अन्य

    नगर पंचायत की सड़क पर यूं बह रहा है पेयजल, विकास योजनाओं में लूट का आरोप

    इसलामपुर (नालंदा दर्पण)। इसलामपुर नगर पंचायत में पाइप लीकेज से सड़क पर पीने का पानी बहता है। इसे देखने वाला यहाँ न कोई प्रशासनिक अफसर है और न ही कोई जनप्रतिनिधि। सबको विकास योजनाओं  में  सिर्फ लूट खसोट करने से ही मतलब रह गया है। 

    स्थानीय बाजार के पुरानी नगर पंचायत कार्यालय के पास सात निश्चय के तहत लोगों के बीच पेयजल उपलब्ध करवाने के लिए वोरिंग करवाया गया था। ताकि लोगों को स्वच्छ पेयजल की सुविधा मिल सके।

    इसके लिए पाइप लाइन बिछाकर कुछ घरों तक पानी उपलब्ध करवाया गया था। लेकिन हालत यह है कि वोरिंग के पास पाइप लीक कारण सडकों पर हजारो लीटर पानी की बर्वादी हो रही है। जिसे देखने वाला न कोई पदाधिकारी है और न ही कोई जनप्रतिनिधि।

    यहँ पेयजल के लिए जैसे ही मोटर चालू किया जाता है। वैसे ही लीकेज पाइप से सड़क पर पानी का बहाव शुरु हो जाता है। जिसके कारण लोगों के घरों में नल से जल मिलना एक समस्या बनकर रह गया है, सड़कों पर चलना मुश्किल।

    स्थानीय लोगो का कहना है कि यहाँ असल में विकास के नाम पर लूट खोसट जारी है। जिसे देखने वाला कोई नहीं है। यही वजह है कि पदाधिकारी से लेकर जनप्रतिनिध तक अनजान बने बैठे रहते है। जिसका खामियजा आम लोगो को भुगतना पड़ रहा है।

    इधर वार्ड पार्षद प्रतिनिधि अरविंद प्रसाद ने कहा कि इसकी सूचना नगर पंचायत कार्यालय पदाधिकारी को दिया गया है। लेकिन अब तक कुछ नहीं हो सका है।

    वहीं राजद नगर अध्यझ उपेंद्र प्रसाद यादव ने कहा कि यदि वरीय पदाधिकारी द्धारा निष्पक्ष रुप से सीएम सात निश्चय योजना के साथ नगर में पड़ताल करवाई जाए तो यहाँ विकास कार्यो में बडे पैमाने पर की गयी गड़बड़ी का पर्दाफाश होना तय है।

    प्रायः सभी थानों में हुई शांति समिति बैठक में कोविड-19 गाइडलाइन की उड़ी धज्जियाँ

    राजगीर बबुनी कांड : उपर वाले के घर देर है, अंधेर नहीं 

    राजगीरः पर्यटक की हुई नृशंस हत्या मामले में 3 धराए

    Comments