अन्य

    बच्ची से दुष्कर्म के दोषी को आजीवन‎ कारावास और 50 हजार अर्थदंड की सजा‎

    पीड़िता 17 मार्च 2019 को 2‎ बजे दोपहर में खेत से चना की‎ झंगड़ी लेकर आ रही थी। तभी आरोपी‎ पाइन के बगल की झाड़ी में छिपा‎ हुआ था। अचानक वह झाड़ी से‎ निकला और पीड़िता का मुंह दबाकर‎ खींचते हुए खेत में ले जाकर‎ बलात्कार किया

    नालंदा दर्पण डेस्क। बिहारशरीफ‎ जिला व्यवहार न्यायालय के अपर‎ जिला एवं सत्र न्यायाधीश सप्तम‎ सह पास्को स्पेशल न्यायाधीश‎ संतोष कुमार गुप्ता ने 16 वर्षीय‎ बच्ची के साथ बलात्कार के दोषी‎ करार आरोपी गौरव कुमार को‎ भारतीय दंड संहिता की धारा‎ 376(3) के तहत आजीवन‎ कारावास के साथ 50 हजार रुपए‎ अर्थदंड भुगतान करने की सजा‎ सुनाई है।

    अर्थदंड का भुगतान नहीं‎ करने पर 6 महीना अतिरिक्त‎ कारावास भुगतनी होगी। सुनाई गई‎ इस सजा में आरोपी जब तक‎ जीवित रहेगा तब तक उसे जेल में‎ ही रहना होगा।

    इसके साथ ही‎ भारतीय दंड संहिता की धारा 323‎ के तहत 1 वर्ष कारावास तथा एक‎ हजार रुपए का अर्थदंड, धारा 506‎ के तहत 2 वर्ष कारावास तथा 5‎ हजार रुपए का अर्थदंड एवं धारा‎ 341 के तहत 1 माह कारावास की‎ सजा भी भुगतनी होगी।

    जज‎ गुप्ता ने पीड़िता को पीड़ित प्रतिकार‎ अधिनियम के तहत 4 लाख रुपए‎ मुआवजा देने का भी आदेश दिया‎ है।

    आरोपी बेन थाना क्षेत्र के तोडल‎ बिगहा गांव का निवासी है।‎ क्या है मामला‎ पीड़िता की मां के फर्द बयान पर‎ बेन थाना में प्राथमिकी दर्ज की गई‎ थी। पीड़िता 17 मार्च 2019 को 2‎ बजे दोपहर में खेत से चना की‎ झंगड़ी लेकर आ रही थी।

    तभी आरोपी‎ पाइन के बगल की झाड़ी में छिपा‎ हुआ था। अचानक वह झाड़ी से‎ निकला और पीड़िता का मुंह दबाकर‎ खींचते हुए खेत में ले जाकर‎ बलात्कार किया। पीड़ित के साथ‎ मारपीट करते हुए किसी को नही‎ बताने की धमकी भी दी।

    बता दें कि‎ इस मामले में न्यायाधीश शेफाली‎ नारायण ने 23 मार्च 19 को ही‎ पीड़िता का 164 के तहत बयान दर्ज‎ किया था। मामले में बचाव पक्ष की‎ ओर से तीन गवाह पेश किए गए थे।‎

    अभियोजन की ओर से स्पेशल पीपी‎ सुशील कुमार ने बहस करते हुए जज‎ से अधिकतम कठोर सजा का‎ अनुरोध किया तथा 11 गवाहों से‎ गवाही भी कराई।‎

    पूर्व मुखिया को ऑडियो वायरल कर बदमाशों ने जान मारने की दी धमकी

    पैक्स अध्यक्ष-पेड मैनेजर ने माता,पिता,पत्नी,भाई,भाभी और खुद के नाम पर बेचा 750 क्विंटल धान

    खुले में शौच के दौरान पैर फिसलकर मुहाने नदी में गिरने से मजदूर की डूबकर मौत

    नवगठित वार्ड के विरोध में ग्रामीणों ने राजगीर अनुमंडल कार्यालय घेराव किया

    2 साल से घर-वार छोड़कर भटक रहा है भू-माफियाओं के आतंक से भयभीत यह परिवार

    Comments