अन्य

    नगरनौसा प्रखंड क्षेत्र में भयमुक्त चुनाव करवाने की हो रही यूं व्यापक प्रशासनिक तैयारी

    नगरनौसा (नालंदा दर्पण )। नगरनौसा प्रखंड में तीसरे चरण में होने वाले त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव को लेकर प्रशासन पूरी तरह मुस्तैदी से काम कर रही हैं।

    बीडीओ प्रेम राज ने बताया कि पंचायत चुनाव स्वतंत्र, निष्पक्ष एवं शांतिपूर्ण कराना सर्वोच्च प्राथमिकता है। भयमुक्त,निष्पक्ष और शांतिपूर्ण पंचायत चुनाव के लिए संबंधित कर्मी को सभी आवश्यक कार्रवाई सुनिश्चित कराने के निर्देश दिए गए हैं।

    मतदान के दिन इन लोगों पर रहेगी विशेष नजर, बनाई जा रही लिस्टः पंचायत चुनाव को शांतिपूर्ण तरीके से कराए जाने को लेकर चुनाव आयोग के अलावा पुलिस अफसर भी सतर्क हो गए हैं। आयोग के निर्देश पर पुलिस अफसरों ने इसके लिए अभी से कमर कस ली है।

    थानाध्यक्ष नारदमुनि सिंह ने बताया कि चुनाव को शांतिपूर्ण माहौल में संपन्न कराये जाने को लेकर असमाजिक तत्वों व शरारती तत्वों पर अभी से ही कार्रवाई शुरू कर दी गई है।संदिग्धों पर भी नजर रखी जा रही है।लगातर वाहन चेकिंग अभियान चलाया जा रहा है।

    वार्ड सदस्य के लिए होगा कड़ा मुकाबलाः पंचायत चुनाव में मुखिया पद के बाद सबसे अधिक टशन वार्ड सदस्य पद पर है। मुख्यमंत्री सात निश्चय योजना में वार्ड सदस्य को मिले अधिकार के बाद से वार्ड सदस्य भी महत्वपूर्ण पद माना जाने लगा है।

    पहले इस पद से उम्मीदवार नहीं मिलते थे वही इस वर्ष एक वार्ड से कई कई लोग अभी से मैदान में आ गए है। अच्छी बात यह है की युवा वर्ग का रुझान वार्ड सदस्य के पद पर तेजी से बड़ा है। वहीं इस पद पर गांव के संभ्रात लोग भी सामने आ रहे है।

    अगली बार बदल जाएगा आरक्षण की स्थितिः अगली बार के पंचायत चुनाव में पंचायतों का आरक्षण कोटी बदल जाने की प्रबल संभावना है। इसको लेकर अनारक्षित सीटों पर वर्तमान मुखिया के लिए अपना सीट वरकरार रखने का दवाव है।

    मुखिया पद के प्रतिद्वंद्वी भी मौके का लाभ उठा लेने की योजना बनाने में जुट गए है। यही कारण है कि इन्ही सीटों पर घमासान भी अधिक है। आरक्षण वाले पंचायत में चुनावी चर्चा में तेजी कम दिखती है तो उम्मीदवार की संख्या भी अभी कम दिख रही है। अनारक्षित अन्य वाले सीटों पर अनारक्षित महिला वाली सीटों से अधिक टसल होने की बात कही जा रही है।

    पंचायत चुनाव की तैयारी में प्रखंड कार्यालय जुट गया है। चुनाव को लेकर सभी कार्यों को तेजी से पूरा किया जा रहा है। बुधवार को प्रखंड कार्यालय परिसर में मुखिया, समिति सदस्य, सरपंच, पंच और वार्ड सदस्य के आरक्षित कोटी की सूची चस्पा कर दी गई।

    हालांकि आरक्षण कोटी में इस बार कोई बदलाव नहीं है। पिछले वर्ष सभी पदों पर जिस आरक्षण कोटी में चुनाव सम्पन हुआ था इस बार भी आरक्षण कोटी वही है।

    पंचायत चुनाव को लेकर 9 सेक्टर का हुआ गठनः पंचायत चुनाव को लेकर नगरनौसा प्रखंड क्षेत्र में सेक्टर मजिस्ट्रेटों की प्रतिनियुक्ति का काम पूरा हो गया है। यहां कुल 9 सेक्टर मजिस्ट्रेटों की प्रतिनुक्ति की गई है।

    इस बात की जनकारी देते हुए निर्वाची पदाधिकारी सह बीडीओ प्रेम राज ने बताया कि नगरनौसा प्रखंड क्षेत्र में कुल 9 पंचायत हैं। प्रत्येक पंचायत को अलग अलग सेक्टरों में बांटा गया है। हर पंचायत स्तर पर सेक्टर का गठन किया गया है। सभी सेक्टरों में एक एक सेक्टर मजिस्ट्रेट की तैनाती की गई है।

    बीडीओ प्रेम राज ने बताया कि प्रखंड स्तरीय पदाधिकारी एवं किसान समंवयक को सेक्टर मजिस्ट्रेट की जिम्मेवारी सौंपी गई है। बीडीओ ने बताया कि सभी सेक्टर मजिस्ट्रेटों को बूथों का अवलोकन करने तथा वहां विद्यमान मूलभूत सुविधाओं की जानकारी देने का निर्देश दिया गया है। उन्हें निर्देशित किया गया है कि बारिश के कारण किसी बूथ तक आने जाने वाली सड़क टूटी हो तो उसकी भी जानकारी दें।

    पंचायत चुनाव को लेकर 13 कोषांगों का गठनः त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के भयमुक्त व निष्पक्ष संपन्न कराने के लिए नगरनौसा निर्वाची पदाधिकारी सह बीडीओ प्रेम राज  ने कुल 13 कोषांगों का गठन किया है।

    कोषांगों के गठन के साथ सभी कोषांग के लिए नोडल पदाधिकारी,सहायक नोडल पदाधिकारी सहित कर्मियों को प्रतिनियुक्त किया गया हैं।

    यहाँ कुल 13 निर्वाचन केंद्र क्रमश: कार्मिक प्रबंधन कोषांग,वाहन प्रबंधन कोषांग,सामग्री प्रबंधन कोषांग,सामग्री प्रबंधन कोषांग,AMF कोषांग  एवं स्वीप कोषांग,विधि-व्यवस्था प्रबंधन कोषांग  एवं आदर्श आचार संहिता कोषांग,प्रखंड हेल्प लाइन सह नियंत्रण कक्ष कोषांग,प्रतिवेदन एवं कम्प्यूटरराइजेशन कोषांग,ई0वी0एम0 /  मतपेटिका कोषांग,कोविड नियंत्रण कोषांग,EVM प्रशिक्षण कोषांग,पुलिस CPMF कोषांग,व्यय लेखा कोषांग,प्रखंड नौमीनेशन कक्ष कोषांग का गठन किया गया है।

    सभी कोषांग के लिए नोडल पदाधिकारी,सहायक नोडल पदाधिकारी सहित कर्मियों को प्रतिनियुक्त किया गया है।