अन्य
    Sunday, July 21, 2024
    अन्य

      यहां कैसे पड़ेगा भगवान भास्कर का अर्घ, सुविधा-व्यवस्था सब है नदारत !

      इसलामपुर (नालंदा दर्पण)। इसलामपुर प्रखंड के वरदाहा पंचायत के अर्जुन सेरथुआ गांव के पास नदी किनारे छठव्रतियों द्वारा अर्घ दिया जाता है। लेकिन यहां कोई सुविधा-व्यवस्था नहीं दिख रही है।

      islampur chhath news 1ग्रामीणो का कहना है कि घाट पर पर वर्षों से अर्घ देने का सिलसिला चला आ रहा है। और इस गांव के अलावे गया, जहानाबाद जिला क्षेत्र से लोग आकर अर्घ देते है। लेकिन पंचायती राज कायम होने के बाद भी इस जगह पर छठव्रतियों की सुविधा के लिए जनप्रतिनिधियों द्वारा कोई कदम नहीं उठाया गया है।

      हालत यह है कि पेयजल के लिए बने हैंडपम्प से उपकरण गायब है और कपड़ा बदलने वाली चेंजिग रुम की हालत जर्जर है। घाट पर जाने के लिए मेढ़ है। उसी पगदंडियों के सहारे लोग पैदल चलकर नदी की तट पर पहुँचेगे और भगवान भास्कर को अर्घ प्रदान करेंगे। आखिर इस हालत में यहां लोग कैसे अर्घ देगें?

      पूजा प्रबंध समिति से लेकर जनप्रतिनिधि-प्रशासन सब कुंभकर्णी निंद्रा में सोए हैं। जिसका खामियाजा छठव्रतियों को भुगतना पडेगा। फिलहाल यह समस्या लोगो के बीच चर्चा का विषय बना हुआ है।islampur chhath news 3 islampur chhath news 4

      संबंधित खबर

      error: Content is protected !!