अन्य

    सत्ता संरक्षित गुंडों द्वारा बच्ची संग गैंगरेप बाद मर्डर से आक्रोशित मााले ने निकाला विरोध मार्च

    बिहारशरीफ (नालंदा दर्पण)। जिले के थरथरी थाना क्षेत्र के एक गांव में तीन अगस्त को एक नाबालिग से बारी बारी से बलात्कार एवं हत्या की घटना से आक्रोशित भाकपा माले तथा संबंधित संगठनों ने बिहारशरीफ के श्रम कल्याण मैदान से लेकर समाहरणालय तक मार्च निकाला।

    भाकपा माले के थरथरी प्रभारी सह अखिल भारतीय किसान महासभा नालंदा के मुन्नी लाल यादव ने इस विरोध मार्च का नेतृत्व किया। 

    मुन्नी लाल यादव ने कहा कि तीन अगस्त को थरथरी थाना क्षेत्र के एक गांव में 15 वर्षीय किशोरी  अपने घर के बाहर बने शौचालय में शौच के लिए निकली। जहां बदमाशों ने बच्ची को उठाकर ले गया और सामूहिक बलात्कार कर हत्या कर  शव को पईन  में फेक दिया।

    अगले दिन किशोरी के परिजन थरथरी थाना में हत्या का मुकदमा दर्ज करवाया। पर बलात्कारी सत्ता संरक्षित होने के कारण थरथरी पुलिस अभी तक किसी की गिरफ्तारी नहीं किया है। इसी विरोध में आज आरक्षी अधीक्षक  के कार्यालय पर प्रदर्शन किया गया ।

    प्रदर्शन में शामिल हरनौत विधानसभा प्रभारी राम दास अकेला ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर निशाना साधते हुए कहा कि सरकार व उनके समर्थक सुशासन की फुटी ढोल पीटते हैं, पर उनके हीं गृह जिला के एक गांव में तीन अगस्त 15 वर्षीय लड़की को सत्ता संरक्षित गुंडों द्वारा बलात्कार कर हत्या कर दी जाती है। और पुलिस गिरफ्तार करने के बजाय पीड़ित परिवार को हीं धमकी देने में जुटी हुई है।

    उन्होंने पीड़ित परिवार को 4 लाख  मुआवजा और परिवार की सुरक्षा की मांग की और कहा कि इस घटना की कड़ी निंदा करते हैं और सरकार और नालंदा पुलिस अधीक्षक से मांग करते हैं कि बलात्कारियों-हत्यारों को अविलंब गिरफ्तार कर स्पीडी ट्रायल चलाकर कठोर सजा दिया जाय। उन्होंने पीड़ित परिवार को 4 लाख मुआवजा और परिवार की सुरक्षा की मांग की।

    बिहार शरीफ के प्रभारी कॉमरेड पाल बिहारी लाल ने कहा कि जबसे नीतीश कुमार सत्ता में आये हैं राज्य भर में बलात्कारियों की राज कायम हो गई है। उनके ही गृह जिला में इस घृणित घटना की कड़ी निंदा करते हैं और सरकार को चेतावनी देते हैं कि ऐसी  घटनाओं पर एक कानून बनाकर कठोर सजा  दिया जाय जिससे आने वाले समय में इसपर काबू पाया जा सके।

    प्रदर्शन में शामिल इनौस नालंदा जिलाध्यक्ष सह राज्यपरिषद सदस्य व सोसल मीडिया प्रभारी भाकपा माले नालंदा कॉमरेड विरेश कुमार ने कहा की यह सरकार बलात्कारियों की सरकार हैं। इनके हीं संरक्षण में बलात्कारी फल फुल रहे हैं।

    उन्होंने कहा कि एक तरफ महिला सशक्तिकरण की बात करनेवाली नीतीश कुमार के गृह जिले के महिलाओं को घर से निकलना दुष्वार हो रहा है। शौच के लिए घर से निकली छात्रा को उठाकर सत्ता संरक्षित गुंडे ले गए और बलात्कार कर हत्या कर दिया पर पुलिस उसे बचाने में लगी हुई है।

    वहीं उपस्थित इनौस के जिला सह सचिव व ठेला फुटपाथ भेंडर्स यूनियन के नेता रामदेव चौधरी ने कहा कि अगर आठ दिन में अपराधियों की गिरफ्तारी नहीं होती तो इनौस आंदोलन तेज करने के लिए तैयार है।

    आइसा के जिला संयोजक जयंत आनंद ने कहा की सरकार बेटी पढ़ाओ बेटी बचाओ का नारा देने वाली सरकार नालंदा की छात्रा से हुई बलात्कार पर चुप्पी साधे हुए हैं हम कड़ी निंदा करते हैं और मांग करते हैं कि इस तरह की घटना बरदाश्त नहीं किया जाएगा।

    इस विरोध प्रदर्शन में उपस्थित सुबोध पंडित, रिंकू देवी,संगीता देवी,मनोरमा देवी,शिवशंकर प्रसाद भाकपा माले हिलसा,सुनील कुमार भाकपा माले जिला कमेटी सदस्य,बखोरी प्रसाद,गीरजा देवी एपवा जिला संयोजक नालंदा,एवं सैंकड़ों लोग उपस्थित हुए।