अन्य

    4 लोगों की मौत के 5 घंटा बाद हटी सड़क जाम, पहुँचे सांसद, परिजनों को दी सांत्वना, परिजनों को मिले 4.20-4.20 लाख रुपए

    इसलामपुर (नालंदा दर्पण)। आज इसलामपुर में अलग-अलग सडक दुर्घटना में चार लोगों की मौत हो गयी। जिसे लेकर आक्रोशितों ने मुआवजा को लेकर इसलामपुर-पटना मुख्य मार्ग पर नहर के पास शव रखकर सड़क जाम कर दिया। जिसके कारण वाहनों के आवागमन बाधित होने से लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ा।

    वताया जाता है कि इसलामपुर थाना के पचलोबा गांव में टैक्टर पलटने से नीतीश कुमार और कुंदन कुमार नामक दो युवक की मौत हो गयी। वहीं इसलामपुर-औंगारी सडक मार्ग पर टैक्टर की चपेट में आने से बाइक सवार मीतरंजन कुमार और छात्र पवन कुमार की मौत हो गयी। जबकि ट्रैक्टर के साथ चालक फरार हो गया।

    इसके बाद आक्रोशितों ने मुआवजा की मांग को लेकर छात्र का शव नहर के पास रखकर सड़क जाम कर दिया।

    मृतक के परिजनो नें बताया कि मीतरंजन कुमार का मोहनपुर गांव मे ससुराल है और वह जहानवाद जिला के दयाली विगहा गांव निवासी है। वह रेलवे विभाग मे नौकरी करता था।

    आज वह ससुराल से बाइक पर सवार होकर इसलामपुर आ रहा था कि रास्ते में यह हादसा हो गयी।

    वही हैदरचक गांव के विनय राम ने बताया कि उनका पुत्र पवन कुमार उसी बाइक से इसलामपुर ट्यूशन पढने आ रहा था कि घटना के दौरान उसकी भी मौत हो गयी।

    इस दौरान नालंदा के सांसद कौशलेंद्र कुमार भी पहुंचे और मृतक के परिजनो को सांत्वना दी। वहीं सीओ नलीन विनोद पुष्पराज ने आपदा प्रबंधन के तहत मृत छात्र के परिजनों को चार ला़ख रुपए के चेक और बीडीओ चंदन कुमार ने परिवारिक लाभ के तहत बीस हजार रुपए के चेक दिए।

    बीडीओ ने बताया कि इसी प्रकार पचलोबा में दोनों मृतक परिजनो को परिवारिक लाभ के तहत बीस-बीस हजार के चेक दिया गए है। तब जाकर पांच घंटा बाद जाम हट सकी।

    इधर थानाधयझ शरद कुमार रंजन ने बताया कि शव को वरामद कर बिहार शरीफ सदर अस्पताल पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है।

    इस मौके पर पुलिस इंस्पेक्टर अरुण कुमार, उपप्रमुख शैलेंद्र कुमार सिंह, समाजसेवी मिथलेश यादव, वीरेंद्र गोप, शर्वेश कुमार,अनुज कुमार आदि लोग मौजुद थे।

    Comments