अन्य
    अन्य

      हिलसा थाना की ‘शराबी’ पुलिस के इस ‘गुंडई’ को लेकर उभरा आक्रोश, एसपी से कार्रवाई की माँग

      आगामी 28 फरवरी को हिलसा एसयू कॉलेज में लगने बाले स्वास्थ्य शिविर की तैयारी को लेकर छात्र जदयू संगठन के लोग सोमवार की शाम को सूर्य मन्दिर परिसर में बैनर लगा रहे थे, तभी हिलसा थाना की पुलिस पहुंची और......

      हिलसा (नालंदा दर्पण)। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के गृह जिला नालंदा में पुलिस भले ही अपराधियों के सामने बौना बनी हुई है, लेकिन आम इंसान को परेशान करने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ पा रही हैं।

      आज हिलसा थाना पुलिस ने बदमाशों पर कार्रवाई करने के बजाय वेवजह एक छात्र जदयू नेता व व्यवसायी को बेरहमी से पिटाई कर दी।

      इस घटना के बाद स्थानीय छात्र जदयू संगठन के साथ आम लोगों में पुलिस के प्रति काफी आक्रोश पनपने लगा है।

      दरअसल, आगामी 28 फरवरी को हिलसा एसयू कॉलेज में लगने बाले स्वास्थ्य शिविर की तैयारी को लेकर छात्र जदयू संगठन के लोग सोमवार की शाम को सूर्य मन्दिर परिसर में बैनर लगा रहे थे, तभी हिलसा थाना की पुलिस पहुंची और यह कहते हुए मारपीट करने लगी कि तुम लोग  ही पुलिस को परेशान करता हैं। कोई घटना होता भी नही और एसपी को फोन कर देता है।

      छात्र जदयू नेताओं ने कहा कि हम लोग फोन नही किये हैं। कुछ देर पहले परिसर में किसी से मारपीट हुआ है, लेकिन कौन लोग थे, यह मुझे जानकारी नही है।

      इतना सुनते ही हिलसा थाना पुलिस ने लाठी बरसाना शुरू कर दिया और देखते ही देखते भगदड़ मच गई। आसपास के लोग कुछ समझ पाते कि उससे पहले पुलिस ने छात्र जदयू नेता धनन्जय कुमार पर तब तक लाठियां बरसाते रही, जब वह बेहोश होकर जमीन पर गया।

      उसके बाद पुलिस ने रास्ते से गुजरने वाले दुकानदार व्यवसायी व आम राहगीर पर भी जमकर लाठियां बरसाई। पुलिस की इस करतूत से लोग दहशत में इसलिये पड़ गए कि गुंडा मवाली पर कार्रवाई करने के बजाए आम इंसान पर लाठियां बरसाई जा रही हैं।

      इसके बाद धीरे-धीरे आम लोगों की भी जुटने लगी। उनकी पुलिस से बकझक भी हुई। फिर अपनी गलती का एहसास होते ही पुलिसकर्मी खिसकने में ही भलाई समझी।

      इधर अचेतावस्था में पड़े छात्र जदयू नेता धनन्जय कुमार को उनके ही साथियों ने इलाज के लिये हिलसा अनुमंडलीय अस्पताल में ले जाकर भर्ती कराया।

      छात्र जदयू नेता ने पुलिस कर्मियों पर शराब के नशे में होने का आरोप लगाते हुए बताया कि परिचय देने के बाद भी पुलिस मारपीट करती रही। जब शराब के नशे में धुत होकर मारपीट की बात कि पुलिस वाले मुँह छुपा कर भागने लगे। जदयू नेताओं ने दोषी पुलिसकर्मियों पर करवाई करने की मांग की है।

      वही घटना की सूचना मिलने के बाद डीएसपी कृष्ण मुरारी प्रसाद पहुंचे और मामले की जानकारी ली। डीएसपी ने छात्र जदयू नेताओं को भरोसा दिया है कि जो भी पुलिस दोषी पाए जाएंगे, उन पर जरूर कार्रवाई होगी।

      उधर, पीड़ित जदयू छात्र नेताओं ने मामले की लिखित शिकायत नालंदा एसपी से भी की है। अब देखना है कि शराब के नशे में पगलाई हिलसा थाना के कुछेक पुलिसकर्मियों पर क्या कार्रवाई होती है।

      Hilsa police stations drunk police outrage over this Gundai demands action from SP 1

      LEAVE A REPLY

      Please enter your comment!
      Please enter your name here

      This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

      Related News