अन्य

    उपेन्द्र रविदास हत्या कांड को लेकर भाकपा माले का आक्रोश मार्च, अंचल कार्यालय पर प्रदर्शन

    चंडी (नालंदा दर्पण )। चंडी थाना क्षेत्र के बहादुरपुर में एक महादलित मजदूर की पीट पीट कर हत्या मामले में न्याय को लेकर भाकपा माले ने आक्रोश मार्च निकाला और चंडी अंचल कार्यालय पर प्रदर्शन भी किया।

    बता दें कि बीते 22 अगस्त की शाम मजदूरी की मांग करने पर कुछ लोगों ने उपेन्द्र रविदास की हत्या कर दी गई थी। उसी के विरोध में भाकपा माले की ओर से विरोध मार्च और प्रदर्शन किया गया। भाकपा माले ने परिजनों को दस लाख मुआवजा और मृतक की पत्नी को सरकारी नौकरी देने की मांग की।

    भाकपा माले हरनौत विधानसभा प्रभारी रामदास अकेला ने कहा कि  बिहार में सुशासन की सरकार है, पर सच्चाई कुछ और है जो उनके हीं गृह विधानसभा क्षेत्र हरनौत के चंडी थाना क्षेत्र के बहादुर पर गांव में अपने कमाए हुए मजदूरी मांगने पर उपेंद्र रविदास की निर्मम हत्या कर दिया गया। इतना हीं नहीं आए दिन हत्या, बलात्कार,राहजनी की घटनाओं में बहुत तेजी से  इजाफा हुआ है और इसे रोकने में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की पुलिस घटनाओं को रोकने में नाकाम साबित हो रही है।

    प्रदर्शन में आए मुख्य अतिथि पाल बिहारी लाल ने कहा कि बिहार में जंगल राज चल रही है इनके साशन में छात्र, छात्राएं किसान मजदूर कोई सुरक्षित नहीं हैं। प्रति दिन खुलेआम निर्दोषों को गोलियों से छलनी कर दिया जा रहा है पर पुलिस कुछ नहीं कर रही है। सरकार व पुलिस की रवैये से जनता परेशान है।

    उन्होंने सरकार से  उपेंद्र रविदास के हत्यारों को कड़ी से कड़ी सजा देने की मांग की है।

    प्रदर्शन में उपस्थित भाकपा माले के वरिष्ठ नेता  नगीना पासवान ने कहा कि बिहार में जंगल राज चल रहा है। हर तरफ हत्या बलात्कार व राहजनी बदमाशों द्वारा किया जा रहा है। अगर सुशासन की सरकार यही है तो हम ऐसी सुशासन की सरकार को बहिष्कार करते हैं और हत्या बलात्कार की घटनाओं पर तुरंत रोकथाम करने की मांग करते हैं।

    सभा में उपस्थित लिडींग टीम के नेता सुखनंदन पासवान ने कहां की जब से बिहार में एनडीए की सरकार बनी है, तब से राज्य में हत्या बलात्कार की घटनाओं में काफी वृद्धि हुई है। खासकर ऐसी घटनाओं में ज्यादातर सत्ता संरक्षित बदमाशों द्वारा घटनाओं का अंजाम दिया जाता रहा है, पर सरकार इस पर चुप्पी साधे हुए है।

    इस प्रदर्शन में  कालीचरण दास, बुन्देला रविदास, सियाशरण दास, सुरज मंडल, विरेंद्र रविदास, बिना देवी, मुकेश रविदास, पाल बिहार लाल जिला कमेटी सदस्य भाकपा माले व अभाकि महासभा जिलासचिव नालंदा एवं समर्थक, कार्यकर्ता उपस्थित थे।