अन्य

    सुहागन ज्वेलर्स लूट-व्यवसायी हत्या कांड का खुलासा, हथियार व लूट सामग्री समेत 2 आरोपी धराए  

    बिहार शरीफ (नालंदा दर्पण)। नालंदा ज़िला पुलिस ने सोहसराय थाना क्षेत्र के सुहागन ज्वेलर्स में पिछले महीने 13 जनवरी को हुए लूट व ज्वेलरी व्यवसाय की गोली मारकर हत्या मामले में दो अंतरजिला लुटेरों को गिरफ्तार किया है।

    दोनों अपराधी स्वर्ण व्यवसाय से हुए लूट के बाद उसके हत्या मुख्य आरोपी है। बदमाशों के पास से घटना में इस्तेमाल देसी पिस्टल, 4 ज़िंदा कारतूस, 3 मोबाइल, लूटी गई दो पायल व ज्वेलरी थैली बरामद हुआ।

    देर रात सोहसराय के कखड़ा में बदमाश किसी वारदात को अंजाम देने की योजना बना रहे थे। तभी पुलिस ने गुप्त सूचना के आधार पर टीम गठित कर त्वरित कारवाई करते हुए दोनों को धर दबोचा।

    इस दौरान कुछ अपराधी भागने में सफल हो गए। जिसकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस छापेमारी कर रही है। यह छापेमारी सदर डीएसपी डॉ. शिब्ली नोमानी के नेतृत्व में हुई।

    बता दें कि पिछले 13 जनवरी को बदमाशों ने सोहसराय के मगध कॉलनी स्थित सुहागन ज्वेलर्स में लूटपाट के दौरान अपराधियों ने संचालक सुमन उर्फ चिंटू की गोलियों से छलनी कर हत्या कर दिया था। मृतक के पिता नंदलाल प्रसाद ने अज्ञात बदमाशों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराया था।

    पुलिस ने इस मामले में मसौढ़ी निवासी स्व. रामानुज यादव के पुत्र अरिवंद कुमार उर्फ भीम यादव और पटना के बहादुरपुर निवासी राजू पासवान के पुत्र धनंजय कुमार उर्फ भोकटा को गिरफ्तार किया है।

    पुलिस अधीक्षक अशोक मिश्रा ने सोहसराय थाना में प्रेसवार्ता आयोजित कर बताया कि लूट व ज्वेलरी व्यवसाई की हत्या में पूर्व में पटना के फुलवारी शरीफ निवासी अमीत कुमार की गिरफ्तारी हुई थी। उसकी निशानदेही पर घटना में इस्तेमाल कार व हथियार भी जब्त किया गया था।

    पूछताछ व तकनीक का इस्तेमाल कर अन्य बदमाशों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस ने जाल बिछाया था। रात में बदमाश फिर से आपराधिक घटना को अंजाम देने आए थे, लेकिन पुलिस ने गुप्त सूचना के आधार पर दोनों को पकड़ लिया। घटना में संलिप्त अन्य बदमाशों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस टीम छापेमारी कर रही है।

     

    Comments