस आरोपित तक पहुंची।

    घटना को अंजाम देने के बाद बदमाशों ने एक बाइक दुकान के पास छोड़ दी थी, जबकि दूसरी बाइक सरकारी बस स्टैंड के पास। उसके बाद सभी बदमाश कार से भाग निकले थे। घटना को अंजाम देने के लिए पटना से बदमाश आये थे।

    हालांकि, प्राथमिक जांच में पुलिस इस घटना को लूटपाट से ही जोड़कर देख रही है। वारदात में शामिल अन्य बदमाशों की गिरफ्तारी के बाद कुछ और खुलासे हो सकते हैं।

    दूसरी तरफ पुलिस स्थानीय लाइनर की भी तलाश में लगी है। पुलिस को शक है कि स्थानीय मदद के बिना बाहरी अपराधी इस तरह की घटना को अंजाम नहीं दे सकते हैं।

    गिरफ्तार अपराधी ने स्वीकार किया है कि दुकान से लूटपाट हुई थी। इसे सभी बदमाशों ने आपस में बांट लिया था। एफआईआर में चार अपराधियों का कही जिक्र है। खुलासे के बाद यह संख्या और बढ़ सकती है।

    शराब माफियाओं पर कार्रवाई नहीं होतीः माले विधायक, पुलिस अफसरों की संपति की जांच हो : पप्पु यादव

    सोहसराय जहरीली शराब कांडः अब तक 13 की मौत, 2 हुए अंधे, कई गंभीर

    युवक की गोली मारकर हत्या मामले में 10 लोगों के खिलाफ नामजद प्राथमिकी

    अंततः जहरीली शराब से 8 की मौत मामले में सोहसराय थानेदार पर गिरी गाज

    हनुमानगढी मेला में मचा भगदड, रोडेबाजी में थानेदार, दारोगा, पुलिसकर्मी समेत कई जख्मी

    Comments