अन्य

    भाकपा माले ने झंडोत्तोलन कर मनाया पार्टी का 52वां स्थापना दिवस

    “अगर हम चाहते हैं कि हमारे देश और देश के आम आवाम को  बेकारी, बेरोजगारी, भूखमरी से मुक्ति मिले तो हमें कॉमरेड लेनिन और कॉमरेड चारु मजूमदार के  रास्ते पर चलना होगा…

    चंडी (नालंदा दर्पण)। चंडी में भाकपा (माले) ने पार्टी का 52वां स्थापना दिवस मनाया। इस मौके पर नेताओं ने पार्टी का झंडा फहराया।

    पार्टी के स्थापना दिवस के मौक़े पर  इंकलाबी नौजवान सभा नालंदा के  जिलाध्यक्ष सह राज्यपरिषद सदस्य बिहार कॉमरेड विरेश कुमार ने कहा कि आज देश गरीबी भूखमरी की त्रासदी झेल रही है।

    उन्होंने कहा कि आज जिस तरह कोरोना पूरे राज्य समेत देश में पांव पसार लिया और लोग मौत के मुह में समा रहे हैं। और यहां की निकम्मी सरकार विवश और लाचार है। उसकी गलत नीतियों का दंश देश‌ झेल रहा है। देश में स्वास्थ्य व्यवस्था बिल्कुल लचर है। सरकार इवीएम और चुनावी गुफ्तगूं खेल रही है।

    राज्य परिषद सदस्य ने कहा कि बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने लोगों से वादा किया था कि सभी भूमिहीनों को 5-5 डिसमिल जमीन देंगे और हर व्यक्ति को रोजगार देगें पर जमीन और रोजगार तो नहीं दे सकी उल्टे रोजगार खत्म करने का प्रयास में हैं।

    उन्होंने बताया कि इधर पूरे राज्य समेत चंडी में अतिक्रमण के नाम पर,वर्षों से बसे जीवन यापन के ख्याल से सैकड़ों गरीबों को बगैर कोई कारण बताए चंडी के अंचलाधिकारी कुमारी आंचल ने स्थानीय सत्ता संरक्षित गुंडों के इशारे पर सैकड़ों पुलिस बल के साथ बुल्डोजर से गरीबों के जीवन को तार-तार कर दी है, जो निंदनीय और गैर जिम्मेदाराना हरकत है।

    उनकी संगठन आने वाले समय में अंचल कार्यालय पर डेरा डालो घेरा डालो का कार्यक्रम करने पर बाध्य होंगे, जिसकी पूरी जवाबदेही अंचलाधिकारी की होगी।

    झंडोत्तोलन कार्यक्रम में लाखो देवी, संगीता देवी, झपसी मांझी, सुरमंडल, मुकेश कुमार, सुधीर कुमार, हारो मांझी, नरपत मांझी समेत दर्जनों कार्यकर्ता मौजूद थे।

    Comments