अन्य

    सफाईकर्मियों की बेमियादि हड़ताल जारी, नरक पंचायत में तब्दील हुआ इसलामपुर

    इसलामपुर (नालंदा दर्पण )। इसलामपुर नगर पंचायत के सारे सफाईकर्मी अपनी 12 सूत्री मांगों को लेकर बीते 7 सितंबर से हड़ताल पर हैं।

    नगर पंचायत सफाई निरीक्षक संतोष कुमार उर्फ पुटू ने बताया कि बिहार लोकल बॉडीज कर्मचारी संयुक्त संघर्ष मोर्चा के आवाहन पर सारे सफाईकर्मी 12 सूत्री मांगों को लेकर सात सितंबर से अनिश्चितकालीन हडताल पर है।

    उन्होंने बताया कि सरकार से सफाईकर्मियों की सेवा का सरकारीकरण करने के साथ सेवानिवृत सफाईकर्मियो का पद बहाल रखने के अलावे 3 माह पर सफाइकर्मियों को मेडिकल जांच करवाने, कार्य के दौरान मौत होने पर 10 लाख मुआवजा देने आदि मांगे शामिल है।

    सफाइकर्मी  प्रवीला देवी, रेणु देवी, लझ्मण, निशी देवी, सुनील, रोहित, रंजीत आदि  ने कहा कि मांगें पूरी नहीं होने तक वे लोग एकजुट होकर हड़ताल पर रहेंगे।

    इनका कहना है कि कोरोनाकाल के समय मे हमलोग जान को जोखिम में डालकर इस नगर को साफ सफाई कर सुंदर तरीके से रखने मे अहम भुमिका निभाया था। फिर भी सरकार इसे नजर अंदाज कर रही है। जिसके कारण हर तरफ गदंगी जिस तरह से फैल रही है।

    बहरहाल सफराईकर्मियों की हड़ताल से इसलामपुर नगर पंचायत स्वंय नरक पंचायत में तब्दील होता जा रहा है। जिससे कभी भी इस नगर में महामारी फैल सकता है।

    नगर के लोगों का कहना है कि गंदगी से वातावरण प्रदुषित हो रहा है। जिससे संक्रमक बीमारी फैलने की आशंका है।

    इधर नगर पंचायत के कार्यपालक दीनानाथ ने बताया कि सफाईकर्मियों के हडताल पर चले जाने से नगर म साफ सफाई की कार्यो मे बाधा उत्पन्न हो गया है। इसकी वजह से लोगों को परेशानी का सामना करना पड रहा है।

    उड़ता विकासः ‘करोड़िया’ कैला पंचायत के वार्ड नंबर-12-13 का हाल देखिए, विधायक जी का गाँव है
    न्यायिक आदेश की अवहेलनाः बिहार थाना के दारोगा पर प्रपत्र ‘क’ गठित, एसपी ने की कार्रवाई  
    शराब बिक्री-जमाखोरी के दोषी महिला को 5 वर्ष की जेल, 1 लाख का जुर्माना
    तीज अर्चना कर सुहागिनों ने भगवान शिव से माँगी अमरत्व सुहाग का वरदान, जानिए क्या है पार्वती कथा
    मुंगेर के लिए विरमित हुए राजगीर SHO दीपक कुमार, नालंदा जिला से विलोपित करने का आदेश

     

    Comments