अन्य

    बालू माफियाओं के खौफ से इस महादलित बस्ती में दहशत का माहौल

    बिहार शरीफ (नालंदा दर्पण)। एक ओर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार महादलित परिवारों की सुरक्षा के लिए हर संभव प्रयास कर रही है, वहीं उन्हीं के गृह जिले नालंदा में बालू माफिया के भय से नदियावाँ गाँव के महादलित परिवारों के बीच काफी दहशत काफी दहशत देखी जा रही है।

    बता दें कि यह गाँव पंचाने नदी के तट पर बसा हुआ है और इस गाँव जाने वाली सड़क काफी जर्जर हो गई है। अगर बड़ी घटना घटती है तो पुलिस को गाँव जाने के लिए काफी मशक्कत करनी पड़ती है।

    महादलित परिवारों का कहना है कि वे लोग शाम होते ही अपने अपने घरों में कैद हो जाते हैं। यहाँ बालू माफिया इतना बेखौफ है कि वे पुलिस से भी नहीं डरते हैं और खुलेआम बालू की अवैध खनन करते हैं। विरोध करने पर जान मारने धमकी देते हैं।

    महादलित परिवारों के अनुसार, यदि वे लोग अवैध बालू उठाव का विरोध नहीं करेंगे तो उनकी बस्ती पंचाने नदी में विलीन हो जायेगी।

    हालांकि, इन महादलित परिवारों की सुरक्षा के लिए वहां पर पिछले तीन सालों से पुलिस कैंप लगा दिया गया है। लेकिन बालू माफिया के सामने इन पुलिसकर्मियों की भी सिट्टी-पिट्टी गुम रहती है।

    Comments

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here

    This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.