अन्य

    15 लाख की फिरौती के लिए अपहृत युवक 24 घंटे के अंदर बरामद, 2 आरोपी गिरफ्तार

    नालंदा दर्पण डेस्क। दीपनगर थाना पुलिस ने 24 घंटे के अंदर फिरौती हेतु अपहरण कांड का उद्भेदन करते हुए अपहृत को सकुशल बरामद कर लिया गया है।

    सदर डीएसपी डॉ शिब्ली नोमानी के अनुसार दीपनगर थाना क्षेत्र के जोरारपुर गांव निवासी सुमन कुमारी ने 5 जनवरी को आवेदन दिया था। जिसमें यह बताया गया कि उनके पति 4 जनवरी को अपने मोटरसाइकिल से बिहारशरीफ सदर अस्पताल जाने के लिए घर से निकले थे।

    परंतु वे वापस नहीं लौटे और  देर शाम उनके मोबाइल पर अज्ञात नंबर से फोन आया और कहा गया कि तुम्हारा पति मेरे कब्जे में है। ₹15 लाख लेकर मोरा तालाब के पास आओ नहीं तो तुम्हारे पति की हत्या कर दी जाएगी।

    इसके बाद आवेदिका सुमन कुमारी के द्वारा 5 जनवरी को थाना में प्राथमिकी दर्ज कराई गई। पुलिस अधीक्षक नालंदा ने इस मामले को गंभीरता से लेते हुए विशेष टीम का गठन किया। जिसमें अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी सदर के नेतृत्व में एक टीम बनाई गई। जिसमें थानाध्यक्ष दीपनगर, बिहार एवं जिला असूचना इकाई के पुलिसकर्मी शामिल थे।

    पुलिस टीम ने अनुसंधान एवं असूचना के आधार पर लगातार छापामारी करते हुए अपहृत को बिहार थाना क्षेत्र के बैगनाबाद स्थित शंकर कुमार के मकान से वाल्मीकि कुमार को सकुशल बरामद कर लिया गया।

    वहीं किराए पर रह रहे चंडी थाना क्षेत्र के कोरनावां गांव निवासी प्रमोद सिंह का पुत्र सुमित कुमार एवं चेरो ओपी क्षेत्र के तीरा गांव निवासी विजय कुमार वर्मा का पुत्र नीतीश कुमार उर्फ रॉकी सोनार को मौका पर गिरफ्तार कर लिया गया। सुमित स्नातक की पढ़ाई कर रहा है और नीतीश चालक का काम करता है।

    योगिया वेलफेयर एसोसिएशन ने असहायों बुजुर्गों के बीच कम्बल बाँटे

    भ्रष्टाचार की हदः उधर पत्नी जीवन-मौत से जूझ रही और इधर दारोगा से वेतन निकासी हेतु माँगी जा रही 10 हजार की रिश्वत, सुने वायरल ऑडियो

    994 गांवों में भारत नेट योजना के तहत वाई-फाई सेवा शुरु

    ट्रक ने ऑटो को मारी टक्कर, चालक और मालिक की मौत, दर्जन भर जख्मी, सड़क जाम

    16 साल की उम्र में किशोर पर लगा था डकैती का आरोप, 43 वर्ष की उम्र में हुआ दोषमुक्त

    Comments