अन्य

    आंध्र प्रदेश के एलुरू की पोरस केमिकल फैक्ट्री की आग में नालंदा के 4 लोग की जलकर मौत

    नालंदा दर्पण डेस्क। आंध्र प्रदेश के एलुरू जिले में एक केमिकल फैक्ट्री में ब्लास्ट की घटना में छह मजदूरों की जिंदा जलकर मौत हो गई है। ब्लास्ट के बाद लगी भीषण आग में 12-13 मजदूर अभी घायल बताए जा रहे हैं। घायलों में सबसे अधिक बिहार के ही मजदूर हैं।

    वहीं बिहार के नालंदा जिले के रहने वाले 4 मजदूरों की जिंदा जलकर मौत हो चुकी है। घटना के बाद मृतकों के घर में कोहराम मच गया है।

    आंध्र प्रदेश के केमिकल फैक्ट्री लगी आग में नालंदा (बिहार) के जिन चार मजदूरों की मौत हुई है, उसमें नरसंडा गांव के दो और हरनौत इलाके के दो मजदूर शामिल हैं।

    मृतकों में कारु रविदास (गांव- नरसंडा), मनोज कुमार (गांव- रामसन), सुवास रविदास (गांव- नरसंडा) और हबदास रविदास (गांव- बसनीमा) शामिल हैं। परिवार वालों को जब मौत की सूचना मिली तो हड़कंप मच गया।

    मृतक कारु रविदास के पिता ने कहा कि सूचना मिली कि रात के 11 बजे के करीब उनका बेटा जल गया है। चार बजे सुबह वे लोग निकले थे, तब पता चला कि इस तरह की घटना हो गई है। अभी 15 दिन पहले ही घर से गया था। दस साल से अधिक समय हो गया उसे वहां काम करते हुए।

    एलुरू एसपी राहुल देव शर्मा के अनुसार फैक्ट्री में नाइट्रिक एसिड और मोनो मिथाइल के रिसाव के कारण आग लगी और इसके परिणाम से विस्फोट हो गया। अक्किरेड्डी गुडेम में पोरस केमिकल फैक्ट्री में गैस लीक होने से धमाके के साथ रिएक्टर फटने से भीषण आग लग गई।

    इस दौरान फैक्ट्री में काम कर रहे छह लोगों की मौत हो गई। फैक्ट्री में आग में झुलस कर पांच लोगों की मौत। अस्पताल ले जाते समय एक मजदूर की मौत हो गई है। 12 से 13 मजदूरों की हालत गंभीर है।

    थरथरी में श्रीराम पेट्रोल पंप के कर्मियों के साथ मार-पीट कर 3 लाख की लूट

    नगरनौसाः भाजपा कार्यकर्ताओं ने यूं धूमधाम से मनाया पार्टी स्थापना दिवस

    1051 कलश के साथ निकाली गई भगवान सूर्य कलश शोभा यात्रा

    करोड़ों की संपत्ति का मालिक बना कन्हैया निकला नकली वारिस, 41 साल बाद आया फैसला

    इसलामपुर प्रखंड परिसर भवन में यूं लाइन में खड़े होकर नालंदा सासंद ने डाले वोट

    Comments