अन्य

    हिलसा अनुमंडलीय आंचलिक पत्रकार संघ ने बदमाशों की गोली से जख्मी पत्रकार से जाना घटना का सच

    हरनौत (नालंदा दर्पण)। हिलसा अनुमंडलीय आंचलिक पत्रकार संघ का एक शिष्टमंडल घायल पत्रकार रवि कुमार की सुध लेने हरनौत पहुंचे एवं मिलकर घटना की जानकारी ली। पत्रकारों ने घटना पर रोष व्यक्त किया और पुलिस प्रशासन से पत्रकार और उनके परिवार को सुरक्षा देने की मांग की।

    पत्रकारों ने पुलिस प्रशासन से अविलंब दोषियों की गिरफ्तारी की मांग की। गिरफ्तारी नहीं होने पर आंचलिक पत्रकार संघ की ओर से हरनौत प्रखंड कार्यालय पर धरना देने की बात कहीं।

    बताते चलें कि शनिवार को हरनौत के जाने माने पत्रकार रवि कुमार को जोरारपुर गांव के पास उस समय बदमाशों ने गोलीमार दी, जब वे अपनी खेत की ओर जा रहे थे।

    अनुमंडलीय आंचलिक पत्रकार संघ, हिलसा के अध्यक्ष सरफराज हुसैन के नेतृत्व में पत्रकारों का एक दल हरनौत स्थित उनके आवास पर जाकर घायल पत्रकार से मुलाकात कर उनके स्वास्थ्य के साथ घटनाक्रम की जानकारी ली और दोषी बदमाशों की गिरफ्तारी नहीं होने पर रोष प्रकट किया।

    उन्होंने कहा कि अगले दो दिनों में पुलिस बदमाशों की गिरफ्तारी नहीं करती है तो दोषियों की गिरफ्तारी के लिए संघ धरना प्रदर्शन करेगा।

    घायल पत्रकार की सुध लेने वालों में संजीत कुमार ‘मुन्ना’, विनय भूषण पांडेय, सुनील कुमार, मुकेश कुमार  सहित अन्य पत्रकार मौजूद थे। सभी ने पत्रकार रवि कुमार के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना की।

    क्या है मामला: पत्रकार रवि कुमार के द्वारा अपने ही गांव के एक मोस्ट वांटेड अपराधी के खिलाफ लिखने पर उसके भाई ने उन्हें गोली मार दी।

    पत्रकार को गोली मारने वाले मुख्य आरोपी नारायण यादव के पुत्र मुकेश कुमार उर्फ मल्लू तथा तीन अज्ञात लोगों पर हरनौत थाना में प्राथमिकी दर्ज कराई गई है।

    इस संबंध में पत्रकार रवि कुमार का कहना है कि मुकेश कुमार उर्फ मल्लू का बड़ा भाई सिर्फ हरनौत ही नहीं, बल्कि अथमलगोला, बख्तियारपुर, चंडी थाना क्षेत्र के कई मामलों में अभियुक्त हैं। डकैती ,लूट पाट से लेकर हत्या तक के मामले उस पर दर्ज है।

    यहां तक कि एक सीआरपीएफ जवान की हत्या में भी उसकी संलिप्तता रहीं है। यहां तक कि हरनौत के सुरेश फार्मेसी दुकानदार को गोली मारने एवं रघुवंश पेट्रोल पंप पर दहशत फैलाने मामले में जेल भी जा चुका है।

    इन्हीं सब घटनाओं में संलिप्तता पर उसके खिलाफ प्राथमिकी दर्ज होने एवं खबर में उसका नाम लेने से उसका भाई मुकेश कुमार नाराज चल रहा था। इसी खुन्नुश में उसने घटना को अंजाम दिया है।

    एक बदकिस्मत इमारत बन कर रह गई चंडी का कर्पूरी भवन !

    अपराध पर अंकुश लगाने में पुलिस विफल, किसान के घर 8 लाख की भीषण डकैती

    पान समाज की ओर से चंडी प्रखंड प्रमुख का किया गया अभिनंदन

    पान समाज की ओर से चंडी प्रखंड प्रमुख का किया गया अभिनंदन

    अनुमंडलीय आंचलिक पत्रकार संघ के पत्रकारों ने काला बिल्ला लगाकर समाचार संकलन किया

    सोहसराय जहरीली शराब कांड का मुख्य आरोपी सुनीता मैडम पुत्र समेत गिरफ्तार